Follow us on
Saturday, January 18, 2020
BREAKING NEWS
कट्टरपंथी सोच से मुक्ति दिलाने वाली टिप्पणी पर औवेसी ने प्रमुख रक्षा अध्यक्ष पर निशाना साधाधवन शतक से चूके, कोहली, राहुल ने भारत को मजबूत स्कोर तक पहुंचायाप्रवर्तन निदेशालय ने भूषण पावर एंड स्टील के पूर्व चेयरमैन के खिलाफ आरोप-पत्र दाखिल कियाप्रियंका चोपड़ा छाईं हॉलीवुड के फ़लक़ पर, एवेंजर्स के डायरेक्टर ने किया साइननिर्भया मामला : अदालत ने दोषियों को एक फरवरी की सुबह छह बजे फांसी देने का नया मृत्यु वारंट जारी कियाएरियन रॉकेट से इसरो के जीसैट 30 उपग्रह का सफल प्रक्षेपणन्यायालय को सरकारी तथा सार्वजनिक वाहनों को इलेक्ट्रिक वाहनों में तब्दील करने की याचिका पर नोटिसदिल्ली चुनाव के लिए भाजपा ने 57 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की
Chandigarh

चंडीगढ़ को आज मिलेगा 26 वां मेयर, राजबाला मलिक की जीत तय

January 10, 2020 10:27 AM

चंडीगढ़ (मयंक मिश्रा) - शहर को शक्रवार को 26 वां मेयर मिल जाएगा। शुक्रवार सुबह 11 बजे मेयर का चुनाव होगा जिसके बाद सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर का चुनाव होगा। दोपहर 12 बजे तक शहर को अगला मेयर मिल जाएगा। भाजपा की मेयर पद की उम्मीदवार राजबाला मलिक का अगला मेयर बनना तय है। रविकांत शर्मा का सीनियर डिप्टी मेयर और जगतार जग्गा का डिप्टी मेयर बनना तय है।

हालाकि मेयर पद के लिए राजबाला मलिक का मुकाबला कांग्रेस की उम्मीदवार गुरबख्श रावत से होगा। लेकिन, चूंकि भाजपा के पास सांसद और अकाली दल के एक पार्षद को मिलाकर कुल 22 मत हैं। जबकि जीत के लिए 14 वोटों की जरूरत है। ऐसे में भाजपा की उम्मीदवार राजबाला मलिक का अगला मेयर बनना तय है। और सीनियर डिप्टी मेयर व डिप्टी मेयर के पदों पर भी भाजपा के उम्मीदवारों की ही जीत तय है। हालाकि कांग्रेस ने शीला देवी को सीनियर डिप्टी मेयर और रविंदर गुजराल को डिप्टी मेयर पदों के लिए उम्मीदवार बनाया है।

नगर निगम के मेयर चुनाव के लिए बहुमत से ज्यादा मतों का आंकड़ा होने के बावजूद भाजपा को क्रॉस वोटिंग का डर सता रहा है। क्योंकि इस बार क्रॉस वोटिंग होने पर भाजपा की काफी किरकिरी होगी। कांग्रेस अपने पार्षदों की संख्या से ज्यादा वोट हासिल करने में ही अपनी जीत मान रही है। बगावत रोकने के लिए ही भाजपा ने इस बार सबसे ज्यादा पार्षदों द्वारा बताई गई पसंद के आधार पर ही राजबाला मलिक को मेयर पद का उम्मीदवार बनाया।  पिछले मेयर चुनाव में भाजपा के करीब सात पार्षदों ने क्रॉस वोटिंग की थी।

साल 2015 में क्रॉस वोटिंग का शिकार मेयर चुनाव में हीरा नेगी हुई और हार गई। इसके बाद फिर से 2017 में क्रॉस वोटिंग करते हुए भाजपा के अपने पार्षदों ने हीरा नेगी को वित्त एवं अनुबंध कमेटी के चुनाव में ही हरा दिया था। यही वजह है कि भाजपा इस बार जीत से ज्यादा क्रॉस वोटिंग रोकने का प्रयास कर रही है। क्योंकि भाजपा नेताओं को लगता है कि उनके उम्मीदवार की जीत तय है लेकिन क्रॉस वोटिंग रोक कर वह इस बार एकजुटता का मैसेज हाईकमान को दे। पार्टी प्रभारी प्रभात झा ने स्थानीय नेताओं को स्पष्ट कर दिया है कि इस बार क्रॉस वोटिंग नहीं होनी चाहिए। ऐसा होने पर क्रॉस वोटिंग करने वाले पार्षदों की पहचान करके उन पर कार्रवाई की जाएगी।

ध्यान रहे कि पार्षदों की राय लेने के लिए पार्टी प्रभारी प्रभात झा शनिवार को चंडीगढ़ में थे और उन्होंने सभी पार्षदों को सेक्टर-33 पार्टी कार्यालय में तीनों पदों के लिए उम्मीदवार को लेकर अपनी राय देने के लिए बुलाया था। इस दौरान पार्षदों ने अपनी अपनी पसंद झा को बताई थी। 20 से से 14 पार्षदों ने राजबाला मलिक का ही नाम लिया था। प्रभात झा पार्षदों के साथ-साथ कोर ग्रुप के सदस्यों से भी राय ली थी और उन्होंने इसकी रिपोर्ट हाईकमान को सौंपी थी। भाजपा ने नमांकन भरने से ठीक पहले उम्मीदवारों के नाम घोषित किए थे। हालाकि राजबाला मलिक को उम्मीदवार बनाए जाने पर हीरा नेगी और चंद्रवती शुक्ला नाराज़ हो गई थीं।

Have something to say? Post your comment
 
More Chandigarh News
सूद बने चंडीगढ़ भाजपा के नए प्रदेशाध्यक्ष
क्लाइमेट एक्शन के लिए चंडीगढ़ में स्कूल स्टूडेंट्स की क्लाइमेटगिरी
अरुण सूद होंगे भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष, आज होगी घोषणा
नेशनल गर्ल चाइल्ड डे से पहले सेंट स्टीफंस स्कूल में हुआ पिंक टर्बन कैंपेन
सीएचबी ने दूसरी बार कम किए फ्लैटों के रेट, डिमांड सर्वे एक महीने के लिए बढ़ाया
सीटीयू के बस पास भी हुए महंगे, आज से देना होगा बढ़ा हुआ किराया
रद हो सकती है सीएचबी की नई हाउसिंग स्कीम, कल बोर्ड की बैठक में लिया जाएगा फैसला
राजबाला मलिक दूसरी बार बनीं चंडीगढ़ की मेयर, भाजपा ने जीते तीनों पद
साइकलिंग को प्रमोट करने राजभवन से साइकिल पर सचिवालय आए प्रशासक
रोज गार्डन को सेक्टर-17 से जोड़ने वाला अंडरपास शुरू, प्रशासक ने किया उद्घाटन