Follow us on
Wednesday, July 18, 2018
BREAKING NEWS
लाइव डिबेट में मौलाना ने एक महिला को पीटाप्रधानमंत्री ने संसद सत्र सुचारू रूप से चलाने के लिये सभी दलों का सहयोग मांगाभीड़तंत्र को नया पैमाना बनने की इजाजत नहीं दी जायेगी: लिंचिंग पर न्यायालय की चेतावनीयदि कोई कानून मौलिक अधिकार का हनन करता है तो उसे निरस्त करना न्यायालय का कर्तव्य : शीर्ष अदालतलोकपाल की तलाश के लिये पैनल गठित करने हेतु चयन समिति की बैठक 19 जुलाई को :केंद्रएनआरआई विवाह के पंजीकरण के बारे में तत्काल सूचित करें राज्य: मेनका गांधीआयुर्वेद को ‘वैज्ञानिक मान्यता’ देने की खातिर आईआईटी दिल्ली और एआईआईए के बीच समझौता हुआशरीफ, उनकी बेटी की अपीलों पर सुनवाई स्थगित ,चुनाव तक रहना होगा जेल में
World

आधार आंकड़े में सेंध जांच की बजाय पत्रकार को पुरस्कृत किया जाना चाहिए - स्नोडेन

January 10, 2018 06:49 AM

लंदन - अमेरिकी व्हिसलब्लोवर एडवर्ड स्नोडेन ने मंगलवार को कहा कि आधार डेटा में कथित सेंध पर खबर देने वाली भारतीय पत्रकार के खिलाफ जांच बिठाने की जगह उसे पुरस्कृत किया जाना चाहिए। स्नोडेन ने यह भी कहा कि भारत सरकार को अपने नागरिकों की निजता की रक्षा के लिए अपनी नीति में सुधार करना चाहिए।

स्नोडेन सेंट्रल इंटेलीजेंस एजेंसी सीआईए के एक पूर्व कर्मचारी हैं, जिन्होंने फोन और इंटरनेट संचार पर अमेरिकी निगरानी का खुलासा किया था। स्नोडेन ने अपने ट्वीट में कहा, आधार में सेंध का खुलासा करने वाली पत्रकार जांच की नहीं बल्कि पुरस्कार की हकदार हैं। अगर सरकार वाकई न्याय को लेकर चिंतित है तो वे नीति में सुधार करेंगे, जिसने एक अरब भारतीयों की निजता नष्ट कर दी है।

जो लोग इसके लिए जिम्मेदार हैं उनकी गिरफ्तारी चाहता हूं। उसे ए कहा जाता है। आधार 12 अंकों की विशिष्ट पहचान संख्या है, जो भारत के हर निवासी को जारी किया जाता है। यह इन निवासियों के बायोमीट्िरक और जनांकीय आंकड़ों पर आधारित होता है। ये आंकड़े एक वैधानिक प्राधिकार भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण यूआईडीएआई जुटाता है।

दिल्ली पुलिस ने आधार डेटा में कथित सेंध संबंधी खबर पर यूआईडीएआई की शिकायत पर एक प्राथमिकी दर्ज की थी। साल 2013 से रूस की शरण में रह रहे 34 वर्षीय स्नोडेन ने कहा, निजी जीवन का रिकॉर्ड रखने की इच्छा सरकार की स्वाभाविक प्रवृत्ति है। इतिहास दर्शाता है कि भले ही कानून हो, नतीजा इसका दुरपयोग होता है। आधार डेटा में कथित सेंधमारी की पुलिस जांच की एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया सहित विभिन्न मीडिया संगठनों और निकायों ने निंदा की है और मामले को वापस लेने की मांग की है।

Have something to say? Post your comment
 
More World News
शरीफ, उनकी बेटी की अपीलों पर सुनवाई स्थगित ,चुनाव तक रहना होगा जेल में
रूसी मीडिया ने पुतिन के साथ बैठक से पहले ट्रंप की तारीफ की
पुतिन से अहम सम्मेलन के लिए फिनलैंड पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति
अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के समर्थन में रैली निकालने के आरोप में अब्बासी, 1,500 पर मामला दर्ज
नवाज शरीफ बेटी के साथ पहुंचे पाकिस्तान
अफगानिस्तान में भूस्खलन से 10 मरे, कई मकान नष्ट - अधिकारी
थाईलैंड की गुफा से निकाले गए सभी 13 लोग सुरक्षित
थाईलैण्ड में गुफा में फंसे सभी बच्चे सुरक्षित बाहर निकाले गये
अफगान सुरक्षा बलों पर आत्मघाती हमले में 10 की मौत - अधिकारी
भारतीय छात्र की हत्या मामले में कुछ सूचना मिली - पुलिस