Follow us on
Friday, April 19, 2019
Business

जौहरियों की सोने की हॉलमार्किंग में मानकीकरण की मांग

April 14, 2019 08:22 AM

कोलकाता (भाषा) - देश के बड़े जौहरियों ने सरकार से सोने की हॉलमार्किंग के मानकीकरण की मांग की है। उनका कहना है कि सोने की शुद्धता की माप के लिए कई तरह के मानक होने से सर्राफा उद्योग जगत में असमंजस की स्थिति पैदा हो जाती है। अखिल भारतीय रत्न एवं आभूषण घरेलू परिषद (जीजेसी) ने उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय से अपील की है कि देशभर में हॉलमार्किंग शुद्धता के लिए मानकीकरण किया जाए।

जीजेसी के उप-चेयरमैन शंकर सेन ने कहा कि हॉलमार्किंग प्रक्रिया में विभिन्न उत्पादों के 14, 18 और 22 कैरेट जैसे अलग-अलग मानक हैं। उदाहरण के लिए सोने की बिस्कुट और सिक्कों के लिए शुद्धता मानक क्रमश: 20 और 24 कैरेट हैं।

उन्होंने कहा कि इससे आभूषण उद्योग में शुद्धता को लेकर असमंजस की स्थिति बन जाती है। ऐसे में इस प्रक्रिया के मानकीकरण की आवश्यकता है।

Have something to say? Post your comment
 
More Business News
टाइम की 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूची में अंबानी, अरुंधति काटजू और मेनका गुरुस्वामी
दिल्ली में सम्पन्न हुई बालों की समस्याओं के संदर्भ में राष्ट्र स्तरीय कॉफ्रेस
सुरेश प्रभु ने जेट एयरवेज से जुड़े मुद्दों की समीक्षा का निर्देश दिया
देश का सेवा निर्यात फरवरी में 5.5 प्रतिशत बढ़ा
नये घोटाले का रास्ता खोलेगी कांग्रेस की न्याययोजना - गोयल
खाद्य वस्तुओं के दाम बढ़ने से मार्च में खुदरा मुद्रास्फीति बढ़कर 2.86 प्रतिशत हुई
विवाद में उलझने के बजाय उपभोक्ताओं की समस्याओं को दूर करें सेवा प्रदाता कंपनियां - उपभोक्ता अदालत
भारत में कुछ सुधारों से डिजिटलीकरण के फायदे नजर आए - आईएमएफ
सरकार ने 3.4 प्रतिशत राजकोषीय घाटे का लक्ष्य हासिल कर लिया - सू्त्र
घरेलू मांग की बदौलत भारत की आर्थिक वृद्धि तेज, निर्यात पर ध्यान देने की जरूरत - विश्वबैंक