Follow us on
Sunday, June 16, 2019
Business

शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 200 अंक से अधिक गिरा

June 08, 2019 07:56 AM

मुंबई (भाषा) - गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी)की स्थिति पर आशंकाओं के बीच वित्तीय कंपनियों में गिरावट आने से शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 200 अंक से अधिक गिर गया। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 211.04 अंक यानी 0.53 प्रतिशत की गिरावट के साथ 39,318.68 अंक पर चल रहा था। इसी तरह एनएसई का निफ्टी भी 34.25 अंक यानी 0.29 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,809.50 अंक पर चल रहा था।

रिजर्व बैंक द्वारा रेपो दर घटाने के बाद भी बृहस्पतिवार को दोनों प्रमुख घरेलू शेयर बाजारों में इस साल की सबसे बड़ी एक दिनी गिरावट देखने को मिली। इसका कारण रहा कि रिजर्व बैंक एनबीएफसी क्षेत्र को लेकर निवेशकों की चिंताओं को दूर करने में असफल रहा।

बृहस्पतिवार को सेंसेक्स 553.82 अंक यानी 1.38 प्रतिशत की गिरावट के साथ 39,529.72 अंक पर बंद हुआ था। निफ्टी भी 177.90 अंक यानी 1.48 प्रतिशत गिरकर 11,843.75 अंक पर बंद हुआ था। सेंसेक्स की कंपनियों में इंडसइंड बैंक, सन फार्मा, कोटक बैंक, मारुति सुजुकी, पावरग्रिड, हिंदुस्तान यूनिलीवर, ओएनजीसी, टीसीएस, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी और एचडीएफसी बैंक के शेयर 1.38 प्रतिशत तक की गिरावट में चल रहे थे।

इनसे इतर वेदांता, भारतीय स्टेट बैंक, इंफोसिस, एलएंडटी, बजाज फाइनेंस और महिंद्रा एंड महिंद्रा के शेयर तेजी में चल रहे थे। शुरुआती आंकड़ों के अनुसार, बृहस्पतिवार को विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने 1,448.99 करोड़ रुपये की शुद्ध बिकवाली की। इसी तरह घरेलू संस्थागत निवेशक भी 650.84 करोड़ रुपये के शुद्ध बिकवाल रहे।

एशियाई बाजारों में कारोबार के दौरान मिश्रित रुख देखने को मिला।

Have something to say? Post your comment
 
More Business News
नीति आयोग की संचालन परिषद की पांचवीं बैठक शुरू
भारत 2024 तक बन जाएगा 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था - केंद्रीय मंत्री पुरी
आधार संशोधन विधेयक को मंत्रिमंडल की मंजूरी, संसद के अगले सत्र में होगा पेश
आयकर विभाग ने गौतम खेतान के खिलाफ दायर किए चार नए आरोपपत्र
सरकार ने भ्रष्टाचार, कदाचार के लिए 12 वरिष्ठ आयकर अधिकारियों को बर्खास्त किया
भारत ने जी20 देशों से डिजिटल कंपनियों पर कर लगाने के शीघ्र समाधान पर ध्यान देने को कहा
जम्मू एंड कश्मीर बैंक के चेयरमैन परवेज अहमद हटाए गए, छिब्बर अंतरिम प्रमुख नियूक्त
आरबीआई को उम्मीद, सरकार राजकोषीय मजबूती के रास्ते पर आगे बढ़ती रहेगी
जेट एयरवेज की असफलता नींद से जागने का समय - अजय सिंह
रोजगार सृजन पर होगा जोर - सावंत