Follow us on
Monday, November 18, 2019
India

दुनिया नए भारत के नए आत्मविश्वास को देख सकती है - मोदी

October 18, 2019 06:59 AM

मुंबई (भाषा) - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि नए भारत में पनपते नए आत्मविश्वास को दुनिया देख सकती है। महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए पुणे, सतारा और परली में भाजपा की चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि पिछले 70 साल में अनुच्छेद 370 की बातें तो बहुत हुईं, लेकिन सिर्फ उनकी सरकार ने इसके खत्म करने की हिम्मत दिखाई।

मोदी ने पुणे में एक रैली के दौरान कहा ‘‘पूरी दुनिया नए भारत के नए आत्मविश्वास को देख सकती है। हर कोई बदलाव को महसूस कर सकता है। वे हाउडी मोदी की चर्चा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र में स्थिर सरकार बनाने के लिए लोगों द्वारा दिए गए मजबूत जनादेश के बाद सारी दुनिया में आज नए भारत की गूंज सुनाई दे रही है। मोदी ने साथ ही कहा कि जब तक ‘‘गरीब और मध्य वर्ग से लूटी गई एक-एक पाई’’ उनको वापस नहीं कर दी जाती है, तब तक वह आराम नहीं करेंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘एक देश, एक संविधान की राह में अनुच्छेद 370 की ये बहुत बड़ी रुकावट खड़ी थी। इस रुकावट को दूर करने की बातें तो बहुत हुईं, लेकिन कभी किसी ने हिम्मत दिखाई नहीं। उन्होंने कहा, ‘‘क्या पहली बार प्रचंड बहुमत की सरकार बनी है? नहीं। लेकिन उन्होंने यह नहीं किया। उन्होंने कहा कि यह फैसला (अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को खत्म करना) आसान नहीं था, लेकिन 21वीं सदी का भारत बदलावों से डरने वाला नहीं है।

उन्होंने लोगों को और खासतौर से युवाओं को भरोसा दिलाया कि आने वाले वर्ष अवसरों से भरे हैं और कहा कि भारत आज दुनिया के अग्रणी एफडीआई अनकूल देशों में है। उन्होंने कहा, ‘‘विश्व भर में जितने भी अग्रणी उद्योगपतियों से मेरी बात होती है, हर कोई भारत आने के लिए आतुर है। बीते पांच वर्षों में भारत में निवेश वृद्धि में पांच गुना की बढ़ोतरी हुई है।’’

इससे पहले मोदी ने महाराष्ट्र के बीड जिले के परली में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को खत्म करने का विरोध करने वालों के बयान इतिहास में दर्ज होंगे। इसके साथ ही मोदी ने कहा कि महाराष्ट्र के पास वैसे लोगों को दंडित करने का मौका है। उन्होंने उम्मीद जताई कि भाजपा नीत गठबंधन 21 अक्टूबर को होने वाले महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में जीत के सारे रिकॉर्ड तोड़ देगा।

उन्होंने कहा कि अगले हफ्ते होने वाले विधानसभा के चुनाव भाजपा की ‘कार्यशक्ति’ और विपक्ष की ‘स्वार्थ शक्ति’ के बीच की लड़ाई है। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘ मुझे आप और आपकी देशभक्ति पर भरोसा है कि आप देश के हितों के खिलाफ बोलने वालों को बेहतरीन सबक सिखाएंगे। इतिहास हर उस व्यक्ति को याद रखेगा जिसने भी अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को खत्म करने की आलोचना की है।’’

उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस नेताओं ने राष्ट्रविरोधी तत्वों को ‘‘आक्सीजन’’ मुहैया कराया। उन्होंने कहा कि कुछ कांग्रेस नेताओं ने कहा कि अगर कश्मीर में हिंदू आबादी होती तो यह फैसला नहीं लिया गया होता। मोदी ने कहा, ‘‘जब राष्ट्रीय अखंडता की बात आती है ... आप हिंदू और मुस्लिम के बारे में सोचते हैं। क्या यह आपके लिए उपयुक्त है?’’

उन्होंने कहा, ‘‘महाराष्ट्र के दरवाजे पर अवसर दस्तक दे रहा है। मुझे आपकी देशभक्ति पर भरोसा है कि आप उन लोगों को सबक सिखाएंगे जो राष्ट्रहित के खिलाफ बोलते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जनता का पैसा ‘‘लूटने’’ वालों को जेल भेजने की प्रक्रिया शुरू हो गई है।

मोदी ने कहा कि बीड ने उन्हें दिवंगत भाजपा नेताओं गोपीनाथ मुंडे और प्रमोद महाजन जैसा दोस्त दिया। ‘‘वे दोनों अब नहीं हैं। लेकिन, मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और पंकजा मुंडे (मंत्री और गोपीनाथ मुंडे की बेटी) उनके सपनों को पूरा करने के लिए काम कर रहे हैं।’’

मोदी ने फडणवीस के नेतृत्व वाली राज्य सरकार की उपलब्धियों के रूप में लोगों को राहत देने के लिए जल संरक्षण योजना और प्रस्तावित मराठवाड़ा जल ग्रिड को भी रेखांकित किया। उन्होंने यह भी कहा कि 2,000 करोड़ रुपये पहले ही किसानों के खातों (कल्याणकारी योजना के हिस्से के रूप में) में जमा कर दिए गए हैं।

महाराष्ट्र के सतारा में एक अन्य रैली के दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार छत्रपति शिवाजी महाराज के राष्ट्रवाद और राष्ट्रीय सुरक्षा के सिद्धांतों को लेकर प्रतिबद्ध है एवं देश के खिलाफ बुरी नजर रखने वालों के खिलाफ मुंहतोड़ जवाब देने की ताकत रखती है।

लोकसभा सीट उपचुनाव के लिए पार्टी प्रत्याशी उदयनराजे भोंसले का प्रचार करने आए मोदी ने कहा कि शिवाजी महाराज की तरह उनकी सरकार भी सुरक्षा बलों को मजबूत कर रही है। उन्होंने कहा, ‘‘ पिछले पांच साल से केंद्र और राज्य सरकार शिवाजी महाराज के मूल्यों पर दृढ़ रही है। राष्ट्रवाद और राष्ट्रीय सुरक्षा हमारी शीर्ष प्राथमिकता है और जो लोग देश पर बुरी नजर रखेंगे उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा।’’

कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) पर हमला करते हुए मोदी ने कहा कि दोनों दलों ने राष्ट्रीय सुरक्षा एवं एकता के फैसलों का विरोध किया, जिससे सतारा के लोगों को गहरी पीड़ा हुई जो भारतीय सेना में सबसे अधिक सैनिक भेजते हैं।

मोदी ने कहा, ‘‘राष्ट्र रक्षकों की भूमि में राष्ट्रीय हितों के खिलाफ बोलने वालों के लिए कोई जगह नहीं है। आपका उत्साह एवं ऊर्जा की वजह से विपक्षी अपना आपा खो रहे हैं। मोदी ने कांग्रेस और राकांपा पर सैनिकों की वीरता पर सवाल उठाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, ‘‘ वे राफेल के खिलाफ भी झूठा प्रचार करते हैं और अनुच्छेद-370 पर उनके रुख से सतारा के लोगों को पीड़ा हुई। विपक्ष ने वीर सावरकर की छवि को धूमिल करने में कोई कसर नहीं छोड़ी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ उन्हें लोकसभा चुनाव में सबक सिखाया गया और अब महाराष्ट्र एवं हरियाणा के चुनाव में भी जनता उन्हें कड़ी सजा देगी। मोदी ने सतारा को अपनी ‘गुरु भूमि’ करार देते अपने गुरु लक्ष्मण इनामदार का उल्लेख किया जो जिले के ही खाटू गांव के रहने वाले थे।

उन्होंने शिवाजी महाराज के वंशज शिवेंद्रराजे भोंसले और उदयनराजे भोंसले के राकांपा छोड़कर भाजपा में शामिल होने का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘ पहले हमारे पास छत्रपति शिवाजी के केवल संस्कार थे। अब हमारे पास उनका पूरा परिवार है।’’

शिवेंद्रराजे सतारा से विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं जबकि उदयनराजे सतारा लोकसभा उपचुनाव में भाजपा के प्रत्याशी हैं।

Have something to say? Post your comment
 
More India News
सर्वदलीय बैठक में मोदी ने कहा, सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए हैं तैयार
पराली जलाने और वायु प्रदूषण के बीच बेहद मजबूत परस्पर संबंध - केजरीवाल
अयोध्या मामले पर न्यायालय के निर्णय के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल करेंगे - बोर्ड
सभी के हैं शिवाजी महाराज - शिवसेना
उद्धव को मुख्यमंत्री बनते देखना चाहती है शिवसेना, राजग की बैठक में नहीं होगी शामिल
बुलबुल चक्रवात का कहर, पश्चिम बंगाल में 23,811 करोड़ का नुकसान, 5 लाख से ज्यादा घर तबाह
सबरीमला में अयप्पा मंदिर के कपाट खोले गए, श्रद्धालु दर्शन के लिए उमड़े
दिल्ली में वायु गुणवत्ता अब भी गंभीर श्रेणी में
राजनीतिक दल, कारोबारी समूह अखबार शुरू कर अपने निहित हित को बढ़ावा दे रहे - नायडू
महाराष्ट्र में तीन दलों की गठबंधन सरकार की अगुवाई करेगी शिवसेना - राकांपा