Follow us on
Friday, May 24, 2019
India

गरीबी ही मेरी जाति है - मोदी

May 12, 2019 07:38 AM

गाजीपुर/सोनभद्र (उप्र) (भाषा) - प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपनी जाति को लेकर विपक्ष द्वारा लगाये जा रहे आरोपों का जवाब देते हुए शनिवार को कहा कि देश के गरीबों की जो जाति है वही मेरी जाति है। मोदी ने गाजीपुर और सोनभद्र में चुनावी सभाओं को सम्बोधित करते हुए कहा 'इस पूरे चुनाव के दौरान पहले चरण से सपा, बसपा वाले मेरी जाति को लेकर हमले करते रहे हैं। मैं पिछड़ी जाति में पैदा जरूर हुआ लेकिन हर पिछड़े, गरीब को इस देश का अगड़ा बनाने के लिये दिन—रात एक कर रहा हूं।

मुझसे जब लोग मेरी जाति का सर्टिफिकेट मांगते हैं तो मैं कहता हूं कि गरीबी ही मेरी जाति है।' उन्होंने कहा 'जो भी खुद को गरीब मानता है मैं उसकी जाति का हूं। इसलिये जो सामान्य समाज है, जिनके गरीब बच्चों को कोई पूछने वाला नहीं था, उन गरीबों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण भी मैंने ही दिया क्योंकि मेरी जाति गरीब की है। जिस गरीब के पास घर नहीं था, उसे घर दे दिया, क्योंकि मेरी जाति गरीब की है।'

मोदी ने कहा कि सपा—बसपा के नेता गरीबी और जातिवाद के नाम पर गरीबों का शोषण करके अरबों—खरबों के मालिक बन गये। इन लोगों को तो कभी पांच साल तो कभी दो साल मुख्यमंत्री बनने का मौका मिला, मगर मैं गुजरात का सबसे लम्बे समय तक मुख्यमंत्री रहा। पांच साल से प्रधानमंत्री हूं। मेरा खाता देख लीजिये, कहीं पैसा और मकान मिल जाए तो कहिये।

गाजीपुर में प्रधानमंत्री ने कहा कि हमने साबित कर दिया कि विकास बिना किसी भेदभाव के सुनिश्चित किया जा सकता है, हम ‘सबका साथ, सबका विकास’ में यकीन करते हैं।

उन्होंने कांग्रेस नेता सैम पित्रोद की 'हुआ तो हुआ' टिप्पणी के जरिये विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस और उसके महामिलावटी साथियों का मंत्र ही है, हुआ तो हुआ। देश में गरीबी और महंगाई बढ़ती रही, मगर ये महामिलावटी कहते रहे कि हुआ तो हुआ।

देश का गरीब इलाज के लिये परेशान होता रहा, मगर ये महामिलावटी कहते रहे कि हुआ तो हुआ। देश के हजारों गांव, करोड़ परिवार बिजली के बिना परेशान होते रहे, ये लोग कहते रहे हुआ तो हुआ। यह अहंकार, खुद को राजा समझने और देश के लोगों को अपना गुलाम समझने की प्रवृत्ति कांग्रेस और उसके साथियों सपा, बसपा में कूट—कूटकर भरी हुई है।

उन्होंने कहा 'यह हमारी ही सरकार है जिसने बलात्कार जैसे जघन्य अपराध के लिये फांसी तक की सजा का प्रावधान किया है। महिला हितों और महिला सुरक्षा के प्रति हम पूरी तरह संवेदनशील हैं, लेकिन महिला सुरक्षा को लेकर कांग्रेस किस तरह का काम कर रही है, वह देश आज भी देख रहा है।' मोदी ने राजस्थान के अलवर में गत 26 अप्रैल को एक विवाहिता से सामूहिक बलात्कार की वारदात का जिक्र करते हुए कहा कि उन दरिंदों को पकड़ने के बजाय वहां की पुलिस, वहां की कांग्रेस सरकार चुनाव में नुकसान होने के डर से इस केस को ही छुपाने और दबाने में जुट गये। यही कांग्रेस के न्याय की सच्चाई है।

उन्होंने कहा कि देश में असहिष्णुता बढ़ने की बात कहकर जो लोग अवार्ड वापस कर रहे थे, उनसे पूछना चाहता हूं कि अलवर कांड पर अवार्ड वापसी गैंग क्यों चुप बैठा है। मोदी ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी के एक कथित बयान का जिक्र किया और कहा कि कुमारस्वामी के मुताबिक सेना में तो वही लोग जाते हैं, जिनके पास खाने के लिये नहीं होता है। कांग्रेस, सपा, बसपा ने अपने इस साथी के बयान को अभी तक गलत नहीं ठहराया है। उनकी चुप्पी बताती है कि वो आपके इस अपमान का समर्थन करते हैं। वीर माताओं का अपमान करते हैं।

प्रधानमंत्री ने आरोप लगाया कि महामिलावटी सरकार राष्ट्रीय सुरक्षा को भी खतरे में डाल देती है। 'याद कीजिये जब तीसरे मोर्चे की महामिलावटी सरकार थी, यही सपा मंत्रिमण्डल में शामिल थी और इन्होंने देश का क्या हाल कर दिया था। हमारे खुफिया और सुरक्षा तंत्र से जुड़े कई लोगों ने इस बारे में बहुत कुछ लिखा है। आप पढ़ेंगे तो रोंगटे खड़े हो जाएंगे।' उन्होंने कहा कि 'लिखने वाले लोगों ने बताया कि किस तरह महामिलावटी सरकार ने हमारे खुफिया तंत्र को खोखला कर दिया था।

इसका खामियाजा पूरे देश को लम्बे समय तक भुगतना पड़ा था। तीसरे मोर्चे की सरकार ने उस वक्त जो कुछ किया वह किसी बड़े अपराध से जरा भी कम नहीं था। वह तो वाजपेयी जी की सरकार आयी। उन्होंने कदम उठाये और देश को बचा लिया।' प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘लेकिन दुर्भाग्य से अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार जाने के बाद देश ने फिर ऐसी कमजोर और रिमोट कंट्रोल वाली सरकार देखी, जिसने देश की साख को ही दांव पर लगा दिया। इतना भ्रष्टाचार, लाखों करोड़ों के घोटाले, हर तरफ त्राहि—त्राहि मची थी।’’

उन्होंने कहा कि आज का दिन यानी 11 मई इस बात का जीता—जागता सुबूत है, जब 21 साल पहले आज ही के दिन भारत ने परमाणु परीक्षण किया था। मैं उन सभी वैज्ञानिकों को नमन करता हूं, जिन्होंने अपनी मेहनत से देश को गौरव दिलाया था। वाजपेयी सरकार से पूर्व की सरकारों में वह हिम्मत नहीं थी कि ऐसा फैसला ले सके।

मोदी ने कहा कि यह नया भारत है। जो आतंकियों के घर में घुसकर मारता है। गुजरे पांच वर्षों में नक्सलवाद को भी हमने देश के एक बहुत छोटे हिस्से तक सीमित कर दिया है। उन्होंने कहा कि अनपरा और ओबरा में बिजली उत्पादन होने के बावजूद बिजली देने में सोनभद्र के साथ भेदभाव किया जाता था। हमारी सरकार ने इस स्थिति को बदलने का प्रयास किया है।

Have something to say? Post your comment
 
More India News
फिर एक बार भाजपा सरकार, पूरे देश में प्रचंड मोदी लहर
तेलंगाना में भाजपा ने चौंकाया, जीतीं चार लोकसभा सीटें
भारत एक बार फिर जीता - मोदी
अमेठी में राहुल और स्मृति के बीच दिल थाम देने वाली टक्कर
भारत के इतिहास में पहली बार बहुमत के साथ लगातार दूसरी गैर-कांग्रेसी सरकार
फिर बनेगी मोदी सरकार या विपक्ष करेगा चमत्कार?
राफेल मामले में सरकार ने जानबूझकर अदालत को किया गुमराह - याचिकाकर्ता
गृह मंत्रालय ने राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों से अलर्ट रहने को कहा
लोकसभा चुनाव मतगणना : सभी तैयारियां पूरी, परिणामों में हो सकता है कुछ विलंब
वायुसेना ने ब्रह्मोस मिसाइल के हवा से सतह पर मार करने वाले संस्करण का सफल परीक्षण किया