Follow us on
Wednesday, December 13, 2017
Business

जनवरी से डाकघरों में बनवा सकेंगे आधार, पटना से हो रही है शुरूआत

December 05, 2017 06:56 AM

पटना - केंद्र सरकार पटना सहित बिहार को एक बहुत बड़ा तोहफा देने की तैयारी में है। यह तोहफा आधार कार्ड से संबंधित है। अब तक जिन लोगों का आधार कार्ड नहीं बना है ये खबर उन लोगों के लिए भी है। अब ऐसे लोगों को आधार कार्ड बनवाने के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। जनवरी 2018 से नजदीकी डाकघरों में जाकर आप आधार कार्ड बनवा सकते हैं। यह सुविधा देश के सभी डाकघरों में भी शुरू हो रही है। देश स्तरीय इस सुविधा की शुरूआत बिहार के पटना से हो रही है।

बिहार डाक सर्किल में करीब 10 करोड़ रुपये की लागत से 1057 डाकघरों में आधार कार्ड सेंटर खोले जाएंगे। इसे सबसे पहले पटना डाक मंडल के प्रधान डाकघर बांकीपुर एवं पटना जीपीओ में शुरू किया जाएगा। इसके बाद 97 उप डाकघरों में लोगों को सुविधा मिलेगी। धीरे-धीरे मंडल के 247 डाक शाखाओं में लोगों को सुविधा मिलेगी। डाक सर्किल आधार कार्ड सेंटर के लिए सभी डाकघरों से रिपोर्ट मांगी गई है। योजना पर काम शुरू हो गया है।

पहले चरण में पटना जीपीओ, बांकीपुर प्रधान डाकघर सहित सभी जिला मुख्यालयों में आधार कार्ड बनना शुरू होगा। इसके बाद अन्य डाकघरों में सेवा शुरू की जाएगी। पटना जीपीओ, बांकीपुर प्रधान डाकघर सहित सभी जिला मुख्यालय डाकघरों में आधार कार्ड सुधारने का काम भी होगा। आधार कार्ड के लिए डाकघर में अगल से काउंटर होगा आधार कार्ड में कोई गड़बड़ी है तो उसके सुधार के लिए आधार कार्ड और एक पहचान पत्र की फोटो कॉपी देनी होगी।

 

अब डाकघरों में आधार कार्ड अनिवार्य हो गया है। बिहार सर्किल के किसी भी डाकघर में अगर खाता खुलवाना है तो आधार कार्ड देना होगा। बिना आधार कार्ड के खाता नहीं खुलेगा। इसके अलावा पुराने खाताधारकों को अपना खाता इस माह तक आधार कार्ड से लिंक करवाने को कहा गया है। बिहार डाक परिमंडल के सहायक निदेशक राजदेव प्रसाद ने बताया कि नए खाता खुलवाने के लिए आधार कार्ड देना अनिवार्य हो गया है।

स्लम बस्ती में खाता खुलवाने के लिए चलेगा अभियान डाक विभाग लोगों से जुडऩे के लिए अधिक-अधिक लोगों को खाता खुलवाने के लिए प्रेरित कर रहा है। इसके लिए शहर के स्लम बस्ती में अभियान चलाकर खाता खुलवाने का काम कर रहा है। इससे लोग अधिक-अधिक पैसे का बचत कर सकेंगे। साथ ही अधिक-अधिक लोग डाकघर से जुड़ सकेंगे। इसके लिए पटना जीपीओ में अलग काउंटर खोला गया है। डाकघर में न्यूनतम 50 रुपया में खाता खुलवा सकते हैं। यह सुविधा बिहार के सभी डाकघरों में है।

कोर बैंकिंग से जुड़ेंगे सभी डाकघर बिहार डाक सर्किल के अंदर आने वाले सभी डाकघरों को इंटरनेट से जोड़ा जा रहा है। ताकि डाकघर खाता धारकों को भी बैंक की तरह सुविधा मिलेगी। बिहार में 787 डाकघरों को कोर बैकिंग से जोड़ दिया गया है। मार्च 2018 तक बिहार के करीब 1057 डाकघरों को कोर बैकिंग से जोड़ दिया जाएगा। डाक विभाग डाकघर को इंटरनेट से जोडऩे के लिए जोर-शोर से काम कर रही है।

Have something to say? Post your comment