Follow us on
Tuesday, October 16, 2018
Himachal

बर्फबारी के चलते शिमला को पांच सेक्टर में बांटा

January 14, 2018 08:38 AM

शिमला - शिमला में बर्फबारी के दौरान स्नो मैनुअल के प्रावधानों को दक्षतापूर्वक लागू करने के लिए आज यहां समीक्षा बैठक आयोजित की गई, जिसकी अध्यक्षता उपायुक्त शिमला अमित कश्यप ने की। उपायुक्त ने कहा कि बर्फबारी के दृष्टिगत शिमला नगर को पांच सैक्टर में बांटा गया है, ताकि सभी राहत व अन्य कार्य समयबद्ध पूर्ण किए जा सकें। इन सभी सैक्टर में संबंधित विभागों के अधिकारियों की तैनाती की गई है।

उपायुक्त कार्यालय परिसर में कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है जिससे कि दूरभाष संख्या 1077 के माध्यम से संपर्क किया जा सकता है। उपायुक्त ने सभी अधिकारियों को बेहतर समन्वय और सूचनाओं का सही समय पर संप्रेषण करने के निर्देश देते हुए कहा कि बर्फबारी व अन्य आपात स्थितियों के दौरान सभी को पूर्ण दक्षता के साथ कार्य सुनिश्चित करना चाहिए।

उन्होंने नगर निगम शिमला को बर्फबारी के दौरान नागरिकों को आधारभूत सुविधाएं प्रदान करने के लिए समयबद्ध जरूरी कदम उठाने के निर्देश देते हुए कहा कि विद्युत बोर्ड और सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग इस दौरान नागरिकों को पेयजल और विद्युत आपूर्ति सुचारू रूप से बनाने के लिए सभी तैयारियां समयबद्ध पूर्ण करें। उपायुक्त ने अस्पताल प्रशासन, पीडब्ल्यूडी, नेशनल हाईवे, परिवहन, खाद्य आपूर्ति, हिमाचल पथ परिवहन निगम, अग्निशमन, पुलिस विभाग, होमगार्ड तथा अन्य सभी विभागों को स्नो मैनुअल के अनुसार कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

कौन क्षेत्र किस सेक्टर में...

सेक्टर-1 में संजौली, ढली, नालदेहरा, कुफरी, मशोबरा, बल्देहां, छोटा शिमला और संजौली क्षेत्र को सम्मिलित किया गया है।

सेक्टर-2 में ढली-संजौली, आईजीएमसी, लक्कड़-बाजार विक्ट्री टनल तक, कैथू, ढली बाइपास, भराड़ी, चैड़ा मैदान, एजी ऑफिस-अन्नाडेल क्षेत्र शामिल किए गए हैं।

सैक्टर-3 में बाइपास एनएच रोड़ बाया आईएसबीटी शोघी तक, बीसीएस, विक्ट्री टनल, चक्कर, बालुगंज, टुटू, नाभा, फागली, खलीनी, जतोग और विकास नगर क्षेत्र सम्मिलित किए गए हैं।

सेक्टर-4 में विक्ट्री टनल, कार्ट रोड़ छोटा शिमला तक, ओकओवर, यूएस क्लब, रिज, हॉलीलॉज, जाखू, रिचमांउट, रामचन्द्र चैक, केएनएच, उच्च न्यायालय और डीसी ऑफिस क्षेत्र शामिल किए गए हैं।

सेक्टर-5 में छोटा शिमला, मैहली, कसुम्पटी, पंथाघाटी, हिमाचल प्रदेश सचिवालय और ब्रॉकहॉस्ट क्षेत्र शामिल किए गए हैं।

Have something to say? Post your comment
 
More Himachal News
सरकार राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल के तहत तीन कम्पनियां स्थापित करेगी - मुख्यमंत्री
हिमाचल प्रदेश के स्वास्थ्य मानक देश के अनेक राज्यों से बेहतरः मुख्यमंत्री
प्राकृतिक खेती अपनाने से बदल सकती है देश की तकदीर-राज्यपाल
मुख्यमंत्री ने जंजैहली क्षेत्र में 55 करोड़ रुपये की परियोजनाओं की रखी आधारशिला
राज्यपाल ने वैज्ञानिकों से प्राकृतिक खेती पर सघन अनुसंधान करने के दिए निर्देश
वन विभाग द्वारा वन अतिक्रमण पर नजर रखने के लिए सॉफ्टवेयर तैयार
मुख्यमंत्री ने किया अखण्ड शिक्षा ज्योति-मेरे स्कूल से निकले मोती योजना का शुभारम्भ
जन मंच कर रहा है लोगों की समस्याओं का प्रभावी समाधान - मुख्यमंत्री
हिमालयी राज्यों के समग्र विकास के लिए मुख्यमंत्री की एक मंच पर आने की वकालत
राज्यपाल की हिमालयी राज्यों के मामलों को सुलझाने के लिए अलग मंत्रालय बनाने की वकालत