Follow us on
Thursday, July 19, 2018
BREAKING NEWS
लाइव डिबेट में मौलाना ने एक महिला को पीटाप्रधानमंत्री ने संसद सत्र सुचारू रूप से चलाने के लिये सभी दलों का सहयोग मांगाभीड़तंत्र को नया पैमाना बनने की इजाजत नहीं दी जायेगी: लिंचिंग पर न्यायालय की चेतावनीयदि कोई कानून मौलिक अधिकार का हनन करता है तो उसे निरस्त करना न्यायालय का कर्तव्य : शीर्ष अदालतलोकपाल की तलाश के लिये पैनल गठित करने हेतु चयन समिति की बैठक 19 जुलाई को :केंद्रएनआरआई विवाह के पंजीकरण के बारे में तत्काल सूचित करें राज्य: मेनका गांधीआयुर्वेद को ‘वैज्ञानिक मान्यता’ देने की खातिर आईआईटी दिल्ली और एआईआईए के बीच समझौता हुआशरीफ, उनकी बेटी की अपीलों पर सुनवाई स्थगित ,चुनाव तक रहना होगा जेल में
Haryana

सिविल अस्पताल लैप्रोस्कोपिक आरम्भ करने के अधिकारियों को निर्देश - विज

December 28, 2017 07:31 AM

चण्डीगढ़ - हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि सिविल अस्पताल अम्बाला छावनी में पत्थरी व शरीर के अन्य अंगो के ऑप्रेशन के लिए प्रयोग की जाने वाली लैप्रोस्कोपिक तकनीक को आरम्भ करवाने के लिए अधिकारियों को कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए गये हैं। उन्होंने कहा कि वे इस मशीन के लिए कार्य योजना तैयार करें ताकि अम्बाला जिलावासियों को शीघ्र ही यह सुविधा राजकीय अस्पताल में उपलब्ध हो सके।

श्री विज आज अम्बाला में स्वास्थ्य तथा लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों से अस्पताल भवन के निर्माण की चल रही प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होने कहा कि पत्थरी के ऑप्रेशन के लिए लैप्रोस्कोपिक तकनीक के लिए आम व्यक्ति को निजी अस्पतालों में काफी धनराशि खर्च करनी पड़ती है। उन्होंने कहा कि सिविल अस्पताल में यह सुविधा उपलब्ध होने से गरीब लोगों के साथ-साथ मध्यम व उच्च वर्ग के लोग भी इस तकनीक का लाभ हासिल कर सकेंगे।

स्वास्थ्य मंत्री ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे सिविल अस्पताल अम्बाला छावनी के पुराने भवन को तोडऩे और मलबा हटाने का कार्य भी तेजी से पूरा करें। उन्होने कहा कि इस स्थान पर रिजनल कैंसर टर्सरी सैंटर स्थापित किया जाना है जिसके लिए 40 करोड़ रुपये के बजट का प्रावधान पहले ही किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि यह पूरी भूमि समतल होते ही रिजनल कैंसर टर्सरी सैंटर के भवन का शिलान्यास करवा दिया जायेगा।

उन्होंने अधिकारियों के साथ सिविल अस्पताल के नये भवन के लम्बित रहे मामूली कार्यों को पूरा करने, अस्पताल में यातायात के सुविधाजनक आवागमन के लिए सडकों के निर्माण, सिविल अस्पताल को हॉट लाईन से जोडऩे सहित अन्य बिंदुओं पर भी विस्तृत चर्चा की। अधिकारियों ने बताया कि सिविल अस्पताल में निर्बाध बिजली आपूर्ति के लिए हॉट लाईन से जोड़ा जा चुका है। इसके अलावा, जरनेटरों की भी पर्याप्त व्यवस्था की गई है। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से सिविल अस्पाल में स्थापित की गई कैथ लैब की कार्यप्रणाली व अन्य आधुनिक तकनीक से मरीजों को दी जा रही स्वास्थ्य सेवाओं के बारे में भी जानकारी प्राप्त की। विभाग के अधिकारियों ने बताया कि कैथ लैब में 40 से अधिक ऑप्रश्ेान किये जा चुके हैं।

श्री विज ने अधिकारियों को यह निर्देश भी दिए कि भवन के बेहतर रख रखाव के साथ साफ-सफाई पर भी विशेष बल दें। उन्होंने कहा कि सिविल अस्पताल में सुविधाओं के विस्तार होने से मरीजों की संख्या में बढ़ौतरी हुई है और लोगों का राजकीय स्वास्थ्य सेवाओं के प्रति विश्वास बहाल हुआ है। उन्होने चिकित्सकों को निर्देश दिए कि वे सभी मरीजों को आवश्यक चिकित्सा सुविधा अस्पताल स्तर पर ही प्रदान करें और जब जरूरी हो तभी उन्हें पीजीआई चण्डीगढ़ या मैडिकल कालेज चण्डीगढ़ रैफर करें। इसके अलावा भी उन्होंने स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े अन्य बिंदुओं पर चर्चा की।

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
लाइव डिबेट में मौलाना ने एक महिला को पीटा
केंद्र ने हरियाणा सरकार द्वारा महिला सुरक्षा के लिए किए गए कार्यों की प्रशंसा की
हरियाणा पुलिस चला रही नशा तस्करों के खिलाफ विशेष अभियान
हरियाणा में रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए चार एमओयू पर हस्ताक्षर
मेवात क्षेत्र का पिछड़ा पन दूर करना प्रधानमंत्री व प्रदेश सरकार की है प्राथमिकता
अतिथि अध्यापकों का वेतन को 20 से 25 प्रतिशत बढ़ेगा – शिक्षा मंत्री
बलात्कार या छेड़छाड़ के आरोपी की सभी सुविधाएं होगी निलम्बित - सीएम
छात्र विरोधी है भाजपा सरकार - चौटाला
175 करोड़ रूपए खर्च कर होगी करनाल से पंजाब की कनेक्टिविटी
ट्राईसिटी प्लानिंग बोर्ड स्थापित करने संबंधी खट्टर के सुझाव को कैप्टन ने किया रद्द