Follow us on
Tuesday, July 23, 2019
Himachal

जन मंच में अब तक प्रस्तुत 34 हजार से अधिक समस्याओं और शिकायतों का हुआ निपटारा

July 08, 2019 06:39 AM

शिमला - रविवार को किन्नौर जिला को छोड़ प्रदेश के 11 जिलों में आयोजित जन मंच में 2076 शिकायतें व मांगें प्राप्त हईं। किन्नौर जिला में जन मंच का आयोजन 14 जुलाई को किया जाएगा। प्रदेश में अब तक आयोजित जन मंच में 34 हजार से अधिक समस्याएं व शिकायतें प्रदेश सरकार के समक्ष आई हैं, जिनमें से अधिकतर का निपटारा किया जा चुका है।

ज़िला ऊना

ऊना जिला के ऊना सदर विधानसभा क्षेत्र के कुठार खुर्द में आयोजित जनमंच में कुल 113 समस्याएं प्राप्त हुईं, जिनमें से अधिकतर का मौके पर समाधान किया गया। जन मंच से पूर्व जिला में 19 शिकायतें प्राप्त हुई थीं। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रदेश विधानसभा उपाध्यक्ष हंसराज ने की। जन मंच से पूर्व की गतिविधियों के दौरान जिला में 827 प्रमाण-पत्र जारी किए गए।

विधानसभा उपाध्यक्ष ने इस दौरान 92 परिवारों को निःशुल्क गैस कनेक्शन, व 20 नवजात शिशुओं की माताओं को बेबी केयर किट्स प्रदान की तथा जम्मू में मधुपालन प्रशिक्षण के लिए जा रहे 30 सदस्यीय किसानों के दल को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इसके अलावा, उद्यान विभाग की प्रदर्शनी में 40 युवाओं ने स्वावलंबन योजना की जानकारी प्राप्त की।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती, विधायक सतपाल सिंह रायजादा, एपीएमसी के चेयरमैन बलबीर सिंह बग्गा भी इस दौरान मौजूद थे।

ज़िला मंडी

सिंचाई एवं जनस्वाथ्य मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर की अध्यक्षता में जोगिन्दर नगर के लडभड़ोल में आयोजित जन मंच कार्यक्रम में 280 आवेदन प्राप्त हुए जबकि जन मंच से पूर्व 46 मामले प्राप्त हुए थे। इनमें से 81 शिकायतों का मौके पर निपटारा कर दिया गया।

महेंद्र सिंह ठाकुर ने इस अवसर पर कहा कि प्रदेश में बागवानी विकास के लिए स्वीकृत 1688 करोड़ रुपये की योजना में विभिन्न क्षेत्रों में बागवानी विकास के लिए पंचायतों के क्लस्टर बनाए जाएंगे। एशियन विकास बैंक ने 70 करोड़ रुपये की पहली किश्त जारी कर दी है। योजना के अंतर्गत हिमाचल के निचले क्षेत्र के 27 ब्लॉक लिए गए हैं, जिनमें मंडी जिले के पांच खंडों का चयन किया गया है। योजना में बागवानों को उच्च गुणवत्ता के पौधे सस्ती दरों पर दिए जाएंगे। विभाग फसल के लिए सिंचाई और बाड़बंदी की व्यवस्था करेगा और फलों की खरीद के लिए गांवों में एकत्रण केंद्र बनाए जाएंगे।

उन्होंने हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना के अंतर्गत 50 एलपीजी गैस कनेक्शन और विभिन्न प्रकार के प्रमाण पत्र वितरित किए।

इस अवसर पर सांसद राम स्वरूप शर्मा और स्थानीय विधायक प्रकाश राणा भी उपस्थित थे।

जिला शिमला

शिमला जिला के दूर-दराज क्षेत्र कुपवी में जन मंच को संबोधित करते हुए शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कुपवी क्षेत्र में 3 करोड़ 95 लाख रुपये की लागत से निर्मित की जाने वाली उठाऊ पेयजल योजना को शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने आश्वासन दिया कि शिमला से धार-चानना के लिए शीघ्र पथ परिवहन निगम की बस सेवा चलाई जाएगी। उन्होंने शिमला-मशोत बस सेवा को नियमित रूप से चलाने के भी निर्देश दिए गए।

सुरेश भारद्वाज ने कहा कि कुपवी तहसील में शिक्षकों के रिक्त पदों को शीघ्र एसएमसी के माध्यम से भरा जाएगा। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग में रिक्त पड़े पदों को भरने का भी आश्वासन दिया। उन्होंने विद्युत विभाग को क्षेत्र में पुराने बिजली के खंभे बदलने और लोक निर्माण विभाग को सड़कों को दुरुस्त करने के निर्देश दिए।

आज के जन मंच में प्राप्त सभी 85 जन शिकायतों का मौके पर निवारण किया गया। इस दौरान लोगों द्वारा 79 मांग पत्र भी दिए गए।

कुल्लू जिला

कुल्लू जिले में जन मंच निरमंड विकास खंड में आयोजित किया गया जिसकी अध्यक्षता जनजातीय विकास और कृषि मंत्री डॉ. रामलाल मारकंडा ने की। इस दौरान 145 शिकायतों की सुनवाई की गई जिनमें से अधिकांश का समाधान मौके पर ही किया गया।

इस अवसर पर अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार सामूहिक सोलर ड्रिप सिंचाई योजनाओं पर 100 प्रतिशत सब्सिडी देगी। निजी सोलर ड्रिप सिंचाई योजनाओं के लिए भी 90 प्रतिशत अनुदान का प्रावधान किया जा रहा है। सरकार ने इस वित वर्ष में प्राकृतिक खेती के लिए 45 करोड़ रुपये का बजट रखा है और इस योजना के तहत किसानों को देसी गाय और आवश्यक सामग्री पर 25 प्रतिशत तक सब्सिडी दी जाएगी।

डा. मारकंडा ने लाभार्थियों को 168 गैस कनैक्शन बांटे और बेटी है अनमोल योजना के अंतर्गत 13 कन्याओं को एफडी के दस्तावेज प्रदान किए। स्वास्थ्य शिविर में लगभग 120 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की गई। इसके अलावा, राजस्व विभाग ने लोगों को विभिन्न प्रमाण पत्र मौके पर ही बनाकर दिए।

विधायक किशोरी लाल सागर भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

Have something to say? Post your comment
 
More Himachal News
कलराज मिश्र ने हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल के रूप में शपथ ली
नए भारत के निर्माण में निर्यातकों की भूमिका महत्त्वपूर्ण - जय राम ठाकुर
भूकंप पूर्व चेतावनी प्रणाली विकसित करने के लिए बैठक आयोजित
मुख्यमंत्री द्वारा पौधरोपण को जन आन्दोलन बनाने पर बल
मुख्यमंत्री, राजनीतिक दलों के पदाधिकारियों, अधिकारियों, जन प्रतिनिधियों ने दी राज्यपाल को भावभीनी विदाई
हिमाचल प्रदेश में श्रीखंड महादेव यात्रा बहाल
राज्यपाल आचार्य देवव्रत के सम्मान में राजकीय रात्रि-भोज का आयोजन
100 मेगावाट के सौर ऊर्जा संयंत्र की स्थापना के लिए एमओयू हस्ताक्षरित
मुख्यमंत्री ने बचाव कार्य की निगरानी के लिए किया कुमारहट्टी का दौरा
हिमाचल प्रदेश में इमारत ढही, दो मरे, 23 घायल