Follow us on
Friday, April 27, 2018
Haryana

रेयान स्कूल के पिंटो परिवार की जमानत के खिलाफ याचिका खारिज

December 12, 2017 08:54 AM

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में छात्र प्रद्युम्न की हत्या के मामले में स्कूल के ट्रस्टी पिंटो परिवार को भारी राहत दी। सर्वाेच्च कोर्ट ने उन्हें पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट से मिली अग्रिम जमानत के खिलाफ छात्र के पिता की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी।

याचिका खारिज करते हुए जस्टिस आरके अग्रवाल और एएम सप्रे की पीठ ने सोमवार को दिए फैसले में कहा कि इस मामले की जांच कर रही सीबीआई ने कभी उनके खिलाफ कोई सबूत पेश नहीं किए। यदि स्कूल प्रशासन की तरफ से कुछ अनमितताएं हुई हैं तो भी हत्या का मामला नहीं बनता। कोर्ट ने यह भी कहा कि मामले का जिस तरह से प्रेस और मीडिया में छाया रहा उससे इस मामले में मीडिया ट्रायल हो रहा था।

ऐसे में इसलिए परिवार का अंतरिम जमानत के लिए सीधे चंड़ीगढ़ हाईकोर्ट चले जाने में कोई परेशानी नहीं है। वह भी तब जब सीआरपीसी की धारा 438 (अग्रिम जमानत का प्रावधान) में हाईकार्ट और सेशन कोर्ट का एकसमान क्षेत्राधिकार है। हाईकोर्ट ने 7 अक्तूबर को उन्हें अंतरिम जमानत दे दी थी। कोर्ट ने कहा कि परिवार को तथ्यों को छिपाने के आरोप भी गलत हैं।

पिंटो परिवार की ओर से दलील दी गई थी कि इस मामले से उनका कोई संबंध नहीं है। वे देश में 50 से ज्यादा स्कूल चलाते हैं। सीबीआई के अनुसार एक छात्र ने दूसरे छात्र की हत्या की, इससे स्कूल के मालिक के खिलाफ हत्या का मामला कैसे बनता है।

वहीं छात्र के पिता के वकील ने कहा था कि ये एक जघन्य अपराध है। पिंटो परिवार बेहद प्रभावशाली है यदि वे ज़मानत पर बाहर रहते है तो सबूतों के साथ छेड़छाड़ और गवाहों को प्रभावित कर सकते हैं। गौरतलब है कि 8 सितंबर को गुरुग्राम के स्कूल में 7 वर्षीय छात्र प्रद्युम्न ही हत्या कर दी गई थी। यह आरोप स्कूल के ही वरिष्ठ छात्र पर है ।

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
मुख्यमंत्री ने की बीपीएल परिवारों को दिये जाने वाले सामान की खरीद एजेंसी के साथ बैठक
इनेलो-बसपा का गठबंधन स्वाभाविक नही - रामबिलास शर्मा
पूरा प्रदेश एक ही परिवार की तरह - मनोहर लाल
आईएएस, आईएफएस और आईपीएस अधिकारियों समाज के प्रति संवेदनशील रहें - मुख्यमंत्री
महिलाओं पर अपराधों पर अंकुश लगाने को प्रदेश सरकार दुर्गा वाहिनी पुलिस दल का गठन करेगी
राज्य के सभी जिलों में अंत्योदय भवन खोले जाएंगे
मीडिया लोकतंत्र का चौथा स्तंभ - मनोहर लाल
सरकार सामाजिक तथा प्रशासनिक व्यवस्था को मजबूत करेगी
सरकार की नई खेल नीति में छोटे से छोटा खिलाड़ी भी नौकरी से वंचित नहीं रहेगा - मुख्यमंत्री
हरियाणा सरकार राष्ट्रमंडल खेलों में राज्य के स्वर्ण पदक विजेताओं को डेढ़ करोड़ रुपए देगी