Follow us on
Wednesday, December 13, 2017
Haryana

हरियाणा में शव दफनाने को लेकर हंगामा, महिला के शव को निकालना पड़ा कब्र से

December 07, 2017 06:51 AM

करनाल - असंध में ईसाई समुदाय की मृत महिला के दफनाने को लेकर जमकर हंगामा हुआ. परिजन पहले शव को लेकर कस्बे के कॉलेज के पास बनी जमीन में दफनाने के लिए गए. वहां की महिलाओं ने जमीन को अपनी बताते हुए इसका विरोध किया और पथराव कर दिया. इसके बाद ईसाई समुदाय के लोगों ने सड़क जाम कर दिया. इसके बाद उसे जगह दफनाया गया तो इस पर भी लोगों ने हंगामा कर दिया.

अंत में पुलिस ने शव को कब्र से निकाल कर मोर्चरी में रखवा दिया. एक ईसाई महिला की यहां मौत हो जाने के बाद परिजन शव को लेकर कस्बे के कॉलेज के पास बनी जमीन में दफनाने के लिए गए. इसका लोगों ने विरोध किया और विरोध किया. लोगों ने सड़क जाम कर दिया. जाम की सूचना पर नायब तहसीलदार हिम्मत सिंह, सब इंस्पेक्टर धर्मपाल, सचिव महावीर धानियाए नगर पालिका चेयरमैन दीपक छाबड़ा सहित कई पार्षद भी पहुंचे. इसके बाद शव को कॉलेज के पास ही दफना दिया गया.

शव दफनाने के बाद जब लोग वापस जाने लगे तो दूसरे पक्ष ने जाम लगा दिया और हिंसा पर उतारू हो गए. लोगों ने आरोप लगाया कि प्रशासन कॉलेज के पास कब्रिस्तान बनाना चाहता है. तनाव की सूचना पर पुलिस दोबारा मौके पर पहुंची और शव को निकालकर मोर्चरी में रखवा दिया. गत 4 दिसंबर को ईसाई धर्म अपनाने वाले जसवंत सिंह की पत्नी प्यारो देवी की मौत हो गई थी. परिवार के लोग शव को दफनाने के लिए कभी नगरपालिका तो कभी पुलिस थाने के चक्कर काटते रहे.

मंगलवार को नगरपालिका सचिव महावीर धानिया ने जेसी कॉलेज के पास शव दफनाने के लिए एक जगह अस्थायी तौर पर दे दी. इस भूमि पर जैसे ही परिवार के लोग शव दफनाने के लिए पंहुचे तो अनूसूचित व पिछड़ा वर्ग की महिलाओं ने इसे अपनी बताते हुए शव दफनाने का विरोध किया. बाद में नगर पालिका सचिव व चेयरमैन ने कॉलेज के पास शव दफनाने की इजाजत दे दी. शव दफनाने के बाद यहां भी लोगों ने विरोध कर दिया. इसके बाद शव को कब्र से निकालकर मोर्चरी में रखवाया गया.

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
खेलों के विकास के लिए 500 खेल नर्सरियां 1500 खेल व्यायामशालाएं खोली जाएंगी - मुख्यमंत्री
रेयान स्कूल के पिंटो परिवार की जमानत के खिलाफ याचिका खारिज
जी.एस.टी बड़े आर्थिक सुधार के साथ हरियाणा के युवाओं के लिए रोजगार का माध्यम बन रहा है - विपुल गोयल
मीडिया को लोकतंत्र का एक महत्वपूर्ण स्तंभ - खट्टर
ओवरलोडिंग रोकने के लिए ई-चालानिंग से परिवहन विभाग के साथ प्रशासन के अन्य विभाग जुड़ेंगे
हरियाणा में 86000 करोड़ रुपये निवेश के समझौतेः खट्टर
हॉस्पिटल का लाइसेंस रद्द, मैक्स हेल्थकेयर ने फैसले को बताया अनुचित
मुख्यमंत्री फतेहाबाद में 8 व 9 दिसंबर को 75 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे।
मुरथल गैंगरेप मामले में एसआईटी ने हाईकोर्ट को सौंपी सीलबंद रिपोर्ट
शिक्षा की गुणवत्ता सुनिश्चित करना विश्वविद्यालयों का प्रथम लक्ष्य होना चाहिए - सोलंकी