Follow us on
Monday, January 20, 2020
Chandigarh

सीटीयू के बस पास भी हुए महंगे, आज से देना होगा बढ़ा हुआ किराया

January 14, 2020 10:29 AM

चंडीगढ़ (मयंक मिश्रा) - चंडीगढ़ ट्रांसपोर्ट अंडरटेकिंग (सीटीयू) की बसों में रोजाना सफर करने वाले हजारों यात्रियों को मंगलवार से एसी और नॉन एसी बसों में यात्रा के दौरान बढ़ा हुआ किराया देना पड़ेगा। सीटीयू ने किराए में 15 से 20 फीसदी की बढ़ोतरी करने के  साथ ही बसों के पास भी महंगे कर दिए गए हैं। ट्राईसिटी में सीटीयू की बस से कहीं भी जाने के लिए नॉन एसी बसों के लिए डेली पास 50 रुपये प्रति व्यक्ति की जगह 60 रुपये प्रति व्यक्ति में बनेगा।

इसी तरह से एसी बस का डेली पास 60 की जगह 75 रुपये में बनेगा। नॉन एसी बस के लिए जनरल मासिक पास 600 रुपये की जगह 700 रुपये में बनेगा जबकि सभी बसों के लिए 800 की जगह 900 रुपये में बनेगा। स्कूल-कालेज के स्टूडेंट्स का नॉन एसी बस का मासिक पास 100 की जगह अब 125 रुपये में बनेगा। जबकि सभी बसों के लिए अब 300 की जगह 350 रुपये में बनेगा। सभी राज्य, केंद्रीय, सरकारी बैंक कर्मचारी (आउटसोर्स, कांट्रैक्चुएल सहित) के लिए मासिक बास नॉन एसी बस के लिए 300 की जगह अब 350 रुपये में बनेगा।

सीटीयू की लोकल रूट पर चलने वाली 400 बसों में यात्रियों को मंगलवार से अधिक किराया देना होगा। एसी और नॉन एसी बसों में यात्रा प्रारंभ से पांच किलोमीटर तक के किराए में कोई वृद्धि नहीं की गई है। पांच से दस किलोमीटर तक और दस किलोमीटर के ज्यादा की कैटेगरी में किराए को बढ़ाया गया है। पांच से 10 किलोमीटर के लिए अब 20 की जगह 25 रुपये की टिकट लेनी होगी। जबकि 10 किलोमीटर 25 की जगह 30 रुपये की टिकट लेनी होगी। लोकल और लांग रूट पर एसी व नॉन-एसी बसों में वरिष्ठ नागरिकों को टिकट और महीने के पास में 50 फीसदी की छूट दी गई है।

ध्यान रहे कि सीटीयू को लांग रूट के बसों में लाभ हो रहा है, लेकिन लोकल रूट पर चलने वाली बसों में प्रति किलोमीटर करीब 35 रुपये का घाटा पड़ रहा है। सीटीयू शहर में करीब 400 बसें चला रहा है, ऐसे में सालों से किराया नहीं बढ़ाने की वजह से सीटीयू का घाटा बढ़ता जा रहा है। सीटीयू ने किराए को बढ़ाने का प्रपोजल पिछले साल तैयार किया था। सीटीयू की कमाई लगभग 140 करोड़ हैं जबकि सीटीयू का खर्चा 220 करोड़ है। 2018 से पहले तीन साल तक सीटीयू की ओर से किराए में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई थी। सीटीयू की ओर से 74 रूटों पर बसों का संचालन किया जाता है। सीटीयू की ओर से एसी और नॉन एसी की 450 बसें चल रही हैं। वहीं लांग रूट पर 100 बसों का संचालन किया जा रहा है।

एसी बसों के किराए में 15 फरवरी तक है कमी

चंडीगढ़ ट्रांसपोर्ट अंडरटेकिंग (सीटीयू) ने अपने लोकल एसी बसों का किराया कम किया है। यह 15 दिसंबर से 15 फरवरी,2020 तक लागू रहेगा। इसमें मिडी एसएमएल और मिनी एसी स्टैग बसों के किरायों में कमी होगी। इन बसों में हीटिंग सिस्टम नहीं होने के कारण चंडीगढ़ प्रशासन ने यह फैसला लिया है। ये 70 एसी बसें हैं। अब इन बसों में नॉन एसी जैसा ही किराया है। पहले यात्री इन बसों में सफर नहीं कर पाते थे। एसी बसों में किराया अधिक था। प्रशासन ने सर्दी के मौसम में यह फैसला लिया है।

Have something to say? Post your comment
 
More Chandigarh News
चंडीगढ़ में शुरू हुए बिजली के स्मार्ट मीटर लगना, प्रीपेड सुविधा भी मिली
दस माह बाद दोबारा शुरू हुई नाइट फूड स्ट्रीट, रात में ही नहीं 24 घंटे खुलेगी
सूद बने चंडीगढ़ भाजपा के नए प्रदेशाध्यक्ष
क्लाइमेट एक्शन के लिए चंडीगढ़ में स्कूल स्टूडेंट्स की क्लाइमेटगिरी
अरुण सूद होंगे भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष, आज होगी घोषणा
नेशनल गर्ल चाइल्ड डे से पहले सेंट स्टीफंस स्कूल में हुआ पिंक टर्बन कैंपेन
सीएचबी ने दूसरी बार कम किए फ्लैटों के रेट, डिमांड सर्वे एक महीने के लिए बढ़ाया
रद हो सकती है सीएचबी की नई हाउसिंग स्कीम, कल बोर्ड की बैठक में लिया जाएगा फैसला
राजबाला मलिक दूसरी बार बनीं चंडीगढ़ की मेयर, भाजपा ने जीते तीनों पद
चंडीगढ़ को आज मिलेगा 26 वां मेयर, राजबाला मलिक की जीत तय