Follow us on
Monday, January 22, 2018
Haryana

अंबाला में शहीदी स्मारक के लिए 174.49 करोड़ राशि की प्रशासनिक स्वीकृति - अनिल विज

January 11, 2018 07:36 AM

चंडीगढ़ - हरियाणा के स्वास्थ्य एवं खेल मंत्री अनिल विज ने कहा कि अंबाला में 1857 की क्रांति के शहीदों के सम्मान में बनाये जा रहे शहीदी स्मारक के लिए 174.49 करोड़ राशि की प्रशासनिक स्वीकृति हुई है। इसके लिए संबंधित विभाग को शीघ्र ही खाका (ब्लूप्रिंट) तैयार करने को निर्देश दिये जा रहे हैं।

श्री विज ने बताया कि इस स्मारक में एक बड़ा लाउंज व स्वागत कक्ष, शहीदों के नाम लिखा हुए मैमोरियल टावर, एक पुस्तकालय, एक ओडिटोरियम हाल, चार ओडियो-वीडियो हाल का निर्माण करवाया जाएगा। इसके अलावा, शहीदी स्मारक में करीब 750 लोगों की क्षमता वाला ओपन एयर थियेटर भी बनाया जाएगा, जिसमें त्री-आयामी चित्रों का प्रदर्शन किया जाएगा। इसके अलावा हेलीपैड, फूड़ कोर्ट, कॉफी शॉप, एटीएम, चिकित्सालय, प्रतिक्षा कक्ष, पार्किंग तथा अन्य सुविधाएं भी होंगी। स्मारक में एक विशाल संग्रहालय का निर्माण भी करवाया जाएगा, जिसमें प्रथम स्वतन्त्रता संग्राम से जुड़ी ऐतिहासिक वस्तुओं को स्थापित किया जाएगा।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि देश की आजादी की जंग सबसे पहले अंबाला से शुरू हुई थी, इसलिए शहीदों को सम्मान देने के लिए इस शहीदी स्मारक का निर्माण अंबाला में करवाया जा रहा है। इस स्मारक में 1857 में शुरू हुई आजादी की लड़ाई से लेकर रंगून तक के सभी दृश्यों को ओडियो-वीडियो साधनों से दिखाने का प्रबन्ध किया जाएगा।

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
दीन बन्धु सर छोटू राम का व्यक्तित्व, जीवन तथा कार्य अनुकरणीय थे - धनखड़
हरियाणा में स्टूडेंट ने महिला प्रिंसिपल को मारी गोली, गंभीर
12 साल से कम उम्र की बच्चियों के साथ अपराध पर दोषियों को फांसी की सजा होगी - मुख्यमंत्री
प्रदेश को भष्ट्राचार मुक्त करने तथा समान विकास का वायदा निभाया जा रहा है - मुख्यमंत्री
महिलाओं की सुरक्षा को लेकर नकारा साबित हुई खट्टर सरकार - कांग्रेस
हरियाणा की लोक गायिका ममता शर्मा की गला रेतकर हत्या, खेत में मिला शव
सरस्वती नदी के उदगम स्थल आदिबद्री में एक डैम बनाया जाएगा - नितिन गडक़री
प्रदेश में महिलाओं के सुरक्षा प्रबन्धों को सुदृढ़ कर दिया गया है - बी.एस.सन्धु
जींद गैंगरेप-मर्डर केस में नया मोड़ - संदिग्ध आरोपी की मिली लाश
प्रदेश में हाल ही में हुई दुष्कर्म की घटनाएं अत्यंत दुखद और निंदनीय - मनोहर लाल