Follow us on
Friday, May 24, 2019
Himachal

मोदी बिना टीम के कप्तान, राफाल पर संसद में आंख से आंख नहीं मिला पाए - राहुल

May 11, 2019 07:06 AM

ऊना - देश में लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण में पहुंचने पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर और हमलावर होते हुए उन्हें बिना टीम का कप्तान बताया और कहा कि राफाल मुद्दे पर सच्चाई जानने के लिए संसद में उनके सवालों पर वह उनसे आंख से आंख तक नहीं मिला पाए।

गांधी ने हिमाचल प्रदेश के ऊना में हमीरपुर सीट से पार्टी प्रत्याशी रामलाल ठाकुर और चंडीगढ़ में पार्टी प्रत्याशी और पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन कुमार बंसल के लिए चुनावी जनसभाओं को सम्बोधित करते हुये कहा कि प्रधानमंत्री खुद को चौकीदार कहते हैं लेकिन वह उन्हें बताना चाहते हैं कि प्रधानमंत्री कभी चौकीदार नहीं हो सकता। उसका काम जनता की आवाज सुनना और उसकी भलाई करना होता है। लेकिन अगर आप चौकीदार बने हैं तो देश जानना चाहता है कि राफाल सौदे में अनिल अम्बानी को 30 हजार करोड़ क्यों दे दिये।

कांग्रेस अध्यक्ष ने दावा किया कि फ्रांस के राष्ट्रपति कहते हैं कि हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री ने उनसे राफाल विमान ठेका अनिल अम्बानी को देने की सिफारिश की थी। उन्होंने मोदी से पूछा कि अगर आप चौकीदार हैं तो देश को बताईये कि फ्रांस के राष्ट्रपति आपके बारे में ऐसा क्यों कह रहे हैं। उन्होंने यह भी दावा किया कि रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने राफाल सौदे की फाईल में स्वयं लिखा है कि मोदी इस सौदे पर फ्रांस सरकार और रफाल बनाने कम्पनी दसाल्ट के साथ समानांतर बातचीत कर रहे हैं।

गांधी ने कहा कि उन्होंने मोदी को संसद में उन्हें राफाल मुद्दे पर देश को सच्चाई बताने के लिये पूरा मौका दिया और उनसे इस सवालों का जबाव देने को कहा कि 526 करोड़ रूपये का विमान 1600 करोड़ रूपये क्या खरीदा। हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड(एचएएल) को ठेका क्यों नहीं दिया। अम्बानी को क्याे दिया। उन्होंने दावा किया कि मोदी ने संसद में अपने डेढ़ घंटे के भाषण में लेकिन कथित तौर पर इधर उधर की बातें की लेकिन असली मुद्दे का जबाव नहीं दिया। ‘प्रधानमंत्री ने मेरे सवालों का जबाव नहीं दिया। यहां तक वह मुझसे संसद में पूछे सवालों पर आंख से आंख नहीं मिला पाये और इधर ऊधर ही देखते रहे।‘

उन्होंने कहा कि मोदी बिना टीम के कप्तान हैं। उन्होंने अपनी ही टीम के लोगों की इज्जत नहीं की। इस सम्बंध में उन्होंने अपने कोच लालकृष्ण आडवाणी को ही सबसे पहले दरकिनार किया। कबड्डी खेल का जिक्र करते हुये उन्होंने दावा किया कि मोदी की टीम के सदस्यों गडकरी, सुषमा और जेटली ने उन्हें सलाह दी थी कि वह अकेले न चलें लेकिन श्री मोदी ने अपनी टीम का इस्तेमाल नहीं किया और वह अकेले ही निकल पड़े भिढ़ने। उन्होंने कहा कि कांग्रेस एक कूटनीति और टीम के साथ चुनाव मैदान में उतरी है और दावा किया कि मोदी की हार निश्चित है। कांग्रेस की टीम ने उन्हें नियाेजित और कुटनीति से घेर लिया है और अब उनका खेल खत्म है और चुनाव भी खत्म है।

Have something to say? Post your comment
 
More Himachal News
मौसम विभाग ने जारी की येलो चेतावनी, 22-23 को भारी बारिश
चम्बा में पिछले 7 दिनों से मलबे में दबी मशीन व ऑप्रेटर का नहीं मिला सुराग
हिमाचल प्रदेश में 5 बजे तक 66 फीसदी मतदान
आखिरी चरण के मतदान में एक बार फिर वोट डालने को तैयार भारत के पहले मतदाता
सोलन में गरजेंगे राहुल गांधी, पुलिस मैदान में होगी जनसभा
प्रियंका ने वीडियो संदेश में मंडी के मतदाताओं से समर्थन मांगा
कांग्रेस ने एटीएम की तरह किया रक्षा सौदों का इस्तेमाल - मोदी
प्रधानमंत्री की मंडी में रैली से मोदी लहर तेज - जयराम ठाकुर
10वीं में फ़ैल हुई छात्रा ने ज़हर खाकर ख़तम कर ली अपनी ज़िन्दगी
मोदी की रैली में बैग ले जाने पर रहेगी पाबंदी