Follow us on
Thursday, March 21, 2019
BREAKING NEWS
India

गांधी-नेहरू परिवार के पूंजी निर्माण का फॉरेंसिक ऑडिट हो जाए तो तथ्य सब बयान कर देंगे- जेटली

March 14, 2019 09:45 AM

नयी दिल्ली (भाषा) - केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने गांधी-नेहरू परिवार पर तीखा हमला बोलते हुए बुधवार को कहा कि यदि उनके ‘‘पूंजी निर्माण’’ का फॉरेंसिक ऑडिट (आपराधिक दृष्टि से समीक्षा) हो जाए तो तथ्य खुद ही सब बयान कर देंगे।

जेटली ने एक वेब पोर्टल पर प्रकाशित रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि परंपरागत तौर पर कई लोगों ने रिश्वतखोरी के जरिए भ्रष्टाचार पर भरोसा किया गया होगा, लेकिन अब एक नया तरीका स्थापित कर दिया गया है। जेटली ने कहा, ‘‘राजनीतिक और वाणिज्यिक सौदे कराने वाले और अपना काम निपटा कर रातों-रात निकल लेने वाले आपको मनपसंद सौदों का सुख देते हैं। इसमें बहुत कम निवेश में कुछ खास लोगों को छप्पर फाड़ मुनाफा मिलता है ताकि वे अपने लिए पूंजी बना सकें।’’

आगामी लोकसभा चुनावों के लिए भाजपा की प्रचार समिति के प्रमुख नियुक्त किए गए जेटली ने अपने ब्लॉग में लिखा, ‘‘राजनीतिक इक्विटी (अंशपूंजी) से सद्भावना पैदा की जाती है। इससे आप फैसलों को प्रभावित कर पाते हैं।’’ विस्तृत रूप से बताए बगैर उन्होंने लिखा, ‘‘जब पोल खुल जाती है’’ तो लाभार्थी ‘‘चालाक कारोबारी फैसलों’’ की आड़ में छुपने लगते हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘यदि कांग्रेस पार्टी के प्रथम परिवार के ‘पूंजी निर्माण’ का फॉरेंसिक ऑडिट कराया जाए तो तथ्य खुद ही सब बयान कर देंगे। शीशे के घरों मं  रहने वालों को (दूसरों पर) पत्थर नहीं फेंकने चाहिए। जेटली ने ‘‘क्या प्रधानमंत्री मोदी का पांच साल का पहला कार्यकाल भ्रष्टाचार पर निर्णायक मोड़ है?’’ शीर्षक वाली ब्लॉग पोस्ट में यह बातें लिखी। ‘एजेंडा 2019’ श्रृंखला में यह उनका तीसरा ब्लॉग है।

केंद्रीय मंत्री के ब्लॉग का समर्थन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘बिचौलियों की कोई जगह नहीं। भ्रष्टाचार जरा भी बर्दाश्त नहीं। कोई फर्जी लाभार्थी बच कर निकल नहीं सकता। यह नया भारत है। भ्रष्टाचार खत्म करने और भ्रष्ट को दंडित करने के लिए हमने कड़ी मेहनत की है।’’

इससे पहले, भाजपा ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एवं उनकी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा पर जमीन सौदों में कथित भ्रष्टाचार को लेकर निशाना साधा और दावा किया कि भ्रष्टाचार को ‘‘संस्थागत’’ बनाने के लिए ख्यात विपक्षी पार्टी अब ‘‘पारिवारिक भ्रष्टाचार’’ को परिभाषित करने लगी है।

एक मीडिया रिपोर्ट का हवाला देते हुए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने पत्रकारों को बताया कि रॉबर्ट वाड्रा तो विवादित जमीन सौदों में बस एक मुखौटा हैं और उनके साले राहुल गांधी ‘‘असल चेहरा’’ हैं। इन आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, ‘‘हार सामने देखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके पसंदीदा लोग पूरी तरह बेबुनियाद और फर्जी आरोप लगाने पर उतर आए हैं।’’

Have something to say? Post your comment
 
More India News
उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश न्यायमूर्ति पी सी घोष देश के पहले लोकपाल नियुक्त
राजनीतिक दल प्रचार अभियान में सैन्य अभियानों के इस्तेमाल से बचें - चुनाव आयोग
दिल्ली में आप-कांग्रेस गठबंधन पर संशय बरकरार
करतारपुर कॉरिडोर के मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान ने की तकनीकी वार्ता
मोदी फिर जीते तो देश में शायद चुनाव न हों - गहलोत
गोवा के नए मुख्यमंत्री बने प्रमोद सावंत, 11 कैबिनेट मंत्रियों ने भी ली शपथ
राफेल सौदे में पकड़े जाने के बाद मोदी पूरे देश को चौकीदार बनाने की कोशिश में - राहुल
अदालत ने आयकर विभाग को जेल में वकील गौतम खेतान से पूछताछ की इजाजत दी
पर्रिकर पंच तत्वों में विलीन : हजारों लोगों ने नम आंखों से दी अंतिम विदाई
गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का निधन