Follow us on
Wednesday, April 25, 2018
Chandigarh

सीएचबी ने 66 रेजिडेंशियल प्रापर्टी की नीलामी की तैयारी की

January 08, 2018 07:09 AM

चंडीगढ़ (मयंक मिश्रा) -  चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड (सीएचबी) ने विभिन्न सेक्टरों में खाली पड़े फ्लैट्स की नीलामी करने की तैयारी कर ली है। नीलामी ऑनलाइन की जाएगी। ऐसा होने से लंदन, अमेरिका, कनाडा सहित विदेश में बैठकर ही एनआरआई चंडीगढ़ की प्रापर्टी खरीद सकेंगे। इनमें से सीएचबी की 50 प्रापर्टी लीजहोल्ड की हैं जबकि 16 प्रापर्टी फ्रीहोल्ड हैं। कुल मिलाकर सीएचबी अपनी 66 रिहायशी प्रापर्टी की नीलामी करेगा। सीएचबी की लीजहोल्ड प्रापर्टीज सेक्टर-39, 41, 45, 47 और 63 में हैं जबकि फ्रीहोल्ड प्रापर्टी सेक्टर-49, 51 और 38 वेस्ट में है। उम्मीद है कि इस माह इन 66 फ्लैट्स को ओपन मार्केट में बेचा जाएगा जिससे हाउसिंग बोर्ड को करोड़ों रुपये की कमाई होने की संभावना है। इनमें वे फ्लैट भी शामिल हैं जिन्हें अलाटियों की ओर से सरेंडर किए गए हैं।

यूटी प्रशासन ने हाल ही में लीजहोल्ड प्रापर्टी को फ्रीहोल्ड कराने की मंजूरी दी थी। प्रॉपर्टी को लीज होल्ड से फ्री होल्ड करने पर पिछले तीन साल से रोक लगी हुई थी। अब रोक हटने पर लोग कन्वर्जन चार्जेस देकर अपनी लीजहोल्ड प्रापर्टी को फ्रीहोल्ड में तब्दील करवा सकते हैं। प्रशासन के अफसरों ने वर्ष 2013 में यह कहकर रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी को फ्री होल्ड करने पर रोक लगा दी थी कि प्रशासन इसके लिए नया रेट तय कर रहा है। शहर में हाउसिंग बोर्ड, हाउसिंग सोसायटियों के फ्लैट सहित 50 हजार से अधिक लीज होल्ड रेजिडेंशियल प्रॉपर्टीज है। चंडीगढ़ में प्रॉपर्टी 99 साल की लीज पर होती है जिसे कन्वर्जन फीस जमा कराने के बाद फ्री होल्ड कराना होता है।

प्रशासन की नजर भी है नीलामी पर

यूटी प्रशासन की नजर हाउसिंग बोर्ड की नीलामी पर लगी है। हाउसिंग बोर्ड शहर रेजिडेंशियल साइट्स की आक्शन करने जा रहा है। बोर्ड की आक्शन की सफलता को देखकर ही इस्टेट आफिस शहर में अपनी आक्शन की प्लानिंग करेगा। प्रशासन ने पिछले साल लगभग आठ सालों के बाद शहर में कमर्शियल और रेजिडेंशियल साइट्स की नीलामी की योजना बनाई थी। इसके लिए मार्केट की स्टडी भी की गई। मार्केट से मिले फीके रिस्पांस के कारण प्रशासन ने नीलामी की योजना स्थगित कर दी थी। इस्टेट आफिस शहर में 115 कमर्शियल और रेजिडेंशियल साइट्स की नीलामी करने की योजना कई सालों से बना रहा है। नीलामी के लिए रखी जाने वाली अधिकांश साइट्स सेक्टर 35, 37, 38, 40, 43 में है। रेजिडेंशियल साइट्स में 8मरला से लेकर एक कनाल तक की साइट्स थी जबकि कमर्शियल साइट्स में बूथ और एससीओ शामिल थे।

Have something to say? Post your comment