Follow us on
Wednesday, July 18, 2018
Haryana

वरिष्ठता सूची बनाकर पंजाबी अध्यापकों को जल्द मिलेगी प्रमोशन - रामबिलास

December 29, 2017 07:47 AM

चंडीगढ़ - हरियाणा के शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा ने कहा कि स्कूलों में पंजाबी अध्यापकों के जल्द प्रमोशन किए जाएंगे तथा वरिष्ठïता सूची भी शीघ्र बनाई जाएगी, इस बारे में आज ही विभाग के निदेशक को निर्देश दे दिए गए हैं। पंजाबी अध्यापक एवं भाषा कल्याण सोसायटी से संबंधित पंजाबी अध्यापकों का एक प्रतिनिधिमंडल बृहस्पतिवार दोपहर बाद शिक्षा मंत्री से यहां सिविल सचिवालय स्थित उनके कार्यालय में मिला और अपनी मांगों से संबंधित एक ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने बताया कि सी.एंड वी. पंजाबी अध्यापकों का 6 मई 1916 को पी.जी.टी पंजाबी के पद पर प्रमोशन हुआ था, परंतु विभाग द्वारा वरिष्ठïता सूची नहीं बनाई गई। जिसके कारण इस प्रमोशन का संबंधित अध्यापकों को कोई फायदा नहीं मिला।

ज्ञापन के माध्यम से जब यह मामला शिक्षा मंत्री के संज्ञान में लाया गया तो इस मामले को शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा ने बड़े ध्यानपूर्वक सुना तथा इसके तुरंत बाद विभाग के निदेशक को पंजाबी अध्यापकों की वरिष्ठïता सूची  बनाने तथा प्रमोशन करने के निर्देश दिए। ज्ञापन सौंपने वाले प्रतिनिधिमंडल में पंजाबी अध्यापक एवं भाषा कल्याण सोसायटी के प्रदेश अध्यक्ष करनैल चंद, सचिव गुरजिंदर सिंह,देवेंद्र मोहन सिंह करनाल, साहब सिंह अंबाला, रणजीत कौर, गुरप्रीत कौर, हरविंद्र कौर समेत पंजाबी भाषा के कई अध्यापक शामिल थे।

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
हरियाणा पुलिस चला रही नशा तस्करों के खिलाफ विशेष अभियान
हरियाणा में रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए चार एमओयू पर हस्ताक्षर
मेवात क्षेत्र का पिछड़ा पन दूर करना प्रधानमंत्री व प्रदेश सरकार की है प्राथमिकता
अतिथि अध्यापकों का वेतन को 20 से 25 प्रतिशत बढ़ेगा – शिक्षा मंत्री
बलात्कार या छेड़छाड़ के आरोपी की सभी सुविधाएं होगी निलम्बित - सीएम
छात्र विरोधी है भाजपा सरकार - चौटाला
175 करोड़ रूपए खर्च कर होगी करनाल से पंजाब की कनेक्टिविटी
ट्राईसिटी प्लानिंग बोर्ड स्थापित करने संबंधी खट्टर के सुझाव को कैप्टन ने किया रद्द
कंप्यूटर टीचर्स और लैब सहायक फिर हुए पुलिस बर्बरता के शिकार, कईयों को पहुँचाया हस्पताल
पंचकूला और मोहाली के विकास के लिए सशक्त प्राधिकरण बनाने की जरूरत – मनोहर लाल