Follow us on
Friday, October 18, 2019
Chandigarh

शराब की तस्करी रोकने के लिए चैकिंग अभियान शुरू, रोज लगेंगे बार्डर एरिया पर नाके

October 09, 2019 06:27 AM
Jagmarg News Bureau

चंडीगढ़ (मयंक मिश्रा) - शराब की बढ़ती तस्करी को रोकने के लिए यूटी प्रशासन के एक्साइज एंड टैक्सेशन विभाग ने कई स्थानों पर नाका लगाकर चैकिंग करना शुरू कर दिया है। हरियाणा में विधानसभा चुनाव घोषित होते ही चंडीगढ़ में शराब तस्करी बढ़ गई है। इस वजह से प्रशासन का एक्साइज एंड टैक्सेशन विभाग ने आने वाले दिनों में चैकिंग अभियान और तेज करने की तैयारी की है।

विभाग के ईटीओ के अधीन बनी टीमें बार्डर एरिया पर नाका लगाएंगी जहां कारों और अन्य वाहनों की तलाशी ली जाएगी। नाके आई.टी. पार्क, मनीमाजरा, हल्लोमाजरा, औद्योगिक क्षेत्र फेज-2 पर लगाए जाएंगे। शराब की तस्करी को रोकने को लेकर इस सप्ताह से रोज नाके लगाए जाएंगे। इसकी शुरूआत हो चुकी है और गत शनिवार को शराब तस्करी करने वाले कार चालक को सेक्टर-47 के गुरुद्वारे के पास दबोच लिया गया था। कार के शराब की 16 पेटी बरामद हुई थी।

शराब की तस्करी व नकली शराब के गोरखधंधे पर लगाम लगाने के लिए पिछले सप्ताह पंजाब-हरियाणा व यूटी के एक्साइज व टैक्सेशन विभाग के अधिकारियों की बैठक हुई थी। बैठक में हरियाणा में होने वाले विधानसभा चुनाव में अवैध शराब के इस्तेमाल को लेकर भी चर्चा की गई थी। बैठक में यह तय हुआ था कि इसके लिए कई जगह नाके लगाए जाएंगे और सभी राज्यों के विभागों द्वारा सूचना सांझी की जाएगी, ताकि तेजी से कार्रवाई की जा सके।

बैठक में पटियाला, मोहाली, अंबाला, पंचकूला व चंडीगढ़ के एक्साइज व टैक्सटेशन विभाग के अधिकारियों ने हिस्सा लिया था। बैठक में यह निर्णय लिया गया था कि चुनाव के दौरान हरियाणा के जिलों के मुख्य एंट्री व एग्जिट प्वाइंट पर नाके लगाए जाएंगे। साथ ही सभी विभाग अपने-अपने बार्डर एरिया में टीमें तैनात करेंगे, ताकि ऐसे केसों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की जा सके। इसके अलावा नकली शराब को लेकर भी टीमें चैकिंग और आपस में सूचना सांझी करेगी।

तस्करी रोकने के लिए प्रशासक ने गठित की ज्वाइंट एक्शन कमेटी

इंटर स्टेट में शराब की तस्करी रोकने के लिए चंडीगढ़, हरियाणा और पंजाब एक मंच पर गए हैं। शराब माफिया पर नकेल कसने के लिए प्रशासक वीपी सिंह बदनौर ने ज्वाइंट एक्शन कमेटी का गठन कर दिया है। इसके तहत दो इंटर स्टेट कमेटियां बनाई गई हैं। पहली कमेटी में विभागीय अधिकारियों को रखा गया है जबकि दूसरी कमेटी तीनों प्रदेशों के उच्चाधिकारियों की है। यह कमेटियां एक साथ मिलकर शराब की तस्करी को रोकने का काम करेंगी। शराब तस्करी पर लगाम लगाने को लेकर बनाई कई दोनों ज्वाइंट एक्शन कमेटी पंचकूला, मोहाली और चंडीगढ़ पर निगाह रखेंगी। इन कमेटी को दो लेवल में बांटा गया है। पहला लेवल एक्साइज एंड टैक्सेशन अफसर (एईटीसी) और दूसरा लेवल सीनियर ऑफिसर यूटी/राज्य। चंडीगढ़, मोहाली और पंचकूला के एक्साइज एंड टैक्सेशन अफसर महीने में एक बार मीटिंग करेंगे और शराब तस्करी पर कैसे रोक लगाया जा सके,  इसको लेकर आपस में सूचनाओं का साक्षा करेंगे। वहीं सीनियर ऑफिसर की कमेटी हर तीन महीने में मीटिंग करेगी और अब तक इस पर क्या क्या काम किया गया है, इस पर भी मीटिंग में चर्चा होगी।

Have something to say? Post your comment
 
More Chandigarh News
करवाचौथ पर सुहागिनों ने चांद को अघ्र्य देकर पूरा किया व्रत
परेड ग्राऊंड में आज होगा चार दिवसीय सीआईआई फेयर का आगाज़
आज तय होगा किसे मिलेंगे पटाखे बेचने के लाइसेंस
पीएचडी छात्रों को दोगुनी छात्रवृत्ति देने पर आज सिंडीकेट में होगी चर्चा
दिवाली से पहले शुरू होगी डंपिंग ग्राऊंड की खुदाई का काम, बदबू से मिलेगा छुटकारा
बकाया रेंट जमा न कराने पर सीएचबी ने धनास के नौ फ्लैट्स की अलॉटमेंट रद की
चितकारा यूनिवर्सिटी ने दलाई लामा को दी डीलिट की मानद उपाधि
कल से सामुदायिक केंद्रों में लगेंगे मेहंदी के स्टॉल
करवाचौथ के मौके पर शहर के बाजारों में बढ़ गई रौनक
पटाखों की बिक्री के लिए 96 को ही मिलेगा टेंपरेरी लाइसेंस, व्यापारियों में लगी होड़