Follow us on
Saturday, August 15, 2020
Business

व्यापार मोर्चे पर भारत, अमेरिका के बीच हो रही अच्छी प्रगति - श्रृंगला

January 11, 2020 08:38 AM

वाशिंगटन (भाषा) - भारत और अमेरिका के बीच व्यापार के मोर्चे पर "काफी अच्छी प्रगति" हो रही है। दोनों देश एक-दूसरे के उत्पादों को मुक्त बाजार पहुंच या तरजीह देने के लिए एक दीर्घकालिक व्यवस्था बनाने पर गौर कर रहे हैं। अमेरिका में भारत के निवर्तमान राजदूत हर्ष वर्धन श्रृंगला ने यह बात कही।

उन्होंने कहा कि भारत और अमेरिका व्यापार में एक दूसरे की जरूरतों को पूरा कर सकते हैं। श्रृंगला इस माह के अंत में भारत के विदेश सचिव का कार्यभार संभालने वाले हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच न्यूयॉर्क में सितंबर में हुई बैठक के दौरान दोनों देश सीमित व्यापार समझौते की घोषणा करने में नाकाम रहे थे।

भारत निष्पक्ष और उचित व्यापार समझौते के पक्ष में है। वहीं अमेरिका व्यापार घाटा कम करने को लेकर जोर दे रहा है। श्रृंगला ने कहा, "हमें खुशी है कि भारत और अमेरिका के बीच व्यापार समझौते पर अच्छी प्रगति हो रही है। हालांकि, वास्तव में हम उस दीर्घकालिक व्यवस्था पर विचार करे रहे हैं, जिसमें दोनों देशों के उत्पादों को एक-दूसरे के देश में मुक्त बाजार पहुंच और तरजीह मिल सके।"

उन्होंने जोर दिया कि दोनों देश व्यापार में एक दूसरे के पूरक बन सकते हैं। उन्होंने कहा कि वे हमारी कंपनियों के लिये अपना दरवाजा खोल सकते हैं और जिससे हमारा व्यापार मौजूदा समय में 160 अरब से बढ़कर दोगुना हो जाएगा।

श्रृंगला ने कहा, "यह एक रणनीतिक साझेदारी है, जिसे हम अगले चार-पांच साल के चुनावी नजरिये से नहीं देख रहे हैं बल्कि यह एक दीर्घकालिक संबंध है, जिसे हमें दोनों देशों के आपसी लाभ के नजरिये से देखना चाहिए।" यूएस चैंबर्स ऑफ कॉमर्स और अमेरिका भारत बिजनेस काउंसिल ने श्रृंगला के सम्मान में विदाई भोज का आयोजन किया। श्रृंगला ने कहा, "हमें एक नीतिगत ढांचे और सुविधा के तरीकों पर गौर करना चाहिए जो कि आर्थिक मोर्चे पर दोनों देशों की साझेदारी और संबंधों को सुरक्षित रखेगा। यह दीर्घकालिक रूप से मजबूत होनी चाहिए।"

Have something to say? Post your comment
 
More Business News
जायडस कैडिला ने भारत में कोविड-19 की दवा रेमडेसिवियर पेश की जीडीपी में कृषि की हिस्सेदारी बढ़ाने में कृषि अवसंरचना कोष अहम होगा - किसान निकाय मोदी ने अंडमान निकोबार तक ब्रॉडबैंड सेवायें पहुचाने वाली पहली समुद्री केबल परियोजना का उद्घाटन किया सेंसेक्स की शीर्ष 10 में छह कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 74,240 करोड़ रुपये बढ़ा गिरीश चंद्र मुर्मू ने नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक का पदभार संभाला सीरम इंस्टीट्यूट भारत, अन्य देशों के लिये कोविड-19 टीके की दस करोड़ खुराक का उत्पादन करेगा आरबीआई ने स्वर्णाभूषणों के बदले कर्ज का अनुपात बढ़ाकर 90 प्रतिशत किया ओयो ने भारत, दक्षिण एशिया के कर्मचारियों की वेतन कटौती वापस ली जुलाई में निर्यात लगभग पिछले साल के स्तर पर पहुंचा - गोयल कैलाश मानसरोवर मार्ग पर 85 प्रतिशत काम पूरा - गडकरी