Follow us on
Thursday, May 24, 2018
India

आरएसएस प्रमुख का भाषण प्रत्येक भारतीय का अपमान - राहुल गांधी

February 13, 2018 07:19 AM

नई दिल्ली - कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत पर सेना और देश के लिए प्राणों की आहूति देने वाले लोगों का 'अपमान' करने का आरोप लगाया। राहुल ने भागवत पर उनकी इस टिप्पणी को लेकर हमला बोला कि आरएसएस सेना की तुलना में सैन्य र्किमयों को तेजी से 'तैयार' कर सकता है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि आरएसएस प्रमुख का भाषण प्रत्येक भारतीय का 'अपमान' है तथा उन्होंने आरएसएस से माफी की मांग की।

उन्होंने ट्वीट किया, ''आरएसएस प्रमुख का भाषण प्रत्येक भारतीय का अपमान है क्योंकि इससे हमारे देश के लिए जान देने वाले प्रत्येक व्यक्ति का अपमान हुआ है। हमारे शहीदों एवं हमारी सेना का अपमान करने के लिए भागवत आपको शर्म आनी चाहिए। उन्होंने हैशटैग कर लिखा आरएसएस को माफी मांगनी चाहिए।'' बिहार में आरएसएस कार्यकर्ताओं को कल संबोधित करते हुए भागवत ने कहा था, ''संघ तीन दिन के भीतर सैन्यकर्मी तैयार कर देगा जिसे करने में सेना को 6-7 माह लगते हैं। यह हमारी क्षमता है। यदि देश को इस प्रकार की स्थिति का सामना करना पड़ा और संविधान की अनुमति हुई तो मोर्चा संभालने के लिए स्वयंसेवक तैयार रहेंगे।'' हालांकि आरएसएस ने बाद में स्पष्टीकरण दिया कि उसके प्रमुख के भाषण को गलत ढंग से पेश किया गया।

गौरतलब है कि मोहन भागवत ने कहा था कि अगर जरूरत पड़ी तो देश के लिए लडऩे की खातिर आरएसएस के पास तीन दिन के भीतर सेना तैयार करने की क्षमता है। छह दिवसीय मुजफ्फरपुर यात्रा के आज अंतिम दिन सुबह जिला स्कूल मैदान में आरएसएस के स्वयं सेवकों को संबोधित करते हुए भागवत ने कहा कि सेना को सैन्यर्किमयों को तैयार करने में छह-सात महीने लग जाएंगे, लेकिन संघ के स्वयं सेवकों को लेकर यह तीन दिन में तैयार हो जाएगी।

Have something to say? Post your comment
 
More India News
तमिलनाडु में पुलिस की कार्रवाई में नौ प्रदर्शनकारियों की मौत - मुख्यमंत्री
छात्रों, आपका भविष्य खतरे में है, खड़े हो जाओ - राहुल गांधी
आधे राज्यों में सामान्य से कम हुयी मानसून पूर्व बारिश, गुजरात में सर्वाधिक कमी
धर्म के आधार पर किसी के साथ भेदभाव नहीं होगा - राजनाथ
तेल कीमतों का अगले 2-4 दिनों में समाधान निकाल लिया जायेगा - अमित शाह
भारत-रूस संबंध विशिष्ट विशेषाधिकार प्राप्त रणनीतिक साझेदारी में बदले है - मोदी
जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तानी रेंजरों ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन
2019 के लोकसभा चुनाव में बड़े बहुमत से जीतेंगे - शाह
सिकुड़ रहा है नक्सलियों का आधार - राजनाथ
नक्सली हमले में सात जवान शहीद