Follow us on
Sunday, June 16, 2019
Chandigarh

चेक बाउंस केस में कार्रवाई न करने के नाम पर रिश्वत लेता हवलदार चढ़ा सीवीआई के हत्थे

June 12, 2019 10:18 AM
Jagmarg News Bureau

चंडीगढ़ - यूटी पुलिस एक के बाद एक करनामें से सुखिर्यो में रहता है। ऐसा ही एक मामला मंगलवार को सामने आया है जहां पर चेक बाउंस केस में कार्रवाई न करने के चलते पंजाब स्टेट कॉ-ऑप्रेटिव बैंक के क्लर्क से 2 हजार रुपए की रिश्वत लेते पीओ सेल के हवलदार दलबीर सिंह को सीबीआई की टीम ने मंगलवार को सेक्टर-34 से रंगे हाथ गिर तार कर लिया है। शिकायतकर्ता हरभजन सिंह की शिकायत पर सीबीआई की टीम ने आरोपी दलबीर के खिलाफ भ्रष्टाचार के तहत केस दर्ज कर उससे पूछताछ शुरू कर दी है। सीबीआई टीम उसे बुधवार को जिला अदालत में पेश करेगी।

जानकारी अनुसार हरभजन सिंह ने किसी से 2 लाख का लोन लिया था जो वह चुका नहीं सका। हरभजन ने उसे चेक दिए थे, जो बाद में बैंक से बाउंस हो गए थे। इसी के चलते उसके खिलाफ रुपए लेने वाले ने कोर्ट में केस कर दिया था। पहले तो हरभजन सिंह कोर्ट में तारीकों पर जाता रहा, लेकिन सूत्रों का कहना है कि पिछली दो-तीन तारीकों पर वह नहीं गया। जिसके चलते उसे भगौड़ा घोषित करने के लिए की जाने वाली कार्रवाई के लिए पीओ एवं स मन स्टॉफ को कोर्ट ने हरभजन सिंह का नोटिस भेजा था।

इस नोटिस के जरिए पीओ सेल के हवलदार दलबीर सिंह ने हरभजन से सोमवार को फोन पर बात हुई और उसे गिर तार न करने के लिए हवलदार ने उससे 2 हजार की डिमांड की। जिसके चलते सोमवार को ही शिकायतकर्ता ने सीबीआई को इसकी शिकायत दे दी। मंगलवार को दोनों में 2 हजार रुपए लेन-देन के लिए सेक्टर-34 स्थित एससीओ नंबर-150-52 में जगह फिक्स हुई। 

जैसे ही दलबीर सिंह ने हरभजन से दो हजार रुपए लिए, तो पहले से ट्रैप लगाए बैठी सीबीआई की टीम ने उसे रिश्वत की रकम के साथ रंगे हाथ दबोच लिया। सूत्रों के अनुसार हवलदार दलबीर सिंह की गिर तारी के बाद सीबीआई की टीम ने उसके सेक्टर-41 स्थित सरकारी अलॉट हुए मकान के अलावा रोपड़ स्थित मोरिंडा में भी उसके घर में छापेमारी की, लेकिन सूत्रों का कहना है कि दलबीर के घर से कुछ बरामद नहीं हुआ है।

पहले भी एसएचओ सहित दो सब इंस्पैक्टरों को किया गया है गिर तार

ध्यान रहे कि सीबीआई की टीम ने पहले भी सेक्टर-31 पुलिस स्टेशन में दो बार ट्रैप कर लगाकर दो सब इंस्पैक्टरों को गिर तार किया था। अक्तूबर 2017 को सीबीआई ने सेक्टर-31 पुलिस स्टेशन में उस समय तैनात सब इंस्पैक्टर मोहन को 2 लाख लेते काबू किया था जबकि इसी थाने के एडिशनल एसएचओ सब इंस्पैक्टर राजबीर सिंह को 4 जनवरी 2018 को 10 हजार की रिश्वत के केस में दबोचा था। सीबीआई ने मौली जागरां थाने के पर्वू एसएचओ बलजीत सिंह को भी रिश्वत के केस में गिर तार किया था।

Have something to say? Post your comment
 
More Chandigarh News
स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत अब सेक्टर-34 में कामर्शियल हब बनाने की तैयारी
बड़ी स्क्रीन पर आज भारत-पाक मैच दिखाने के लिए है खास इंतजाम
अपने पिता के सपनों की ऊंची उड़ान के कारण ही पूरे विश्व में नाम कमा रहे शुभमन गिल छात्रा से दुष्कर्म के मामले में पीडि़ता के सगे मामा के बेटे को पुलिस ने किया गिर तार चोर पास पुलिस फेल, एक रात में चार वाहन चोरी, केस दर्ज
खुद को प्रोफेसर बता कर पीयू में नैकरी के नाम पर ठगी करने का मामला
महापौर के खिलाफ सफाई कर्मचारी यूनियन ने पीएम,गृहमंत्री सफाई कर्मचारी आयोग,एमपी सहित कई को दी शिकायत
ट्राइसिटी के छात्र जयेश सिंगला ने जेईई एडवांस परीक्षा में हासिल किया 17वां रैंक
पीजीआई में डॉक्टरों की 4 घंटे की हड़ताल से मरीज रहे बेहाल
सब्जी विक्रेता पर हथियारों से हमलाकर लूट करने वाले तीन आरोपी गिर तार