Follow us on
Sunday, May 26, 2019
Business

सालाना 72.6 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा है देश में डेटा उपभोग - एसोचैम

March 11, 2019 07:14 AM

नयी दिल्ली (भाषा) - देश में डेटा का उपभोग 72.6 प्रतिशत की सालाना दर से बढ़कर 2022 तक 1,09,65,879.30 करोड़ एमबी पर पहुंच जाने का अनुमान है। एक रिपोर्ट में यह कहा गया है। उद्योग एवं वाणिज्य संगठन एसोचैम और पीडब्ल्यूसी के एक अध्ययन के अनुसार देश में डेटा का उपभोग वर्ष 2017 में 7,16,710.30 करोड़ एमबी रहा जो 72.60 प्रतिशत की सालाना दर से बढ़कर 2022 तक 1,09,65,879.30 करोड़ एमबी पर पहुंच जाएगा।

अध्ययन में कहा गया, ‘‘डेटा की कीमत पहले की तुलना में सबसे निचले स्तर पर आ जाने तथा देश में स्मार्टफोन की संख्या बढ़ते जाने से यह माना जा सकता है कि वीडियो ऑन डिमांड का बाजार सबसे अधिक लाभान्वित होने वाला है। देश में डेटा का उपभोग स्पष्ट तौर पर बढ़ रहा है।’’

वर्ष 2013 तक औसत भारतीय उपभोक्ता मोबाइल डेटा से अधिक वॉयस सेवाओं पर खर्च करता था। अब यह स्थिति बदल गयी है और भारतीय उपभोक्ता डेटा पर अधिक खर्च कर रहे हैं। रिपोर्ट के अनुसार, वर्ष 2013 में वॉयस सेवाओं पर औसत मासिक खर्च 214 रुपये और औसत मासिक डेटा खर्च 173 रुपये था। वर्ष 2016 में वॉयस का औसत मासिक खर्च गिरकर 124 रुपये पर आ गया जबकि डेटा के मामले में यह 225 रुपये पर पहुंच गया।

नोकिया मोबाइल ब्राडबैंड इंडेक्स 2018 के अनुसार करीब 65 से 75 प्रतिशत डेटा वीडियो सेवाओं पर खर्च किया जाता है।

Have something to say? Post your comment
 
More Business News
अमेरिका-चीन व्यापार युद्ध का लाभ उठाने के लिए ब्याज दरों में कटौती करे भारत - फिक्की प्रमुख
चीन के साथ व्यापार को संतुलित करने के लिए निर्यात बढ़ाने, आयात निर्भरता में कमी की बात
स्थिर मजबूत सरकार से आर्थिक वृद्धि होगी तेज, बढ़ेगा विदेशी मुद्रा प्रवाह - उद्योग जगत
ओयो बना चीन का दूसरा सबसे बड़ा होटल समूह
मेड्रट्रॉनिक ने कहा, भारत में पेसमेकर वापस नहीं मंगाएंगे, सीडीएससीओ से कर रहे हैं बात
एक्जिट पोल पर उद्योग जगत की चुप्पी, नतीजों का इंतजार
भुगतान प्रणाली पर आरबीआई का दृष्टिपत्र से डिजिटल अर्थव्यवस्था को मिलेगा बल - फिनटेक
दूरसंचार उद्योग के वृद्धि और विस्तार के लिये इसके मानकीकरण की जरूरत, मदद करे उद्योग जगत - सचिव
एग्जिट पोल के नतीजे से पहले बाजार में जोरदार तेजी, सेंसेक्स 537 अंक उछला
सेनेगल को 400 मिनी बसों की आपूर्ति करेगी अशोक लेलैंड