Follow us on
Wednesday, January 23, 2019
Chandigarh

चंडीगढ़ में फैला डायरिया, धनास में में मिले डायरिया के 27 मरीज

January 09, 2018 06:55 AM

चंडीगढ़ (विजय राणा) - चंडीगढ़ के धनास इलाके में डायरिया के फैल गया है। इस इलाके के एक साथ 27 लोगों में डायरिया की पुष्टी हुई है। सोमवार को 90 लोगों की जांच की गई, जिन्हें बुखार और पेट दर्द की शिकायत थी। इस लोगों में से 27 लोगों में डायरिया पाया गया है।

डायरिया की बीमारी मुख्यतौर पर दुषित पानी पीने या दुषित भोजन खाने से होती है। लेकिन एक साथ 27 लोगों में ये बीमारी पाए जाने की वजह से माना जा रहा है कि धनास में दुषित पानी पीने की वजह से ये बीमारी फैली है।

इस बारे में बात करते हुए नोडल ऑफिसर डॉ गौरव अग्रवाल ने बताया कि डायरिया दुषित पानी की वजह से होता है। धनास में पीने के पानी के सैंपल ले लिए गए हैं जिनकी रिपोर्ट आने पर ही कारणों का पता चल पाएगा। इसके अलावा धनास में स्वास्थय विभाग की टीम भी जांच में जुटी है।  पानी की किसी पाइप में लीकेज होने की वजह से भी पानी दुषित हो सकता है। जिसके पीने से यहां के लोग डायरिया की चपेट में आ गए।

उन्होंने बताया कि स्वास्थय विभाग की 4 टीमें धनास में लगाई गई हैं जो लोगों को ओआरएस और दवाइयां वितरित कर रही हैं।

आमतौर पर डायरिया एक हफ्ते में ठीक हो जाता है, लेकिन कई बार यह अधिक समय में ठीक होता है। इस डायरिया को हम क्राँनिक डायरिया के नाम से जानते हैं। अगर इसका सही समय पर इलाज न करवाया जाए तो यह बहुत ही खतरनाक साबित हो सकता है।

डायरिया का लक्षण

1. बार-बार पतले (पानी की तरह ) दस्त आना।

2. आंतों में सुजन होना।

3. उल्टी आना।

4. दस्त में खून आना।

5. एसिडिटी होना।

6. शरीर में कमज़ोरी आना आदि डायरिया के लक्षण होते हैं।

 डायरिया के कारण

आमतौर पर डायरिया जैसी परेशानी का सामना हमें तब करना पड़ता है, जब हम बाहर की वस्तुओं का अधिक सेवन करते हैं। इसके इलावा जब भी डायरिया हमें सर्दियों के दिनों में होता है, तो यह गर्मियों के मुकाबले अधिक घातक होता है। ठंड के मौसम में हमारे शरीर का तापमान कम हो जाता है, जिसके कारण हमें उल्टी या दस्त होने लगती है। इसके अलावा इसके और भी कई कारण है जैसे कि

1. पेट में कीड़ो के संक्रमण से डायरिया हो सकता है।

2. आस-पास सफाई का न होना।

3. शरीर में पानी की कमी होना।

4. दवाई रिएक्श्न होना।

5. पानी में अधिक समय रहना।

6. पाचन शक्ति का कमज़ोर होना।

7. सर्दियों में कई दिनों तक रखा खाना खा लेना आदि से डायरिया हो सकता है।

 डायरिया हो जाने पर क्या करें

पीने का पानी उबालकर, ठंडा करके पिएं।

शरीर में पानी और नमक की कमी बिलकुल ना हो इस बात का ख्याल रखें |

एक बार ज्यादा खाने की बजाय थोडा थोडा रूक रूक कर खाएं |

पेट को गर्म कपड़े से ढक कर रखें।

भोजन करने के पहले हाथों की सफाई अवश्य करें।

याद रखें , बैक्टीरिया के संक्रमण से होने वाला डायरिया डाक्टर द्वारा दी जाने वाली एंटीबायोटिक दवाई लेने पर ही जल्द ठीक हो सकता है।

अगर ज्यादा मात्रा में और बार-बार दस्त लग रहे है, और मरीज के पेट में कोई भी खाद्य पदार्थ नहीं रूक पा रहा है तो तुरंत किसी डाक्टर से सम्पर्क करें नहीं तो शरीर में

डीहाईडरेशन से मरीज बेहोश भी हो सकता है |

Have something to say? Post your comment
 
More Chandigarh News
बारिश से कम हुआ चंडीगढ़ में प्रदूषण का स्तर, हवा हुई साफ
कड़ी सुरक्षा में 27 जनवरी को होगी जेबीटी भर्ती की परीक्षा, लगेंगे जैमर
अगले महीने चंडीगढ़ से शुरू होगी नए शहरों के लिए लग्जरी बस सेवा
रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर-1 का काम पूरा होने के कारण अब ट्रेनें नहीं होंगी लेट
खेर ने सेक्टर-43 के कम्युनिटी सेंटर का किया उद्घाटन
अगले साल मेयर पद के उम्मीदवार को लेकर फिर भाजपा में मचेगा घमासान
कभी बीनते थे कूड़ा, आज हैं चंडीगढ़ के मेयर
प्राइवेट स्कूलों में शुरू हुई एंट्री लेवल दाखिले की ड्रा प्रक्रिया
साइकिल ट्रैक्स से दूर होगा अंधेरा, लगेंगी एलईडी स्ट्रीट लाइट्स
चंडीगढ़ में होगा पहला चिल्ड्रन पीस फेस्ट, सात प्रदेशों के स्टूडेंट्स लेंगे हिस्सा