Follow us on
Friday, May 24, 2019
Sports

दिल्ली की निगाहें चेन्नई को हराकर पहले आईपीएल फाइनल में पहुंचने पर

May 10, 2019 06:26 AM

विशाखापत्तनम (भाषा) - दिल्ली कैपिटल्स को शुक्रवार को यहां होने वाले दूसरे क्वालीफायर में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रही चेन्नई सुपरकिंग्स को हराने के लिये कड़ी मशक्कत करनी होगी जिसके बाद ही उसका अपने पहले आईपीएल फाइनल में पहुंचने का रास्ता साफ होगा।

चेन्नई सुपरकिंग्स ने ही दिल्ली कैपिटल्स को चेपक पर 80 रन से शिकस्त देकर लीग तालिका में शीर्ष दो स्थान हासिल करने से रोक दिया था और अब फिर क्वालीफायर दो में महेंद्र सिंह धोनी की टीम उसकी राह में खड़ी है।  

बुधवार को एलिमिनेटर में अंतिम ओवरों के तनावपूर्ण क्षण में मिली जीत में दिल्ली कैपिटल्स के स्टार खिलाड़ी ऋषभ पंत ने अहम भूमिका अदा की जिससे टीम का मनोबल बढ़ा होगा। हालांकि वह टीम के लिये मैच फिनिश नहीं कर सके जिससे उन्हें इसकी आलोचना का सामना भी करना होगा। लेकिन दूसरा क्वालीफायर मैच विजयी पारी खेलकर आलोचकों को चुप कराने के लिये उन्हें बेहतर मंच प्रदान करेगा।

एक अन्य युवा खिलाड़ी पृथ्वी साव ने 56 रन की अर्धशतकीय पारी से महत्वपूर्ण भूमिका निभायी और पिछली तीन पारियों में कम स्कोर बनाने के बाद टीम के लिये अच्छा योगदान करके वह खुश होंगे। दिल्ली की टीम यहां पहले ही एक मैच (एलिमिनेटर) खेल चुकी है तो उसे यहां की परिस्थितियों को बेहतर तरीके से जानने का फायदा मिलेगा।

उसके तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट और इशांत शर्मा ने कागिसो रबाडा की अनुपस्थिति में अच्छा प्रदर्शन किया और कीमो पॉल ने उनका अच्छा साथ निभाते हुए तीन विकेट हासिल किये।  अनुभवी स्पिनर अमित मिश्रा फिर से किफायती रहे और उन्होंने एक विकेट भी प्राप्त किया।

टीम के बल्लेबाज भी राहत की सांस लेंगे कि उन्हें इमरान ताहिर और हरभजन सिंह की फिरकी का सामना चेन्नई में टर्न लेती पिच पर नहीं करना होगा लेकिन फिर भी इनसे निपटना उनके लिये चुनौतीपूर्ण होगा। हालांकि टीम एलिमिनेटर में खेलकर आगे के मुश्किल मुकाबले के लिये निश्चित रूप से तैयार हो गयी होगी।

वहीं दूसरी ओर चेन्नई सुपरकिंग्स इस तरह के बड़े मैचों में खेलने की आदी है, वह तीन बार इस खिताब को जीतने के अलावा चार बार उप विजेता रह चुकी है। टीम को हालांकि क्वालीफायर एक में मुंबई इंडियंस से शिकस्त झेलनी पड़ी लेकिन वह स्टाइल में वापसी करेगी। मुंबई इंडियंस के खिलाफ निराशाजनक प्रदर्शन के बाद धोनी अपने बल्लेबाजों से सुधरे प्रदर्शन की उम्मीद करेंगे।

सलामी बल्लेबाज शेन वाटसन 23 अप्रैल को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ 53 गेंद में 96 रन की पारी खेलने के बाद ज्यादा रन नहीं जुटा सके हैं।  टीम के करिश्माई कप्तान ने स्वीकार किया था कि मुंबई इंडियंस के खिलाफ घरेलू मैच में वे पिच के हालात को समझ सकते थे और उन्होंने अपने बल्लेबाजों को शाट चयन के बारे में ताकीद भी किया।

धोनी ने मुंबई से छह विकेट की हार के बाद कहा, ‘‘हमारे पास ये सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं, ऐसा दिखता है कि हम अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं लेकिन कभी कभार वे ऐसे शाट खेलते हैं जो उन्हें नहीं खेलने चाहिए। ये खिलाड़ी अनुभवी हैं और उन्हें हालात को बेहतर तरीके से समझना चाहिए। ’’

मैच भारतीय समयानुसार शाम साढ़े सात बजे से शुरू होगा।

Have something to say? Post your comment
 
More Sports News
जोकोविच के इतिहास बनाने के रास्ते में नडाल, फेडरर की चुनौती
चीन से 5-0 से हारकर भारत सुदीरमन कप से बाहर
बीसीसीआई चुनाव 22 अक्टूबर को - सीओए
इंडियन ओपन में 10 भारतीयों का पदक पक्का, सेमीफाइनल में टकरा सकती है मेरीकोम और निकहत
सबसे सफल सलामी जोड़ी के रूप में विश्व कप में उतरेंगे रोहित और धवन
विश्व कप में बतौर कप्तान कोहली की होगी असल परीक्षा
महिला क्रिकेट में सोया हुआ शेर है भारत - आस्ट्रेलियाई कोच
विश्व कप में बन सकते हैं पारी में 500 रन, इसी अपेक्षा में ईसीबी ने बदला फैंस स्कोरकार्ड
पीजीटीआई प्लेयर्स चैंपियनशिप में चिनप्पा की बढ़त बरकरार
बीसीसीआई लोकपाल के समक्ष पेश हुए तेंदुलकर और लक्ष्मण