Follow us on
Saturday, August 15, 2020
Business

खुदरा मुद्रास्फीति ने दिसंबर में लक्ष्मण रेखा लांघी, 7.35 % के साथ 5 साल के उच्चतम स्तर पर

January 14, 2020 10:34 AM

नयी दिल्ली, 13 जनवरी (भाषा) सब्जियों के दाम चढ़ने से खुदरा मुद्रास्फीति की दर दिसंबर 2019 में जोरदार तेजी के साथ 7.35 प्रतिशत के स्तर पर पहुंच गई है। यह इसका पांच साल से अधिक का सबसे ऊंचा स्तर है और भारतीय रिजर्व बैंक की दृष्टि से यह सामान्य स्तर को लांघ चुकी है। इससे पहले जुलाई, 2014 में मुद्रास्फीति 7.39 प्रतिशत पर चल रही थी।

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) सोमवार को जारी सरकारी आंकड़ों के मुताबिक आलोच्य माह में सब्जियों की कीमतें पिछले साल से औसतन 60.5 प्रतिशत ऊपर चल रही थीं। उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित खुदरा मुद्रास्फीति दिसंबर, 2018 में 2.11 प्रतिशत और नवंबर, 2019 में 5.54 प्रतिशत थी।

एनएसओ के आंकड़ों के अनुसार, दिसंबर में खाद्य वस्तुओं की मुद्रास्फीति बढ़कर 14.12 प्रतिशत पर पहुंच गई। दिसंबर, 2018 में यह शून्य से 2.65 प्रतिशत नीचे थी। नवंबर, 2019 में यह 10.01 प्रतिशत पर थी।

दालों और उससे जुड़े उत्पादों की मुद्रास्फीति दिसंबर माह में 15.44 प्रतिशत रही जबकि मांस और मछली की मुद्रास्फीति करीब दस प्रतिशत रही। केंद्र सरकार ने रिजर्व बैंक को मुद्रास्फीति को चार प्रतिशत (दो प्रतिशत ऊपर या नीचे) के दायरे में रखने का लक्ष्य दिया है। अब यह केंद्रीय बैंक के लक्ष्य से कहीं अधिक हो गई है।

रिजर्व बैंक की अगली मौद्रिक नीति समिति की बैठक छह फरवरी को होनी है। दिसंबर की बैठक में केंद्रीय बैंक ने मुद्रास्फीति की चिंताओं को हवाला देते हुए नीतिगत दर को पूर्वस्तर पर बरकरार रखा था।

Have something to say? Post your comment
 
More Business News
जायडस कैडिला ने भारत में कोविड-19 की दवा रेमडेसिवियर पेश की जीडीपी में कृषि की हिस्सेदारी बढ़ाने में कृषि अवसंरचना कोष अहम होगा - किसान निकाय मोदी ने अंडमान निकोबार तक ब्रॉडबैंड सेवायें पहुचाने वाली पहली समुद्री केबल परियोजना का उद्घाटन किया सेंसेक्स की शीर्ष 10 में छह कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 74,240 करोड़ रुपये बढ़ा गिरीश चंद्र मुर्मू ने नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक का पदभार संभाला सीरम इंस्टीट्यूट भारत, अन्य देशों के लिये कोविड-19 टीके की दस करोड़ खुराक का उत्पादन करेगा आरबीआई ने स्वर्णाभूषणों के बदले कर्ज का अनुपात बढ़ाकर 90 प्रतिशत किया ओयो ने भारत, दक्षिण एशिया के कर्मचारियों की वेतन कटौती वापस ली जुलाई में निर्यात लगभग पिछले साल के स्तर पर पहुंचा - गोयल कैलाश मानसरोवर मार्ग पर 85 प्रतिशत काम पूरा - गडकरी