Follow us on
Wednesday, June 03, 2020
BREAKING NEWS
कोविड-19 मरीजों के लिए खाली बिस्तरों की जानकारी देने के लिए दिल्ली कोरोना ऐपप्रधानमंत्री ने चक्रवात निसर्ग के मद्देनजर महाराष्ट्र, गुजरात के मुख्यमंत्रियों से बात कीपंजाब में अति वांछित गैंगस्टर गिरफ्तारजेसिका लाल हत्याकांड में उम्रकैद की सजा काट रहे दोषी सिद्धार्थ शर्मा उर्फ मनु शर्मा रिहाएक देश-एक राशन कार्ड से जुड़े ओडिशा, सिक्किम, मिजोरम - पासवानकोविड-19: देश में संक्रमितों की संख्या 1,98,706 हुई और मृतकों की संख्या 5,598 पहुंचीरीजीजू ने खेलो इंडिया सामुदायिक कोच विकास कार्यक्रम को शुरू कियाभारत की क्षमता, संकट प्रबंधन पर है भरोसा, निश्चित ही हम अपनी वृद्धि वापस हासिल करेंगे - मोदी
Shimla
हिमाचल जल्द ही कोरोना मुक्त राज्य बनेगा - जयराम ठाकुर

शिमला - हिमाचल के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने प्रदेश के लोगों का कोविड-19 महामारी से निपटने में सहयोग देने के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान में प्रदेश में कोविड-19 के केवल आठ मामले रह गए हैं। उन्होंने आशा व्यक्त की कि अगले कुछ दिनों में प्रदेश कोरोना मुक्त राज्य बन जाएगा।

हिमाचल में दो लोगों ने जीती कोरोना की जंग, अब 8 लोग संक्रमित - आर डी धीमान

शिमला - हिमाचल प्रदेश में पिछले सात दिनों से कोई नया मामला पाॅजिटव नहीं आया है। दो लोगों की रिपोर्ट नेगटिव आई है जिससे अब राज्य में कुल आठ लोग संक्रमित रह गए है। जबकि 27 लोग ठीक होकर घरों को चले गए है।

रोहतांग के समीप राहनीनाला में गिरा हिमस्खलन, घंटों फंसे रहे वाहन

शिमला - हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले के मनाली के समीप राहनीनाला में हिमस्खलन गिरने से सात घंटे तक मार्ग बंद रहा, जिसे दोहपर बाद खोल दिया गया। इस दौरान सैंकड़ों वाहन सड़क पर फंसे रहे। गुरूवार को अलसुबह हिमस्खलन से करीब 55 वाहन मढ़ी में रोक दिए गए। बीआरओ कंमाडर उमा शंकर ने बताया कि सुबह के समय राहनीनाला में हिमस्खलन गिरने से रोहतांग मार्ग अवरूद्ध हो गया था, जिसे दोपहर बाद खोल दिया गया है। उल्लेखनीय है कि रोहतांग बहाल होने के बाद किसानों और बागवानों को लाहौल भेजा जा रहा है।

बाहरी राज्यों से आने वाले व्यक्ति ने सूचना छुपाई तो होगी कार्रवाई - डीजीपी

शिमला - हिमाचल पुलिस के डीजीपी एसआर मरड़ी ने कहा कि जो लोग बाहरी राज्यों से हिमाचल में आए हैं और अभी तक प्रशासन को सूचित नहीं किया है, तो तुरंत सूचित करें। उन्हें क्वारंटाइन  में रखा जाएगा। अगर कोई व्यक्ति इस बात का छिपाता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।