Follow us on
Friday, October 18, 2019
Chandigarh

विजयदशमी पर सबसे ऊंचा रावण दहन को देखने पहुंचे हजारो लोग

October 09, 2019 06:24 AM

चंडीगढ़ (सोनिया अटवाल) - विजयदशमी का पर्व मंगलवार को खूब धूमधाम से मनाया गया। इस मौके पर शहर के सेक्टर-7, 17, 24, 26, 27, 32, 42, 45, 46, रामदरबार, धनास आदि करीब 33 जगहों पर रावण के पुतले जलाए गए। धनास कालोनी में बनाया गया 221 फुट का रावण इस बार सबसे अधिक आकर्षण का केंद्र रहा, जिसे देखने ट्राइसिटी और दूर दराज के क्षेत्रों से हजारों लोग पहुंचे। इस दौरान मंगलवार सुबह से ही लोग यहां पहुंचने शुरू हो गए थे।

इसके अलावा सेक्टर-46 सब्जी मंडी ग्राउंड और सेक्टर-17 के परेड ग्राउंड और सर्कस ग्राउंड में रामलीला एवं दशहरा कमेटियों की ओर से भव्य आयोजन किया गया। रावण दहन से पहले रामलीला कमेटियां द्वारा शोभायात्रा निकाली गई, जिसमें आकर्षक झांकियां भी शामिल रही। वहीं दूसरी ओर वाहनों की पार्किंग को लेकर भी लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ी।

चप्पे-चप्पे पर रही पुलिस तैनात:

दशहरे के मौके पर जगह-जगह पुलिस की तैनाती रही। क्राइम ब्रांच, थाना पुलिस, आपरेशन सेल समेत अन्य विंग चप्पे-चप्पे पर सक्रिय नजर आए। इस दौरान हर संदिगध व्यक्ति और वस्तु की सख्ती से जांच की गई। साथ ही शहर के अलग-अलग हिस्सों में पुलिस पीसीआर, चीता स्क्वॉड और अन्य विंग गश्त करते दिखेें। इस दौरान महिला पुलिसकर्मियों की तैनाती भी रही। मार्केट और भीड़भाड़ वाले एरिया में पुलिसकर्मी सिविल ड्रेस में तैनात रहे।

तकनीको की मदद से हुआ परंपरा का पालन:

सैक्टर 46 की श्री सनातन धर्म दशहरा कमेटी की ओर से दशहरे पर भव्य आयोजन हुआ। इस बार रावण दहन के दौरान रथ पर सवार रावण के पुतले की घूमती हुई गर्दन और चेहरा, रावण की नाभि में से निकली हुई अमृत कुंड की धारा और स्टेज से ही रावण, मेघनाद और कुम्भकर्ण के पुतलों को रिमोट से अग्नि देना खास आकर्षण का केंद्र रहा। वहीं सेक्टर 27 की रामलीला कमेटी इस बार नई तकनीकों का उपयोग कर परम्पराओं का पालन किया गया। कमेटी इस बार रावण (55 फीट), मेघनाथ (50 फीट) और कुंभकरण (50 फीट) तीनों पुतलों को रिमोट कंट्रोल के माध्यम से फूंका। श्रीराम चन्द्र जी की सेना की झांकियों के पश्चात मुख्यातिथि यूटी प्रशासन के चीफ इंजीनियर मुकेश आनंद रिमोट कंट्रोल जबकि श्रीराम अपने बाणों से पुतलों को ध्वस्त किया।

रावण के साथ सेल्फी लेते दिखे:

दशहरे के अवसर पर बच्चों के साथ महिलाएं और युवा भी रावण, राम, हनुमान के साथ सेल्फी लेते नजर आए। डोरीमोन और अन्य आकर्षण कार्टून कैरेक्टर के साथ भी बच्चों ने फोटो खिंचवाई। कई जगह रावण दहन का नजारा लेने के लिए लोग अपने घरों की छतों पर भी चढ़े नजर आए। इसके साथ ही सेक्टर-46 में एलइडी से श्री राम की शिक्षा का प्रसार भी किया गया।

दशहरे पर इन जगहों पर हुई वाहनों की पार्किंग:

सेक्टर-17 स्थित परेड ग्राउंड में दशहरा उत्सव देखने वाले लोगों द्वारा सेक्टर-17 स्थित फुटबाल ग्राउंड, सेक्टर-17 नीलम सिनेमा के सामने, सेक्टर-17 बस स्टैंड के पास, सेक्टर-22ए की मार्केट, सेक्टर-22बी मार्केट, सेक्टर-23बी स्थित ब्लड डीसीज अस्पताल के पास वाहनों को पार्क किया गया। इसके साथ ही शाम 5.30 से 6.30 बजे तक भीड़भाड़ के दौरान एक घंटे के लिए रूट डायवर्ट कर दिया गया। सेक्टर-18, 19, 20, 21, अरोमा लाइट प्वाइंट, सेक्टर-17, 18 लाइट प्वाइंट से सेक्टर-17 चौक की तरफ आने वाले वाहनों को उद्योग पथ की तरफ डायवर्ट कर दिया गया। सेक्टर-45, 46 लाइट प्वाइंट से सेक्टर-46 तक शाम 5 से 7 बजे आम जनता के लिए बंद कर दिया गया।

Have something to say? Post your comment
 
More Chandigarh News
करवाचौथ पर सुहागिनों ने चांद को अघ्र्य देकर पूरा किया व्रत
परेड ग्राऊंड में आज होगा चार दिवसीय सीआईआई फेयर का आगाज़
आज तय होगा किसे मिलेंगे पटाखे बेचने के लाइसेंस
पीएचडी छात्रों को दोगुनी छात्रवृत्ति देने पर आज सिंडीकेट में होगी चर्चा
दिवाली से पहले शुरू होगी डंपिंग ग्राऊंड की खुदाई का काम, बदबू से मिलेगा छुटकारा
बकाया रेंट जमा न कराने पर सीएचबी ने धनास के नौ फ्लैट्स की अलॉटमेंट रद की
चितकारा यूनिवर्सिटी ने दलाई लामा को दी डीलिट की मानद उपाधि
कल से सामुदायिक केंद्रों में लगेंगे मेहंदी के स्टॉल
करवाचौथ के मौके पर शहर के बाजारों में बढ़ गई रौनक
पटाखों की बिक्री के लिए 96 को ही मिलेगा टेंपरेरी लाइसेंस, व्यापारियों में लगी होड़