Follow us on
Saturday, April 20, 2019
Business

दो साल में करदाताओं को 24 घंटे में मिलने लगेगा कर रिफंड

February 06, 2019 09:56 AM

नयी दिल्ली (भाषा) - करदाताओं को 24 घंटे के भीतर रिफंड देने के लिए राजस्व विभाग दो साल के भीतर एक तंत्र बनाएगा। तंत्र यह सुनिश्चित करेगा कि सभी रिटर्नों की जांच-पड़ताल 24 घंटे के भीतर हो जाये और साथ ही साथ रिफंड भी जारी हो जाये। एक शीर्ष अधिकारी ने यह बात कही।

सरकार ने पिछले महीने केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के सूचना प्रौद्योगिकी ढांचे को उन्नत बनाने के लिए 4,200 करोड़ रुपये स्वीकृत किए हैं। इससे रिटर्न, रिफंड, कर अधिकारी एवं करदाताओं का आमना- सामना नहीं होने और सत्यापन प्रक्रिया में तेजी लाने में मदद मिलेगी।

राजस्व सचिव अजय भूषण पाण्डे ने कहा कि मौजूदा समय में रिफंड का काम स्वचालित तरीके से ऑनलाइन होता है। इस वर्ष में 1.50 लाख करोड़ रुपये का रिफंड सीधे बैंक खातों में भेजा गया है। अब रिफंड प्रणाली को ज्यादा उन्नत बनाया जा रहा है ताकि 24 घंटे के भीतर लोगों को रिफंड मिल सके।

इस प्रक्रिया में लगने वाले समय के बारे में पूछने पर राजस्व सचिव ने कहा, "हम इसे जल्द से जल्द लागू करने की कोशिश करेंगे। इसमें दो साल लगेंगे। इस दौरान कर अधिकारी एवं करदाताओं के आमने-सामने नहीं आने (चेहरा विहीन आकलन) की प्रक्रिया को भी पूरा किया जाएगा।"

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अंतरिम बजट 2019-20 पेश करने के दौरान कहा था कि आयकर विभाग ऑनलाइन काम कर रहा है और रिफंड, रिटर्न, आकलन और लोगों की शिकायतें ऑनलाइन दूर की जा रही हैं। 

गोयल ने कहा, "पिछले साल कुल आयकर रिटर्न में 99.54 प्रतिशत रिटर्न को स्वीकृति दी गई थी। हमारी सरकार ने आयकर विभाग को और अधिक लोगों के अनूकूल बनाने के लिए प्रौद्योगिकी आधारित परियोजना को मंजूरी दी है। सभी रिटर्नों की जांच-पड़ताल 24 घंटे में होगी और साथ ही साथ रिफंड भी जारी किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि अगले दो साल में रिटर्न के सत्यापन और आकलन का लगभग पूरा काम इलेक्ट्रॉनिक रूप से होने लगेगा।

Have something to say? Post your comment
 
More Business News
सरकार ने विमानन कंपनियों से कहा, बाजार बिगाड़ने वाला किराया वसूलने से बचें
टाइम की 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूची में अंबानी, अरुंधति काटजू और मेनका गुरुस्वामी
दिल्ली में सम्पन्न हुई बालों की समस्याओं के संदर्भ में राष्ट्र स्तरीय कॉफ्रेस
सुरेश प्रभु ने जेट एयरवेज से जुड़े मुद्दों की समीक्षा का निर्देश दिया
देश का सेवा निर्यात फरवरी में 5.5 प्रतिशत बढ़ा
नये घोटाले का रास्ता खोलेगी कांग्रेस की न्याययोजना - गोयल
जौहरियों की सोने की हॉलमार्किंग में मानकीकरण की मांग
खाद्य वस्तुओं के दाम बढ़ने से मार्च में खुदरा मुद्रास्फीति बढ़कर 2.86 प्रतिशत हुई
विवाद में उलझने के बजाय उपभोक्ताओं की समस्याओं को दूर करें सेवा प्रदाता कंपनियां - उपभोक्ता अदालत
भारत में कुछ सुधारों से डिजिटलीकरण के फायदे नजर आए - आईएमएफ