Follow us on
Friday, April 19, 2019
Business

विवाद में उलझने के बजाय उपभोक्ताओं की समस्याओं को दूर करें सेवा प्रदाता कंपनियां - उपभोक्ता अदालत

April 12, 2019 09:42 AM

नयी दिल्ली (भाषा) - सेवा प्रदाता कंपनियों को उपभोक्ताओं की समस्याओं का निवारण करने के ईमानदारी के साथ प्रयास करने चाहिये। इन कंपनियों से उम्मीद की जाती है कि वे चीजों को समझने की कोशिश करेंगे और कानूनी लड़ाई में उलझने के बजाय उपभोक्ताओं के प्रति सहानुभूतिपूर्ण रवैया अपनाएंगे। एक शीर्ष उपभोक्ता न्यायालय ने यह टिप्पणी की है।

राष्ट्रीय उपभोक्ता विवाद निवारण आयोग (एनसीडीआरसी) ने हुंदै मोटर इंडिया लिमिटेड की एक याचिका पर सुनवाई करते हुए यह टिप्पणी की। एक उपभोक्ता अदालत ने कंपनी को आदेश दिया था कि वह एक मामले में उपभोक्ता को खराब कार के बदले नयी कार दे या पूरी रकम वापस करे। कंपनी ने इस आदेश पर पुनर्विचार याचिका दायर की थी।

आयोग ने कहा कि जब कोई कंपनी जिला उपभोक्ता अदालत के फैसले के खिलाफ एक महीने से अधिक की देरी के बाद अपील करती है तो यह कोताही, अहंकार और अशिष्टता है। आयोग ने कहा, सेवा प्रदाताओं से केवल यह उम्मीद की जा सकती है कि कंपनियां उपभोक्ताओं को बेहतर सेवा देने में सुधार लाने पर ही अपनी सारी ऊर्जा खर्च करेगी।

संबंधित मामले में रायुपर निवासी सुरेश कुमार शर्मा ने 15,84,104 रुपये में हुंदै की एलांट्रा कार ली थी। शर्मा के अनुसार कार के स्टियरिंग में खराबी थी। उन्होंने दावा किया कि उन्हें 17 बार कार को सर्विसिंग के लिये ले जाना पड़ा लेकिन इसके बाद भी दिक्कत दूर नहीं हुई। हालांकि, कंपनी ने इससे असहमति जताते हुये कहा कि इनमें से कई मौकों पर कार को सामान्य प्रकृति के कार्यों के लिये ही लाया गया।

अदालत ने आदेश में कहा कि कार के स्टियरिंग में खराबी परेशान करने वाला और खतरनाक है। इसे सामान्य नहीं कहा जा सकता है। पीठ के अध्यक्ष अनुप कुमार ठाकुर ने कहा, ‘‘जब एक आदमी 15 लाख रुपये से अधिक खर्च कर एक कार खरीदता है, वह भी हुंदै जैसी नामी कंपनी से, तब वह कई साल तक बिना दिक्कत के सुविधा की उम्मीद करता है। वह कतई एक ही मामले को लेकर बार-बार सर्विस सेंटर नहीं जाना चाहता है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं इसमें यही कहना चाहूंगा कि कंपनी को अपनी पूरी ऊर्जा अपने ग्राहकों की संतुष्टि के लिये लगानी चाहिये।’’

Have something to say? Post your comment
 
More Business News
टाइम की 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूची में अंबानी, अरुंधति काटजू और मेनका गुरुस्वामी
दिल्ली में सम्पन्न हुई बालों की समस्याओं के संदर्भ में राष्ट्र स्तरीय कॉफ्रेस
सुरेश प्रभु ने जेट एयरवेज से जुड़े मुद्दों की समीक्षा का निर्देश दिया
देश का सेवा निर्यात फरवरी में 5.5 प्रतिशत बढ़ा
नये घोटाले का रास्ता खोलेगी कांग्रेस की न्याययोजना - गोयल
जौहरियों की सोने की हॉलमार्किंग में मानकीकरण की मांग
खाद्य वस्तुओं के दाम बढ़ने से मार्च में खुदरा मुद्रास्फीति बढ़कर 2.86 प्रतिशत हुई
भारत में कुछ सुधारों से डिजिटलीकरण के फायदे नजर आए - आईएमएफ
सरकार ने 3.4 प्रतिशत राजकोषीय घाटे का लक्ष्य हासिल कर लिया - सू्त्र
घरेलू मांग की बदौलत भारत की आर्थिक वृद्धि तेज, निर्यात पर ध्यान देने की जरूरत - विश्वबैंक