Follow us on
Tuesday, July 23, 2019
Himachal

कुरीतियों और कुप्रथाओं के उन्मूलन में सार्थक भूमिका निभाएं लेखक - राज्यपाल

July 09, 2019 07:11 AM

राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने आज यहां राजभवन में हिमाचल प्रदेश की लोक संस्कृति, लोक मान्यताओं और सामाजिक व्यवस्था पर आधारित कंचन शर्मा की पुस्तक ‘हिमाचल प्रदेश एक सांस्कृतिक परिदृष्य’ का विमोचन किया।

इस अवसर पर राज्यपाल ने लेखकों, बृद्धिजीवियों और रचनाकारों का आह्वान किया कि वे अपने लेखों, पुस्तकों और कविताओं में ऐसी विचारशील सामग्री प्रस्तुत करें, जिससे समाज में व्याप्त कुरीतियों और कुप्रथाओं को समाप्त किया जा सके और वैदिक परम्पराओं पर आधारित समतामूलक समाज का निर्माण हो सके।

 उन्होंने कहा कि इस युग में अन्ध विश्वास से ऊपर उठकर वैज्ञानिक दृष्टिकोण से मान्यताओं की विवेचना होनी आवश्यक है और लेखक इस दिशा में सार्थक पहल कर सकते हैं। इससे विकास की नई सोच पैदा होगी और वैज्ञानिक दृष्टिकोण सुदृढ़ होगा।

उन्होंने कहा कि कई परम्पराएं प्रतीक के तौर पर आरम्भ हुई परन्तु मध्यकाल में इन परम्पराओं में रूपान्तरण हुआ, जिससे पाखण्ड और अन्ध-विश्वास का जन्म हुआ। उन्होंने कहा कि उस समय के सन्तों और महापुरूषों ने इन पाखण्डों का प्रबल विरोध भी किया। उन्होंने कहा कि पाखण्ड और अन्ध-विश्वास से जुड़ी सभी धारणाओं का विश्लेषण करने की आवश्यकता है ताकि समाज के सभी वर्गों का कल्याण सुनिश्चित हो सकें।

उन्होंने कहा कि अपने स्वार्थ के लिए की गई हिंसा और हिंसक कार्य पाप हैं तथा अपने स्वार्थ के लिए गलत मान्यताओं का पोषण करना उचित नहीं है।

Have something to say? Post your comment
 
More Himachal News
कलराज मिश्र ने हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल के रूप में शपथ ली
नए भारत के निर्माण में निर्यातकों की भूमिका महत्त्वपूर्ण - जय राम ठाकुर
भूकंप पूर्व चेतावनी प्रणाली विकसित करने के लिए बैठक आयोजित
मुख्यमंत्री द्वारा पौधरोपण को जन आन्दोलन बनाने पर बल
मुख्यमंत्री, राजनीतिक दलों के पदाधिकारियों, अधिकारियों, जन प्रतिनिधियों ने दी राज्यपाल को भावभीनी विदाई
हिमाचल प्रदेश में श्रीखंड महादेव यात्रा बहाल
राज्यपाल आचार्य देवव्रत के सम्मान में राजकीय रात्रि-भोज का आयोजन
100 मेगावाट के सौर ऊर्जा संयंत्र की स्थापना के लिए एमओयू हस्ताक्षरित
मुख्यमंत्री ने बचाव कार्य की निगरानी के लिए किया कुमारहट्टी का दौरा
हिमाचल प्रदेश में इमारत ढही, दो मरे, 23 घायल