Follow us on
Monday, July 16, 2018
BREAKING NEWS
किसानों के लिए घड़ियाली आंसू बहाने वालों से पूछें कि सिंचाई परियोजनाएं अधूरी क्यों छोड़ीं - मोदीआज से मिलेगी चंडीगढ़ से कोलकाता के लिए सीधी फ्लाइटरैस्टोरैंट और फास्ट फूड काउंटर एफ.एस.एस.ए.आई. के तय मानकों के अनुसार खाद्य तेल का प्रयोग करेंधोनी की फिनिशिंग पर बार-बार सवाल उठाना दुर्भाग्यपूर्ण - कोहलीपुतिन से अहम सम्मेलन के लिए फिनलैंड पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपतिसांप्रदायिक हिंसा और पीट पीट कर जान लेने की घटना पर प्रधानमंत्री से जवाब मांगेंगे वाम दलभारत, पाक अगले माह रूस में आतंकवाद रोधी एससीओ अभ्यास में हिस्सा लेंगेशहर से दूर जन्मदिन मनाएंगी कटरीना कैफ
Sports

बल्लेबाजी के सभी रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं कोहली- वकार

December 25, 2017 08:22 AM

कराची - पाकिस्तान के पूर्व कप्तान वकार यूनुस ने कहा कि भारतीय कप्तान विराट कोहली आने वाले वर्षों में बल्लेबाजी के सभी रिकॉर्ड अपने नाम कर सकते हैं। वकार ने कहा, कोहली जिस तरह अपनी फिटनेस को को बनाए रखते हैं और जिस एकाग्रता तथा कौशल के साथ खेल का लुत्फ उठाते हैं उससे मुझे लगता है कि आने वाले वर्षों में वह बल्लेबाजी के सभी रिकॉर्ड तोड़ देंगे।

पिछले साल पाकिस्तान का मुख्य कोच पद से इस्तीफा देने वाले इस पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा कि कोहली समकालीन क्रिकेट के सर्वाेच्च प्रतिभावान खिलाड़ी है। अपने समय के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज के बारे में बात करते हुए वकार ने कहा कि पिछले एक दशक में क्रिकेट में काफी बदलाव आया है लेकिन कोहली की फिटनेस के प्रति प्रतिबद्धता और बल्लेबाजी कौशल में सुधार को देखते हुए उन्होंने शीर्ष पर रखा है।

वकार ने कहा, जिस तरह मैं उन्हें देख रहा हूं, वह बल्लेबाजी के बहुत सारे रिकॉर्ड अपने नाम करेंगे। क्रिकेट के दो महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर और ब्रायन लारा की तुलना पर पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने भारतीय खिलाड़ी को बेहतर बताया। उन्होंने कहा, मैंने तेंदुलकर के खिलाफ काफी खेला है। उन्होंने हमारे खिलाफ पदार्पण किया था।

एक पेशेवर के तौर पर मैंने उन्हें कई वर्षों तक देखा है और मैंने वैसा प्रतिबद्ध खिलाड़ी नहीं देखा है। जिन बल्लेबाजों को मैंने गेंदबाजी की है उनमें वह सर्वश्रेष्ठ थे और उनके खिलाफ खेलना चुनौतीपूर्ण होता है।

उन्होंने कहा कि लारा नैसर्गिंक प्रतिभावान खिलाड़ी थे और जब उनका दिन होता था तो वह काफी खतरनाक होते थे। वकार ने कहा कि कप्तान और कोच के तौर पर अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने कभी अनुशासन पर समझौता नहीं किया। उन्होंने कहा, मैं हमेशा मानता हूं कि क्रिकेट में जब तब आप अनुशासित नहीं होंगे आपकी प्रतिभा टीम के लिए किसी काम की नहीं।

Have something to say? Post your comment
 
More Sports News
धोनी की फिनिशिंग पर बार-बार सवाल उठाना दुर्भाग्यपूर्ण - कोहली
भारतीय जूनियर महिला हाकी टीम ने आयरलैंड को 4-1 से हराया
कुलदीप को इंग्लैंड के खिलाफ पहला टेस्ट खेलने की उम्मीद
बीसीसीआई को आरटीआई अधिनियम के तहत क्यो नहीं लाया जाये - सीआईसी
वनडे श्रृंखला में भारत का पलड़ा भारी, चौथे नंबर पर बल्लेबाजी कर सकते हैं कोहली
अरोठे ने खिलाड़ियों के विद्रोह के बाद भारतीय महिला क्रिकेट टीम के कोच का पद छोड़ा
सिंधू, श्रीकांत की नजरें थाईलैंड ओपन खिताब जीतने पर
राष्ट्रीय मुक्केबाजी पर्यवेक्षक अखिल कुमार ने एनआईएस में कोचिंग कोर्स में दाखिला लिया
बेल्जियम फुटबाल की सुनहरी पीढी ने छोड़ी अपनी छाप
टी-20: इंग्लैंड को रौंदकर आज लगातार छठी सीरीज जीतने उतरेगी विराट ब्रिगेड