Follow us on
Saturday, August 17, 2019
BREAKING NEWS
अच्छे लोगों का भाजपा में स्वागत - अमित शाहकश्मीर में फोन लाइनें सप्ताहांत तक बहाल हो जाएंगी, स्कूल अगले हफ्ते खुलेंगे - मुख्य सचिवदेशवासियों ने जो काम दिया, हम उसे पूरा कर रहे हैं - मोदीमोदी ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ की घोषणा की, जनसंख्या नियंत्रण और एक राष्ट्र, एक चुनाव पर दिया जोरजम्मू कश्मीर में मीडिया पर पाबंदियां हटाने के मसले पर न्यायालय ने कहा,हम कुछ समय देना चाहते हैंजापान के सॉफ्टबैंक ग्रुप ने कैप्टन अमरिन्दर सिंह के साथ रियल एस्टेट सैक्टर में निवेश योजना सांझी कीमनाली में स्थापित की जाने वाली अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा की आधारशिलाप्रदेश के सरकारी अस्पतालों की मिली 30 बेसिक लाईफ सेविंग एंबुलेंस गाड़ियां
Himachal

मुख्यमंत्री ने ऊना जिला के सिंघा में क्रेमिका फूड पार्क का किया लोकार्पण

February 11, 2019 09:36 AM

ऊना - प्रदेश सरकार उद्ययमियों को राज्य में खाद्य एवं फल प्रसंस्करण इकाइयों को स्थापित करने के लिए हर संभव सहायता उपलब्ध करवाएगी ताकि युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाने के साथ-साथ किसानों व बागवानों की आर्थिकी भी सुदृढ़ हो सके।

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर आज यहां शिमला से ऊना जिला के सिंघा में क्रेमिका फूड पार्क का ऑनलाईन उद्घाटन के उपरांत वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से लोगों को सम्बोधित कर रहे थे।  केन्द्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसमरित कौर बादल ने भी दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से इस अवसर पर अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई। यह पार्क क्रेमिका औद्योगिक घराने द्वारा 110 करोड़ रुपये की लागत से 51 एकड़ भूमि पर स्थापित किया गया है।

जय राम ठाकुर ने यह फूड पार्क भारत सरकार की मेगा फूड पार्क योजना के अंतर्गत स्थापित किया गया है। उन्होंने कहा कि सिंघा में स्थापित इस फूड पार्क पर लगभग 300 करोड़ रुपये का निवेश अपेक्षित है। उन्होंने कहा कि इसके आरम्भ हो जाने से क्षेत्र में विकास के नए आयाम स्थापित होने के साथ किसानों की आर्थिकी भी सुदृढ़ होगी। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के किसानों व बागवानों को जहां उनके उत्पादों का उचित मूल्य प्राप्त होगा वहीं युवाओं को भी रोजगार के अवसर भी प्राप्त होंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पर्यटन, आतिथ्य, रिजोर्ट, फार्मास्यूटिकल, लघु एवं सूक्ष्म उद्योग, इजीनियरिंग यंत्र, सूचना प्रौद्योगिकी, स्वास्थ्य एवं वेलनेस केन्द्र, हर्बल एवं आयुर्वेद आधारित परियोजनाएं, बागवानी, ऊर्जा, खाद्य प्रसंस्करण, रियल एस्टेट, शिक्षा आदि क्षेत्रों में आपार क्षमता के निवेश के लिए राज्य सरकार इस वर्ष 10 व 11 जून को धर्मशाला में ग्लोबल इंवेस्टर मीट आयोजित करने की योजना बनाई है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश में देशभर में सबसे प्रतिस्पर्धी दरों पर गुणात्मक विद्युत की उपलब्धता राज्य के लिए सबसे अधिक लाभदायक है और यह स्थिति राज्य में उपलब्ध आपार ऊर्जा की संभावनाओं के चलते आने वाले कई वर्षों तक बनी रहेगी। उन्होंने कहा कि एकल खिड़की, अनुश्रवण एवं स्वीकृति प्राधिकरण द्वारा उद्यमियों को प्रदेश में अपनी इकाइयां स्थापित करने के लिए प्रभावी, पारदर्शी, समायिक व बिना किसी रुकावट से स्वीकृतियां प्रदान करना सुनिश्चित बनाया गया है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि धर्मशाला में इस वर्ष के जून माह में आयोजित होने वाले इंवेस्टर मीट के लिए राज्य सरकार औद्योगिक घरानों को प्रदेश में निवेश के लिए आमंत्रित करेगी और इस दौरान उन्हें राज्य में उपलब्ध निवेश की आपार संभावनाओं के बारे में जानकारी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि उन्होंने हाल ही में बैंगलुरु तथा हैदराबाद का दौरा कर उद्यमियों से भेंट कर प्रदेश में निवेश के लिए आमंत्रित किया। 

एस.आई.डी.सी के उपाध्यक्ष प्रो. राम कुमार ने मुख्यमंत्री तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत करते हुए कहा कि यह खाद्य पार्क क्षेत्र के लोगों को बरदान साबित होगा। उन्होंने कहा कि पार्क से जहां प्रदेश के युवाओं को रोजगार प्राप्त होगी, वहीं राज्य के किसानों की आर्थिकी सुदृढ़ होगी। 

उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ठाकुर, जिला भाजपा के अध्यक्ष बलवीर सिंह बग्गा, क्रेमिका खाद्य लिमिटेड के अध्यक्ष अक्षय बिक्टर व अन्य इस अवसर पर उपस्थित थे।

Have something to say? Post your comment
 
More Himachal News
मनाली में स्थापित की जाने वाली अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा की आधारशिला
शिक्षा विभाग ने किए स्कूल स्थापित करने के लिए दो समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित
सरकार प्रदेश में संस्कृत भाषा को लोकप्रिय बनाने के लिए प्रतिबद्ध - मुख्यमंत्री
जन मंच में 2,512 मांगपत्र एवं शिकायतें प्राप्त, अधिकतर शिकायतों का किया गया मौके पर निपटारा
44.12 करोड़ रुपये से बनेगा डेयरी फार्मिंग उत्कृष्टता केन्द्र - वीरेन्द्र कंवर
प्रदेश में शराब के अवैध परिवहन व बिक्री पर अंकुश लगाने के लिए बोटलिंग परिसरों में सीसीटीवी लगाए जाएंगे - मुख्यमंत्री
वीरभद्र की हालत में सुधार, मिल सकती है अस्पताल से छुट्टी
प्रदेश सरकार श्रमिकों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध - उद्योग मंत्री
अनुच्छेद 370 का हटाया जाना देश हित में एक अतुल्य निर्णय - मुख्यमंत्री
समाज के समग्र विकास के लिए लैंगिक समानता महत्वपूर्ण - बिक्रम सिंह