Follow us on
Friday, June 05, 2020
BREAKING NEWS
कोरोना वायरस संकट को एक अवसर के रूप में देख रहा है भारत - मोदीकोविड-19: देश में एक दिन में सबसे ज्यादा 9,304 नए मामले, मृतकों की संख्या 6,075 पहुंचीराहुल से बोले राजीव बजाज: कठोर लॉकडाउन से जीडीपी औंधे मुंह गिर गई और अर्थव्यवस्था तबाह हुईश्रमिकों को पूरा पारिश्रमिक देने में असमर्थ नियोक्ता न्यायालय में अपनी बैलेंस शीट पेश करें - केन्द्रअमेरिकी समाज के संस्थागत नस्लवाद को खत्म करने की जरुरत - संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार प्रमुखहंगरी कप फुटबाल फाइनल में सामाजिक दूरी के नियम की उड़ी धज्जियांकोरोना वायरस महामारी का कंपनी के कारोबार पर अबतक कोई खास असर नहीं - नेस्ले इंडियासोनू सूद खुद भी कभी खाली हाथ आए थे मुंबई, इसलिए समझते हैं प्रवासियों का दर्द
Haryana

जिले में 3 लाख 83 हजार 226 मतदाता करेगें चुनाव का फैसला

October 09, 2019 06:28 AM
Jagmarg News Bureau

पंचकूला (रमेश गोयत) - जिला पंचकूला में कालका तथा पंचकूला दो विधानसभा क्षेत्र है। पंचकूला की जनसंख्या 6 लाख 36 हजार 329 है और मतदाताओं की संख्या 3 लाख 83 हजार 226 है। विधानसभा 2019 चुनाव में 3 लाख 83 हजार 226 मतदाता दो विधायको का फैसला करेगें। पिछले बार के मुकाबले इस बार पंचकूला जिला की ईपी में बढ़ोतरी हुई है।

1 जनवरी 2019 के ड्राफ्ट रोल के अनुसार पंचकूला का ईपी रेश्यो 602 है जो पहले 591 था। पहले के मुकाबले ईपी रेश्यो में काफी वृद्धि दर्ज की गई है। वोटर्स के हिसाब से पंचकूला की जेंडर रेश्यो 884 है और 18 से 19 आयु वर्ग के मतदाताओं की संख्या 8423 है, बाकी बचे मतदाता इससे अधिक आयु के है। चुनाव आयोग की गाइडलाइन्स के तहत शारीरिक रूम पे अक्षम मतदाताओं के लिए विशेष व्यवस्था की जाती है ताकि वे भी पोलिंग प्रक्रिया में सुगमता से भाग ले सकें। हर पोलिंग बूथ पर बीएलओ नियुक्त किये गए हैं। पंचकूला जिला में कुल 411 पोलिंग बूथ हैं। जिनमे से 213 कालका तथा 197 पंचकूला में स्थापित हैं।

चंडीगढ़, पंजाब हिमाचल की सीमा पर नाकाबंदी शुरू

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं पंचकूला उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि वह जिले में निष्पक्ष व शांतिमय चुनाव करवाने के लिए वचनबद्ध हैं। इस मामले में किसी भी तरह का समझौता नहीं किया जाएगा। उन्होंने बताया कि चुनाव को लेकर पीठासीन अधिकारियों को भी पायलट रिहर्सल के दौरान ट्रेनिंग दी जा चुकी है। चुनाव प्रचार के दौरान प्रत्याशियों द्वारा किए जाने वाले खर्च पर पैनी नजर रखने के लिए भी टीमों को फील्ड में उतारा जा चुका है।

इसके अलावा अवैध शराब और नकदी समेत अन्य प्रतिबंधित सामग्री पर नजर रखने के लिए जिले के चौतरफा चुनावी नाका लगाया जा रहा है। चुनाव हैल्पलाईन सेवा 1950 को 24 घंटे उपलब्ध है। जिले में चुनाव के दौरान असला व नकदी लेकर चलने पर प्रतिबंध है चंडीगढ़, पंजाब व हिमाचल की सीमाए पर नाकाबंदी शुरू कर दी गई है। शरारती व बदमाश किस्म के लोगों पर पुलिस की नजर है।

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
प्रकृति से मिली सम्पदाओं का सरंक्षण करने और प्रकृति का संतुलन बनाए रखने के लिए प्रण ले - मनोहर लाल हरियाणा सरकार जुलाई में खोलेगी विद्यालयों को हरियाणा के नूंह में वांछित अपराधी गिरफ्तार हुड्डा ने हरियाणा सरकार पर निशाना साधा हरियाणा एक जून से अंतरराज्यीय सीमाएं खोलेगा फरीदाबाद में संक्रमण के 38 नए मामले सामने आए कोरोना से बचने के लिए मास्क जरूरी लेकिन कुछ निश्चित स्थानों पर मास्क हटाना भी होगा अमित शाह ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों से की बात, 31 मई के बाद लॉक डाउन की स्थिति पर की चर्चा, मांगे सुझाव युवा सरकारी नौकरियों की तरफ अपने रूझान के साथ-साथ उद्यमशील बनने की ओर भी अग्रसर हों - दुष्यंत हरियाणा में कोरोना के 76 नये मामले, कुल संख्या 1381 हुई, 18 लोगों की मौत