Follow us on
Friday, July 20, 2018
Chandigarh

चंडीगढ़ को 2018 शहर में मिलेंगे नए अस्पताल और स्कूल

January 01, 2018 07:08 AM

चंडीगढ़ (मयंक मिश्रा ) - वर्ष 2017 में चंडीगढ़ को काफी कुछ नया मिला। वर्ष 2018 भी चंडीगढ़ के लिए काफी कुछ लेकर आएगा। इस साल चंडीगढ़वासियों को शहर में कई नए प्रोजेक्ट मिलेंगे जिससे उन्हें कई तरह की सुविधाएं मिलेंगी। पीजीआई में जहां 250 बेड का नया अस्पताल शुरू होगा, वहीं सेक्टर-48 में भी 100 बेड का नया अस्पताल शुरू हो जाएगा। सेक्टर-50 में नई सिविल डिस्पेंसरी शुरू होगी। मार्च से चंडीगढ़ के लोगों को नई दिल्ली तक जाने में कम समय लगेगा। वहीं, सेक्टर-17 से रोज गार्डन अंडरपास से जुड़ जाएगा। ट्रिब्यून फ्लाईओवर बनाने का काम जहां शुरू होगा, वहीं शहर को नए सरकारी स्कूल मिलेंगे। मनीमाजरा में रेड अंडर ब्रिज (आरयूबी) भी 2018 में तैयार हो जाएगा जिससे मनीमाजरा के लोगों को काफी सुविधा मिलेगी। सामर्ट सिटी से जुड़े कई प्रोजेक्ट 2018 में शुरू होंगे। वहीं, शहर में 2018 में खेल की कई नई सुविधाएं शुरू होंगी।

पीजीआई में शुरू होगा 250 बेड का अस्पताल

पीजीआई न्यू ओपीडी गेट के पास बनने वाला 250 बेड का अस्पताल जून 2018 तक बनकर तैयार हो जाएगा। इसके शुरू होने से मरीजों और उनके अटेंडेंट्स को सुविधा होगी। पीजीआई में एडवांस न्यूरो साइंस, एडवांस मदर एंड चाइल्ड केयर सेंटर, सेटेलाइट सेंटर को बनाने का काम भी शुरू हो जाएगा। इसके लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय से लगभग 1475 करोड़ रुपए मंजूर किए जा चुके हैं। पीजीआई में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन और टेलीमेडिसन की सुविधा जहां पर नहीं है वहां पर 2018 में शुरू की जाएगी।  इमरजेंसी में लोगों को ज्यादा परेशानी ना हो इसके लिए सारंगपुर में अलग ब्लॉक बनाने का काम शुरू हो जाएगा। पीजीआई में नई आधुनिक सराय भी 2018 में शुरू हो जाएगी।

रोज गार्डन अंडरपास से जुड़ेगा सेक्टर-17 से

सेक्टर-17 और 16 (रोड गार्डन) को जोड़ने के लिए अंडरपास बनाया जा रहा है। करीब 7 करोड़ की लागत से बनने वाले अंडरपास का काम नवंबर में शुरू कर दिया गया था। इस समय सेक्टर-17 स्थित होटल ताज की तरफ से खुदाई शुरू हो चुकी है। पूरे प्रोजेक्ट को पूरा होने में 6 महीने का समय लगेगा। जुलाई, 2018 तक यह अंडरपास भी बन कर तैयार हो जाएगा। ध्यान रहे कि यूटी प्रशासन ने पहले जनमार्ग को तीन महीने तक पूरी तरह बंद करने का फैसला लिया था, लेकिन इस रोड के बंद होने से ट्रैफिक की समस्या काफी बढ़ गई।

शहर को मिलेंगे नए सरकारी स्कूल

मलोया में दो नए सरकारी स्कूल 2018 में शुरू हो जाएंगे। दोनों ही स्कूलों की इमारत तीन मंजिला होगी। इन स्कूलों का नींव पत्थर रखा जा चुका है। पूरे काम के लिए 30 करोड़ रुपये का प्रपोजल रखा गया है। मलोया में अभी तक एक ही गवर्नमेंट मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल है। इसमें करीब चार हजार विद्यार्थी पढ़ाई कर रहे हैं। विद्यार्थियों की संख्या ज्यादा होने के कारण उन्हें सेक्टर-40 और डड्डूमाजरा के स्कूलों में जाना पड़ता है। इन दो स्कूलों के निर्माण से बच्चों को मलोया से बाहर नहीं जाना पड़ेगा। इसके अलावा रायपुर कलां और मनीमाजरा में भी नए सरकारी स्कूल शुरू हो जाएंगे। 

ट्रिब्यून फ्लाईओवर बनाने का काम होगा शुरू

ट्रिब्यून राउंड अबाउट के लिए क्लोवरलीफ फ्लाईओवर बनाने का काम 2018 में शुरू हो जाएगा। इसके लिए कंसलटेंट फाइनल हो गया है। उम्मीद है कि जुलाई तक काम शुरू हो जाएगा। कंसलटेंट की ओर से यह भी देखा जाएगा कि ट्रिब्यून राउंड अबाउट के आसपास की जमीन क्लोवरलीफ का भार उठाने में सक्षम है या नहीं। यह चंडीगढ़ का पहला क्लोवरलीफ फ्लाईओवर होगा। चंडीगढ़ में  अभी तक कोई फ्लाईओवर नहीं है।

मार्च में चलेगी तेजस एक्सप्रेस

चंडीगढ़ से नई दिल्ली के बीच चलने वाली तेजस एक्सप्रेस मार्च तक शुरू हो जाएगी। इस महीने तेजस के कोच रेल मंत्रालय को सौंप दिए जाएंगे। अम्बाला छावनी से चंडीगढ़ के बीच डबल ट्रैक की प्रक्रिया भी पूरी हो चुकी है। इस ट्रैक पर जल्द ही ट्रायल शुरू होगा। चंडीगढ़ से नई दिल्ली तक243 किलोमीटर के इस सफर को तेजस एक्सप्रेस 2 घंटे 55 मिनट में तय करेगी। इस ट्रेन की औसत स्पीड इस ट्रैक पर 87 किलोमीटर की पड़ेगी। 20 कोच वाली इस ट्रेन में सभी डिब्बे विशेष प्रकार के होंगे।

ट्रेन बुधवार को छोडक़र सप्ताह में छह बार दिल्ली से चंडीगढ़ और चंडीगढ़ से दिल्ली के बीच चलेगी। इसके अलावा चंडीगढ़ से फरीदकोट के बीच शताब्दी एक्सप्रेस भी मार्च तक शुरू हो सकती है। उधर, चंडीगढ़ इंटरनेशनल एयरपोर्ट से अगले साल से कई शहरों के लिए उड़ान भी शुरू होगी। रनवे एक्सपेंशन का काम पूरा होने से इंटरनेशनल फ्लाइट्स भी शुरू हो सकती हैं।

सड़कों पर दौडेंगी लग्जरी बसें

चंडीगढ़वासी 2018 में शहर की सड़कों पर सुपर लग्जरी बसों में घूम पाएंगे। अभी तक चंडीगढ़ में सामान्य और एसी बसें ही चल रही हैं। अभी तक एक भी सुपर लग्जरी बस को प्रशासन ने नहीं खरीदी है। यह 40 सुपर लग्जरी बसें उन 200 बसों में शामिल होंगी जन्हें सीटीयू खरीदने वाली है। इन बसों को खरीदने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इनमें 40 सामान्य, 120 एचवीएसी और 40 सुपर लग्जरी बसें शामिल हैं। इनकी खरीद पर 107 करोड़ रुपये से अधिक राशि खर्च होगी। इनके अलावा चंडीगढ़ की सड़कों पर इलेक्ट्रिक बसें भी चलेंगी।

Have something to say? Post your comment
 
More Chandigarh News
चंडीगढ़ की युवती को बंधक बनाकर चालीस लोगों ने किया गैंगरेप
चंडीगढ़ में अब पुराने वाहनों का फिटनेस टेस्ट होगा अनिवार्य
चंडीगढ़ में खेल सुविधाओं का हाल लेने पहुंचे प्रशासक
चांसलर से अपील, आउटसाइडर न हो पीयू का अगला वीसी
पीयू के वीसी के लिए सर्च कमेटी ने लिए इंटरव्यू, चांसलर को भेजे तीन नाम
चंडीगढ़ में घर की छतों पर अब 17 नवंबर तक सोलर पावर प्लांट लगाना जरूरी
पीयू के अगले वीसी के लिए आज दिल्ली में होंगे इंटरव्यू
पिंक ब्रिगेड महिलाओं ने महिलाओं को हेलमेट पहनने के प्रति किया जागरूक
आज से मिलेगी चंडीगढ़ से कोलकाता के लिए सीधी फ्लाइट
अब तक 37 देशों के मरीज पीजीआर्ई में करवा चुके ईलाज