Follow us on
Thursday, July 19, 2018
BREAKING NEWS
लाइव डिबेट में मौलाना ने एक महिला को पीटाप्रधानमंत्री ने संसद सत्र सुचारू रूप से चलाने के लिये सभी दलों का सहयोग मांगाभीड़तंत्र को नया पैमाना बनने की इजाजत नहीं दी जायेगी: लिंचिंग पर न्यायालय की चेतावनीयदि कोई कानून मौलिक अधिकार का हनन करता है तो उसे निरस्त करना न्यायालय का कर्तव्य : शीर्ष अदालतलोकपाल की तलाश के लिये पैनल गठित करने हेतु चयन समिति की बैठक 19 जुलाई को :केंद्रएनआरआई विवाह के पंजीकरण के बारे में तत्काल सूचित करें राज्य: मेनका गांधीआयुर्वेद को ‘वैज्ञानिक मान्यता’ देने की खातिर आईआईटी दिल्ली और एआईआईए के बीच समझौता हुआशरीफ, उनकी बेटी की अपीलों पर सुनवाई स्थगित ,चुनाव तक रहना होगा जेल में
Punjab

चुनाव आयोग की वेब साइट से साइबर अपराधियों ने लगाई सांसद के खाते में सेंध

December 21, 2017 06:48 AM

एक तरफ सरकार द्वारा साइबर अपराध पर रोक के लिए बड़े बड़े दावे किए जा रहे हैं तो दूसरी तरफ इन अपराधियों के निशाने पर अब चुनाव आयोग की वेब साइट ही आ गई है। वेब साइट से सांसदों के बारें में जानकारी लेकर साइबर अपराधी उनके खातों में सेंध लगा रहे हैं। साइबर अपराधियों का ताजा शिकार पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष व राजसभा सांसद शमशेर सिंह दुलो बने हैं। उनके खाते में सेंध लगाते हुए 27 हजार रुपये निकाल लिए गए हैं। पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है।

शमशेर सिंह उस वक्त साइबर अपराधियों के शिकार बन गए, जब उन्होंने फोन पर ठगी करने वाले शख्स को वन टाइम पासवर्ड (OTP) बता दिया। और तब उनके बैंक अकाउंट से 27,000 रुपये निकाल लिए गए। उन्हें सोमवार को एक शख्स का फोन कर खुद को बैंक मैनेजर बताते हुए उनके बैंक अकाउंट को आधार से लिंक करने की बात कही। उसके बाद मोबाइल पर आए वन टाइम पासवर्ड शेयर करने को कहा। जैसे ही उन्होंने ओटीपी बताया उनके खाते से रकम निकाल ली गई।

शमशेर सिंह ने अपनी शिकायत में बताया है कि जब उन्हें यह फोन आया तब वे अपने दिल्ली के बीडी मार्ग स्थित निवास पर थे। उन्होंने शिकायत में कहा, "मेरा खन्ना पंजाब में खाता है। मुझे मेरे एमटीएनएल के मोबाइल नंबर पर ****048718 से एक फोन आया। कॉलर ने कहा, मेरे खाते को आधार के साथ लिंक करना है और इसके लिए मुझे एक पासवर्ड के जरिये अपनी पहचान सत्यापित करने के लिए कहा"। कॉलर ने उनसे कहा कि उन्हें इसके जरिये अपने घर से आधार लिंक कर देने का विशेषाधिकार दिया गया है। इसके बाद उन्होंने यह पासवर्ड कॉलर को बता दिया। जैसे ही सांसद ने उसे ओटीपी बताया, वैसे ही उस शख्स ने फोन काट दिया। इसके तुरंत बाद उन्हें बैंक की तरफ से एक मैसेज आया, जिसमें उनके खाते से 27 हजार रुपये निकाले जाने की जानकारी मिली। इसके बाद डुल्लो पुलिस के पास पहुंचे और एफआईआर दर्ज कराई।

इस वारदात में सबसे हैरत वाली बात यह है कि शमशेर सिंह ने केवल ओटीपी ही बताया था, उन्होंने खाता नंबर और उससे जुड़ी अन्य जानकारी नहीं दी थी। इसके बावजूद उनके खाते से रकम निकाल ली गई। उन्होंने बताया कि 'जब मैंने आधार से लिंक किए जाने के फायदे के बारे में पूछा, तो उसने तत्काल फोन काट दिया। उसके फोन काटे जाने के बाद बैंक खाते से 27 हजार रुपये निकाले जाने मैसेज आया। मैं चकित रह गया, क्योंकि मैंने कॉलर को बैंक खाते से जुड़ी जानकारी साझा नहीं की थी।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, प्रारंभिक जांच में पता चला है कि साइबर अपराधियों ने चुनाव आयोग समेत अन्य वेबसाइटों से सांसद से संबंधित जानकारियां हासिल कर ली थीं। इसके बाद उन्होंने नेट बैंकिंग के माध्यम से ऑनलाइन धोखाधड़ी करने के लिए सांसद को फोन किया। जब ट्रांजिक्शन प्रोसस में लाई गई, तब अकाउंट से लिंक मोबाइल नंबर पर ओटीपी भेजा गया और सांसद को झांसे में लाने के बाद पैसा निकाल लिया गया।

Have something to say? Post your comment
 
More Punjab News
बरवाला प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में घुसा बरसाती पानी
बिजली मंत्री ने ड्यूटी के दौरान मारे गए कर्मचारियों के आश्रितों को दिए नियुक्ति पत्र
रैस्टोरैंट और फास्ट फूड काउंटर एफ.एस.एस.ए.आई. के तय मानकों के अनुसार खाद्य तेल का प्रयोग करें
राज्य भर में खेल स्टेडियमों का पुन: उत्थान सरकार की मुख्य प्राथमिता- राणा सोढी
गडवासू ने देश में से तीसरा स्थान हासिल करके राज्य के लिए कमाया सम्मान-बलबीर सिंह सिद्धू
ग्रामीण डिस्पैंसरियां तंदुरुस्त पंजाब मिशन के अंतर्गत गाँवों में से नशे को करेंगी समाप्त -बाजवा
पंजाब सरकार अंतरराष्ट्रीय रोजग़ार मेले के दौरान 8500 नौकरियाँ मुहैया करवाएगी- चन्नी
मलोट रैली के दौरान प्रधानमंत्री ने किसानों को पेश समस्याओं का जि़क्र तक नहीं किया -कैप्टन अमरिन्दर सिंह
खट्टर को रैली में साथ बिठाकर अकालियों ने पंजाबियों की पीठ में छुरा घोंपा- सुखजिन्दर सिंह रंधावा
पंजाब के मंत्री का पांव छूने पर एएसआई निलंबित