Follow us on
Sunday, August 18, 2019
Business

कामकाजी माताओं के लिये दफ्तरों में सहयोगात्मक माहौल बनाने की जरूरत - एसोचैम

May 12, 2019 07:19 AM

लखनऊ (भाषा) - उद्योग मण्डल 'एसोचैम' ने अंतरराष्ट्रीय मातृ दिवस पर महिला सशक्तीकरण के प्रति प्रतिबद्धता जाहिर करते हुए कामकाजी माताओं के लिये दफ्तरों में सहयोगात्मक माहौल बनाने की जरूरत पर जोर दिया है।

एसोचैम के अध्यक्ष बी. के. गोयनका ने शनिवार को यहां एक बयान में कहा 'दफ्तरों और कामकाज के अन्य स्थानों पर महिलाओं की बढ़ती भागीदारी के मद्देनजर एक अलग माहौल बनाने की जरूरत है। कामकाजी माताओं के लिये कार्यस्थलों के वातावरण को उनकी सुविधा के हिसाब से रूपान्तरित किये जाने और काम करने के घंटों में लचीलापन लाने की जरूरत है।' उन्होंने कहा कि अनेक कम्पनियों ने कामकाजी माताओं की जरूरतों के हिसाब से अपने संचालनात्मक ढांचे को ढालने का काम शुरू कर दिया है।

गोयनका ने कहा कि उनकी नजर में स्वस्थ समाज के निर्माण में महिला सशक्तीकरण बेहद जरूरी है। लिहाजा कुल श्रम शक्ति में महिलाओं की भागीदारी को बढ़ाना भी आवश्यक है। पिछले पांच वर्षों के दौरान श्रम शक्ति में महिलाओं की भागीदारी का प्रतिशत 25 पर ही बना हुआ है।

उन्होंने कहा कि इस भागीदारी को बढ़ाने के लिये उन्हें कार्यस्थल पर अनुकूल माहौल दिया जाना चाहिये, ताकि वे अपनी मातृत्व सम्बन्धी जिम्मेदारियों और दफ्तर के दायित्वों के बीच संतुलन बना सकें। एसोचैम अध्यक्ष ने कहा कि उनका संगठन आर्थिक गतिविधियों में महिलाओं की भूमिका बढ़ाने के लिये अनेक कदम उठा रहा है। चैम्बर ने 'स्टार्ट-अप' योजना के तहत महिलाओं के क्षमता विकास तथा प्राविधिक प्रशिक्षण की दिशा में काम शुरू किये हैं।

Have something to say? Post your comment
 
More Business News
डीजीसीए मल्टी-क्रू पायलट लाइसेंस व्यवस्था पर कर रहा विचार
अर्थव्यवस्था की बेहतरी के लिये प्रधानमंत्री कार्यालय के साथ बातचीत जारी - सीतारमण
भारत, चीन अब विकासशील देश नहीं, डब्ल्यूटीओ से लाभ लेने नहीं देंगे - ट्रंप
भारत, रूस 2025 तक 30 अरब डॉलर के द्विपक्षीय व्यापार का लक्ष्य हासिल करने के लिये बढ़ाएंगे सहयोग
जम्मू-कश्मीर, लद्दाख में विकासात्मक कार्यों के लिए विशेष कार्यबल गठित करेगी रिलायंस - मुकेश अंबानी
टीवी पैनलों की बिक्री गिरी, जीएसटी में कमी की मांग
डीजीसीए ने स्पाइसजेट के दो पायलटों को एक साल के लिये निलंबित किया
शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 238.59 अंक मजबूत
स्टेट बैंक के प्रबंध निदेशक दिनेश कुमार का कार्यकाल दो साल बढ़ा
बैंकों ने ब्याज में 0.75% कटौती में से मात्र 0.29 प्रतिशत लाभ ग्राहकों तक पहुंचाया