Follow us on
Friday, April 27, 2018
Himachal

उम्मीदवारों ने वीरभद्र सिंह के सिर फोड़ा ठीकरा

December 23, 2017 08:04 AM

शिमला - विधानसभा चुनाव में करारी हार पर प्रदेश कांग्रेस ने शुक्रवार को मंथन किया। कांग्रेस के चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों के साथ हार के कारणों पर हिमाचल कांग्रेस के प्रभारी सुशील कुमार शिंदे ने चर्चा की। प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी सुशील कुमार शिंदे की अगुवाई में हुई बैठक में सह प्रभारी रंजीत रंजन और प्रदेश अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू भी मौजूद रहे। शिंदे और रंजीत रंजन उम्मीदवारों से अलग-अलग मुलाकात की है। बैठक में चुनाव हारे नेताओं ने चुनाव प्रचार में रही संसाधनोंकी कमी और भितरघात के बारे बात रखी।

कई विधानसभा क्षेत्रों से कांग्रेस उम्मीदवारों ने साफ कहा कि उनके खिलाफ चुनाव में पार्टी के ही नेताओं ने खुलकर प्रचार किया है। इसी वजह से कई सीटें पर कांग्रेस का हार हुई है। नेताओं ने यहां तक कहा कि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है, हर बार चुनाव के दौरान पार्टी के ही नेता एक-दूसरे को हराने में लगते रहते हैं। बैठक में कांग्रेस उम्मीदवारों ने यह भी कहा कि भितरघात को लेकर जिन लोगों के नाम सामने आए हैं उन्हें पार्टी से बाहर किया जाना चाहिए। ऐसे लोगों की कांग्रेस में वापसी न हो।

शिदें द्वारा बुलाई गई बैठक में पूर्व मंत्री जीएस बाली और सुधीर शर्मा नहीं पहुंचे थे। कांग्रेस के ये नेता रहे बैठक में मौजूद : बैठक में ठाकुर कौल सिंह, ठाकुर सिंह भरमौरी, प्रकाश चौधरी, जीआर मुसाफिर, कुलदीप कुमार, राकेश कालिया, कुलदीप पठानिया, रोहित ठाकुर, सोहन लाल, मनसा राम, केवल पठानिया, सुभाष मंगलेट, रवि ठाकुर समेत अन्य हारे हुए उम्मीदवार मौजूद थे।

Have something to say? Post your comment