Follow us on
Sunday, June 16, 2019
Punjab

कैप्टन द्वारा सरकार की अहम स्कीमों की समीक्षा और संशोधन के लिए सलाहकारी ग्रुपों की घोषणा

June 09, 2019 08:41 AM

चंडीगढ़ - पंजाब सरकार के महत्वपूर्ण प्रोग्रामों और स्कीमों की प्रगति की समीक्षा करने और इनमें ज़रूरी बदलाव के लिए सलाहकारी ग्रुपों का गठन करने का हुक्म देने के एक दिन बाद पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने शहरी कायाकल्प एवं सुधार प्रोग्रामों में सुधार लाने और नशा विरोधी मुहिम का मोर्चा संभाला है।

सरकारी की महत्वपूर्ण स्कीमों को लागू करने में तेज़ी लाने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री ने आठ समर्पित सलाहकारी ग्रुपों का गठन करने का हुक्म दिया है। यह ग्रुप प्रोग्रामों/स्कीमों के प्रदर्शन का जायज़ा लेने के साथ-साथ इन सम्बन्धी अनुमान भी लगाएंगे जिससे इनमें आगे और सुधार के लिए सिफारिशें की जा सकें । यह ग्रुप प्रोग्रामों /स्कीमों के मौजूदा दिशा-निर्देशों में संशोधन/अपडेशन सम्बन्धी भी सिफारिशें देंगे जिससे समुदायों /लोगों की इनमें प्रभावी भागेदारी करवाने के अलावा इन प्रोग्रामों /स्कीमों की लोगों तक पहुँच में सुधार लाने के तौर-तरीकों बारे भी सुझाव देंगे ।

शुक्रवार शाम को मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा इन ग्रुपों की सूची जारी की गई जिसमें कहा गया है कि सचिव /कनवीनर ग्रुप के सदस्यों को प्रोग्रामों और स्कीमों के मौजूदा दिशा-निर्देशों और उनके प्रदर्शन से अवगत करवाएंगे जिससे इनको लागू करने में कठिनाईयों को दूर किया जा सके । यह ग्रुप ज़रूरत अनुसार अपनी मीटिंगें करेंगे और यह दिए गए कार्य को चार हफ़्तों में मुकम्मल किये जाने को यकीनी बनाएंगे।  इसके बाद यह अपनी रिपोर्टें मुख्यमंत्री के पास पेश करेंगे । ग्रुप का चेयरमैन ज़रूरत अनुसार किसी अन्य मैंबर को भी इनमें को-ऑप्ट कर सकता है जिससे ग्रुप के उद्देश्यों को प्राप्त किया जा सके।

इन ग्रुपों की रिपोर्टों पर जुलाई 2019 में मंत्रीमंडल की होने वाली मीटिंग के दौरान विचार किया जायेगा । मुख्य सचिव को इस सम्बन्ध में ज़रूरी निर्देश जारी करने के लिए कहा गया है ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने अपने पिछले दो सालों में गरीब पक्षीय बहुत से प्रोग्राम/स्कीमें शुरू की हैं । यह स्कीमें पंजाब के लोगों के साथ की गई वचनबद्धता के आधार पर आरंभ की गई हैं । इन प्रोग्रामों /स्कीमों ने टिकाऊ नतीजे सामने लाए हैं । परन्तु हाल ही के विभिन्न इलाकों के दौरे के दौरान यह बात सामने आई है कि चुने हुए नुमायंदों और समुदायों की इन प्रोग्रामों /स्कीमों को लागू करने में भागेदारी को और असरदार ढंग से बनाए जाने की ज़रूरत है । इस दौरान यह भी महसूस किया गया है कि इन प्रोग्रामों /स्कीमों की लोगों तक और ज्यादा पहुँच बनाई जाये और चुने हुए नुमायंदों और समुदायों की और ज्यादा भागेदारी यकीनी बनाई जाये ।

इस संदर्भ में मुख्यमंत्री शहरी कायाकल्प एवं सुधार सम्बन्धी सलाहकारी ग्रुप के प्रमुख होंगे । इसमें स्मार्ट सीटी, अमरूत, यू.ई.आई.पी और हुडको शामिल हैं । मुख्यमंत्री इस ग्रुप के चेयरमैन होंगे जबकि स्थानीय निकाय मंत्री ब्रह्म मोहिन्द्रा, वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल, भवन निर्माण एवं शहरी विकास मंत्री सुखबिन्दर सिंह सरकारिया, लोक निर्माण मंत्री विजय इंदर सिंगला, खाद्य एवं सिविल सप्लाई मंत्री भारत भूषण आशू, विधायक प्रगट सिंह, सुशील कुमार रिंकू, सुनील दत्ती, अमित विज्ज, गुरकीरत सिंह कोटली, सुरिन्दर कुमार डावर और डा. हरजोत कमल सिंह इसके मैंबर होंगे ।

नशों सम्बन्धी सलाहकारी ग्रुप के भी प्रमुख मुख्यमंत्री होंगे। नशे के दुरुपयोग के विरुद्ध व्यापक कार्य योजना के मुख्यमंत्री चेयरमैन जबकि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू, ग्रामीण विकास एवं पंचायत मंत्री तृप्त राजिन्दर सिंह बाजवा, शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला, डी.जी.पी दिनकर गुप्ता और ए.डी.जी.पी /एस.टी.एफ गुरप्रीत कौर देयो इसके मैंबर होंगे ।

किसानों और खेत मज़दूरों के कजऱ् माफी सम्बन्धी सलाहकारी ग्रुप में सहकारिता मंत्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा को चेयरमैन जबकि राजस्व मंत्री गुरप्रीत सिंह कांगड़ और कल्याण मंत्री साधु सिंह धर्मसोत को मैंबर बनाया गया है।

व्यापक स्वास्थ्य बीमा सम्बन्धी ग्रुप के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू चेयरमैन होंगे जबकि सामाजिक सुरक्षा मंत्री अरुणा चौधरी इसके मैंबर होंगे।

घर घर रोजग़ार ग्रुप का चेयरमैन रोजग़ार सृजन और तकनीकी शिक्षा मंत्री चरनजीत सिंह चन्नी को बनाया गया है जबकि श्रम मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू और उद्योग मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा इसके मैंबर बनाए गए हैं।

खाद्य सुरक्षा-स्मार्ट राशन कार्डों सम्बन्धी ग्रुप के खाद्या एवं सिविल सप्लाई मंत्री भारत भूषण आशू प्रमुख होंगे और ग्रामीण विकास एवं पंचायत मंत्री तृप्त राजिन्दर सिंह बाजवा, सामाजिक सुरक्षा मंत्री अरुणा चौधरी को मैंबर बनाया गया है।

ग्रामीण विकास-एम.जी.एस.वी.वाई, एस.वी.सी, मनरेगा, ग्रामीण भवन निर्माण सम्बन्धी ग्रुप के ग्रामीण विकास एवं पंचायत मंत्री और पशु पालन मंत्री तृप्त राजिन्दर सिंह बाजवा चेयरमैन होंगे जबकि कल्याण मंत्री साधु सिंह धर्मसोत, जल सप्लाई और सैनीटेशन मंत्री रजिया सुलताना इसके मैंबर होंगे।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू मीशन तंदुरुस्त पंजाब ग्रुप के प्रमुख होंगे जबकि वन मंत्री साधु सिंह धर्मसोत, जल स्रोत मंत्री सुखबिन्दर सिंह सरकारिया, रजिया सुलताना और खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढी इसके मैंबर होंगे ।

सभी ग्रुपों में विधायक और विभिन्न विभागों के सीनियर सरकारी अधिकारी मैंबर होंगे। शहरी कायाकल्प एवं सुधार ग्रुप में अमृतसर, लुधियाना, जालंधर और पटियाला के मेयर भी शामिल किये गए हैं ।

Have something to say? Post your comment
 
More Punjab News
इजरायल के साथ मिलकर जल प्रबंधन योजना तैयार करेगा पंजाब
लुधियाना में कपड़ा फैक्टरी में लगी भीषण आग
वित्त विभाग द्वारा पैंशन केस समय पर भेजने संबंधी हिदायतें जारी
पंजाब में 100 से अधिक खुले बोरवेल बंद किए गए
बोरवेल से 110 घंटे बाद बाहर निकाले गए दो वर्षीय बच्चे की मौत
मिल्कफैड द्वारा दूध उत्पादकों के लिए खरीद कीमतों में बढ़ोतरी
विजीलैंस ने मई महीने में 16 कर्मचारियों और 1 प्राईवेट व्यक्ति को रिश्वत लेते दबोचा
पंजाब में 1000 एकड़ भूमि सूक्ष्म सिंचाई के तहत लाई जाएगी
मोहाली के नए मैडीकल कॉलेज के लिए 994 पद सृजन करने की मंजूरी
सिद्धू से स्थानीय शासन विभाग लिया गया, बिजली विभाग का प्रभार मिला