यदि कांग्रेस में लोकतंत्र है तब परिवार से बाहर के किसी व्यक्ति को पार्टी अध्यक्ष बनाएं - मोदी

अंबिकापुर (छत्तीसगढ़) (भाषा) - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस को चुनौती दी है कि यदि कांग्रेस में लोकतंत्र है तो वह कम से कम पांच साल के लिए परिवार से बाहर किसी को पार्टी का अध्यक्ष बना दे। मोदी ने शुक्रवार को सरगुजा के जिला मुख्यालय अंबिकापुर में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए गांधी परिवार पर परोक्ष रूप से निशाना साधा। उन्होंने कहा कि" उन्हें लगता है कि अंग्रेज हिंदुस्तान उनके परिवार के नाम पर लिख कर गए थे। लेकिन यह बात अब उनके गले नहीं उतर रही है कि साढ़े चार साल हो गए हैं और वह 440 से 40 हो गए हैं।"

प्रधानमंत्री मोदी आजकल अपने भाषण में भ्रष्टाचार की बात नहीं करते - राहुल गांधी

भोपाल (भाषा) - कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आजकल अपने भाषण में भ्रष्टाचार की बात नहीं करते हैं, जैसा कि वह सत्ता में आने से पहले किया करते थे। मध्यप्रदेश के सागर जिले के देवरी में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए गांधी ने कहा, ‘‘मैं मोदी जी से मिला था और उनसे पूछा था कि किसानों का कर्ज माफ क्यों नहीं किया। मोदी जी ने मेरे सवाल का जवाब नहीं दिया, इस पर वह एक शब्द नहीं बोले। मगर हिन्दुस्तान के सबसे अमीर लोगों का 3.50 लाख करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया। मगर अभी 12 लाख करोड़ रुपया बचा है और नरेन्द्र मोदी जी आहिस्ते-आहिस्ते इन सब बड़े उद्योगपतियों का 12 लाख करोड़ रुपये का कर्ज माफ करेंगे।’’

चक्रवात गज ने तमिलनाडु में 11 लोगों की जान ली - पलानीस्वामी

सलेम (भाषा) - मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने शुक्रवार को कहा कि तमिलनाडु तट पार कर चुके भीषण चक्रवाती तूफान ‘गज’ ने 11 लोगों की जान ले ली। गज ने शुक्रवार तड़के नागपट्टिनम और वेदारण्यम के बीच तट पार किया जिससे भारी बारिश हुई और खासतौर से नागपट्टिनम में संचार तथा बिजली ढांचे को गंभीर नुकसान पहुंचा। सलेम में संवाददाताओं से बातचीत में पलानीस्वामी ने कहा कि युद्ध स्तर पर राहत कार्य चलाया जाएगा और काम अब भी चल रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘सरकार को सूचना मिली है कि अभी तक 11 लोगों की मौत हो गई।’’ उन्होंने आगे कोई विस्तृत जानकारी नहीं दी। उन्होंने कहा कि मृतकों के परिवार को मुख्यमंत्री सार्वजनिक राहत कोष से 10-10 लाख रुपये की वित्तीय सहायता दी जाएगी।

सीबीआई प्रमुख पर सीवीसी की रिपोर्ट के कुछ अंश प्रतिकूल, निदेशक सोमवार तक जवाब दें - न्यायालय

नयी दिल्ली (भाषा) - उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को कहा कि सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा के खिलाफ आरोपों पर केन्द्रीय सतर्कता आयोग की रिपोर्ट काफी विस्तृत है और इसके निष्कर्षो में कुछ ‘अनुकूल’ और कुछ ‘बहुत ही प्रतिकूल’’ हैं जिनकी आयोग द्वारा आगे जांच करने की आवश्यकता है। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई, न्यायूर्ति संजय किशन कौल और न्यायमूर्ति के एम जोसफ की पीठ ने केन्द्रीय सतर्कता आयोग की गोपनीय रिपोर्ट सीलबंद लिफाफे में आलोक वर्मा को देने का आदेश दिया है। साथ ही उनसे सोमवार तक सीलबंद लिफाफे में ही इस पर जवाब मांगा है। इस मामले में अब मंगलवार को आगे सुनवाई की जायेगी।

धवन ने सात बार चंडीगढ़ से लड़ा लोकसभा चुनाव, हर बार नई पार्टी से

चंडीगढ़ (अखिल वोहरा) - शहर में 40 साल या इससे ज्यादा समय से रहने वाले लोगों के लिए हरमोहन धवन का नाम नया नहीं होगा। अब तक चंडीगढ़ के सात बार लोक सभा चुनाव लड़ चुके हैं। लेकिन, हर बार अगल पार्टी से। सात बार चुनाव जरूर लड़ा, लेकिन जीत एक बार ही नसीब हुई। केंद्र में मंत्री भी बने। लेकिन, बहुत ही कम समय के लिए सांसद व मंत्री रहे। अब उन्होंने चंडीगढ़ से आठवीं बार लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर ली है। और हर बार की तरह इस बार भी वह एक नई पार्टी से चुनाव लड़ेंगे। इस बार आम आदमी पार्टी से। धवन के समर्थक कहते हैं कि भाजपा में उनकी अनदेखी हो रही है। इसलिए दस साल बाद वह भाजपा से अपना नाता तोड़ रहे हैं।