Follow us on
Saturday, July 21, 2018
India

ऐड्रेस प्रूफ के तौर पर काम नहीं करेगा पासपोर्ट

January 13, 2018 07:09 AM

सरकार ने शुक्रवार को घोषणा की कि पासपोर्ट में अब से आखिरी पृष्ठ नहीं छापा जाएगा। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि यह फैसला नए पासपोर्ट बुकलेट के प्रकाशन से प्रभावी होगी, हालांकि वर्तमान पासपोर्ट बुकलेट अपनी निर्धारित अवधि के लिए वैध रहेंगी। 

यह निर्णय विदेश मंत्रालय और महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के अधिकारियों की एक तीन सदस्यीय समिति की सिफारिशों के आधार पर लिया गया है। यह समिति पासपोर्ट आवेदनों में उन मुद्दों के समाधान खोजने के लिए गठित की गई थी जिनमें मां और बच्चे ने इस बात पर जोर दिया था कि पिता का नाम पासपोर्ट में नहीं लिखा जाना चाहिए।

समिति को एकल अभिभावक या गोद ली गई संतान के मुद्दों का भी हल खोजने को कहा गया था। कुमार ने कहा कि समिति की रिपोर्ट को विदेश मंत्रालय ने स्वीकार कर लिया है। समिति की एक सिफारिश यह भी थी कि पासपोर्ट की बुकलेट में पिता या वैध अभिभावक, मां, पत्नी के नाम और पता आदि की सूचनाएं प्रकाशित करने की बाध्यता से मुक्त होने की संभावना तलाशी जाएं।

विदेश मंत्रालय ने अंतर्राष्ट्रीय नागर विमानन संगठन की दिशानिर्देशों और विभिन्न साझीदारों से बातचीत के माध्यम से निर्णय किया कि पासपोर्ट अधिनियम 1967 और पासपोर्ट नियम 1980 के अंतर्गत पासपोर्ट या अन्य यात्रा दस्तावेज में अंतिम पृष्ठ नहीं छापा जाएगा जिस पर माता, पिता, पत्नी का नाम, पता, आव्रजन जांच आवश्यक, पुराना पासपोर्ट नंबर, जारी होने की तिथि एवं स्थान अंकित किया जाता है।

प्रवक्ता ने कहा कि नासिक स्थित इंडियन सिक्योरिटी प्रेस नई पासपोर्ट बुकलेट को डिजाइन करेगी तथा तब तक प्रकाशित पुरानी डिजाइन की बुकलेट जारी की जाएंगी। उन्होंने यह भी बताया कि 'आव्रजन जांच आवश्यक'श्रेणी वाले पासपोर्ट को नारंगी रंग के कवर में जारी किया जाएगा जबकि 'आव्रजन जांच आवश्यक नहीं'श्रेणी वाले पासपोर्ट पहले की तरह नीले कवर में जारी किए जाएंगे।

Have something to say? Post your comment
 
More India News
कांग्रेस सरकार 2009 तक पूर्ण विद्युतीकरण के वादे को पूरा करने में विफल रही - मोदी
मॉब लिंचिंग की घटनाएं दुर्भाग्यपूर्ण, मीडिया सेवा प्रदाताओं से फर्जी समाचार पर रोक लगाने को कहा : राजनाथ
अविश्वास मत में शिवसेना करेगी मोदी सरकार का समर्थन
मानसून सत्र के दूसरे दिन भी लोकसभा की बैठक की हंगामेदार शुरूआत
महान गीतकार कवि गोपालदास नीरज का निधन
रिजिजू बाढ़ प्रभावित केरल का करेंगे दौरा
सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर लोकसभा में 20 जुलाई को होगी चर्चा
संविधान पीठ के फैसले के बावजूद ठप्प है हमारा कामकाज - दिल्ली सरकार ने न्यायालय से कहा
हर वाहन पर पंजीकरण नंबर दिखना चाहिए - अदालत
प्रधानमंत्री ने संसद सत्र सुचारू रूप से चलाने के लिये सभी दलों का सहयोग मांगा