Follow us on
Saturday, November 17, 2018
India

आरएसएस प्रमुख का भाषण प्रत्येक भारतीय का अपमान - राहुल गांधी

February 13, 2018 07:19 AM

नई दिल्ली - कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत पर सेना और देश के लिए प्राणों की आहूति देने वाले लोगों का 'अपमान' करने का आरोप लगाया। राहुल ने भागवत पर उनकी इस टिप्पणी को लेकर हमला बोला कि आरएसएस सेना की तुलना में सैन्य र्किमयों को तेजी से 'तैयार' कर सकता है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि आरएसएस प्रमुख का भाषण प्रत्येक भारतीय का 'अपमान' है तथा उन्होंने आरएसएस से माफी की मांग की।

उन्होंने ट्वीट किया, ''आरएसएस प्रमुख का भाषण प्रत्येक भारतीय का अपमान है क्योंकि इससे हमारे देश के लिए जान देने वाले प्रत्येक व्यक्ति का अपमान हुआ है। हमारे शहीदों एवं हमारी सेना का अपमान करने के लिए भागवत आपको शर्म आनी चाहिए। उन्होंने हैशटैग कर लिखा आरएसएस को माफी मांगनी चाहिए।'' बिहार में आरएसएस कार्यकर्ताओं को कल संबोधित करते हुए भागवत ने कहा था, ''संघ तीन दिन के भीतर सैन्यकर्मी तैयार कर देगा जिसे करने में सेना को 6-7 माह लगते हैं। यह हमारी क्षमता है। यदि देश को इस प्रकार की स्थिति का सामना करना पड़ा और संविधान की अनुमति हुई तो मोर्चा संभालने के लिए स्वयंसेवक तैयार रहेंगे।'' हालांकि आरएसएस ने बाद में स्पष्टीकरण दिया कि उसके प्रमुख के भाषण को गलत ढंग से पेश किया गया।

गौरतलब है कि मोहन भागवत ने कहा था कि अगर जरूरत पड़ी तो देश के लिए लडऩे की खातिर आरएसएस के पास तीन दिन के भीतर सेना तैयार करने की क्षमता है। छह दिवसीय मुजफ्फरपुर यात्रा के आज अंतिम दिन सुबह जिला स्कूल मैदान में आरएसएस के स्वयं सेवकों को संबोधित करते हुए भागवत ने कहा कि सेना को सैन्यर्किमयों को तैयार करने में छह-सात महीने लग जाएंगे, लेकिन संघ के स्वयं सेवकों को लेकर यह तीन दिन में तैयार हो जाएगी।

Have something to say? Post your comment
 
More India News
यदि कांग्रेस में लोकतंत्र है तब परिवार से बाहर के किसी व्यक्ति को पार्टी अध्यक्ष बनाएं - मोदी
कड़ी सुरक्षा के बीच खुला सबरीमला मंदिर
प्रधानमंत्री मोदी आजकल अपने भाषण में भ्रष्टाचार की बात नहीं करते - राहुल गांधी
चक्रवात गज ने तमिलनाडु में 11 लोगों की जान ली - पलानीस्वामी
सीबीआई प्रमुख पर सीवीसी की रिपोर्ट के कुछ अंश प्रतिकूल, निदेशक सोमवार तक जवाब दें - न्यायालय
प्रधानमंत्री ने बढ़ाया राफेल का बेंचमार्क प्राइज़, राष्ट्रीय हित से समझौता किया - कांग्रेस
दिल्ली के वसंत कुंज एन्क्लेव में फैशन डिजाइनर और उसके घरेलू सहायक की हत्या, तीन गिरफ्तार
राफेल सौदे पर प्रधानमंत्री चुप क्यों - शिवसेना
नेशनल हेराल्ड भवन लीज - अदालत ने 22 नवंबर तक यथास्थिति बनाए रखने को कहा
तेजी से हो रही सैन्य खरीद लेकिन पूरी निगरानी रखी जा रही - सीतारमण