Follow us on
Sunday, February 23, 2020
Chandigarh

अरुण सूद होंगे भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष, आज होगी घोषणा

January 17, 2020 10:16 AM

चंडीगढ़ (मयंक मिश्रा) - शहर के पूर्व मेयर व पार्षद अरुण सूद चंडीगढ़ भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष होंगे। वीरवार को उन्होंने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के लिए अपना नामांकन भरा। शुक्रवार को सूद को आधिकारिक तौर पर अध्यक्ष घोषित किया जाएगा। दस साल बाद चंडीगढ़ भाजपा को नया प्रदेश अध्यक्ष मिलेगा। संजय टंडन इस पद पर 10 साल तक रहे। भाजपा हाईकमान ने प्रदेश अध्यक्ष के चुनाव के लिए शुक्रवार का दिन निर्धारित किया है।

पार्टी ने अरुण सूद का नाम तय किया है, इसलिए नामांकन सिर्फ अरुण सूद की तरफ से ही भरा गया है। इसके बाद स्क्रूटनी होगी और फिर शुक्रवार  को नए प्रदेश अध्यक्ष की घोषणा कर दी जाएगी।  सूद ऐसे तीसरे भाजपा अध्यक्ष होंगे जोकि नगर निगम के पार्षद भी रहे। इससे पहले ज्ञानचंद गुप्ता और कमला शर्मा भी भाजपा के अध्यक्ष रह चुके हैं। अरुण सूद ने चार सेट भरे हैं ताकि यह साबित होजाए कि उनके विरोध में कोई नहीं है। सूद ने जो चार सेट भरे हैं, उनमें 41 डेलीगेट्स के हस्ताक्षर हुए हैं। सांसद किरण खेर ने भी सूद के एक नामांकन पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं।

भाजपा की स्थानीय इकाई की तरफ से अरुण सूद के नाम का प्रस्ताव भेजा था, जिस पर विचार विमर्श किया गया। पार्टी हाईकमान ने अरुण सूद के नाम को हरी झंडी दे दी थी। भाजपा चंडीगढ़ प्रदेश अध्यक्ष का चुनाव संपन्न कराने केलिए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल और राष्ट्रीय सचिव वाई सत्य कुमार भी उपस्थित रहेंगे। पार्टी हाईकमान की तरफ से नियुक्त किए गए ऑब्जर्वर केंद्रीय रेलमंत्री पीयूष गोयल का दौरा रद्द हो गया है, उनकी जगह राष्ट्रीय सचिव वाई सत्य कुमार ही शुक्रवार को चंडीगढ़ पहुंचेंगे।

शहर के कई नेता भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी के लिए भागदौड़ कर रहे थे। बीते दिनों भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शहर आए थे और प्रदेश के नेताओं की राय ली थी। शिवराज चौहान ने पार्टी के मुख्य सदस्यों, पूर्व अध्यक्ष, जिला अध्यक्ष और पार्षदों से बातचीत की थी। अरुण सूद दूसरी बार चंडीगढ़ नगर निगम में पार्षद चुनकर आए हैं। सूद भाजपा के वर्तमान कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के भी करीबी हैं। वहीं, सूद को अध्यक्ष पद पर चुनाव को लेकर पार्टी के भीतर खींचतान भी हुई है। पूर्व सांसद सत्यपाल जैन गुट पूरी तरह अरुण सूद के खिलाफ हैं। जैन ने देवेश मौदगिल को अध्यक्ष बनाने के लिए लॉबिंग की थी। दूसरी ओर, सूद निवर्तमान भाजपा अध्यक्ष संजय टंडन के करीबी हैं। उन्हें अध्यक्ष बनाने में टंडन गुट भी अपनी जीत मान रहा है। सांसद किरण खेर का भी सूद को समर्थन मिला है।

Have something to say? Post your comment
 
More Chandigarh News
सेक्टर 32 के एक घर में आग लगने से 3 युवतियों की मौत
खांसी के साथ खून आए तो हो सकता है लंग कैंसर
चंडीगढ़ में 15 अप्रैल से शुरू होगा जनगणना का पहला चरण, 30 मई तक चलेगा
अब ट्राईसिटी के लोग भी ‘हुनर हाट’ में ले सकेंगे लिट्टी चोखा का लुत्फ
आज से शुरू होगी चंडीगढ़ से गोवा की सीधी फ्लाइट, 2 घंटे 50 मिनट में पहुंचेगी
ई-गवर्नेंस प्रोजेक्ट के तहत 14 सेवाएं एक अप्रैल से मिलेंगी ऑनलाइन
सारंगपुर की एजुकेशन सिटी में बनेगा चंडीगढ़ का दूसरा मेडिकल कॉलेज
मध्य मार्ग पर ट्रैफिक का बोझ कम करेंगी दो नई सड़कें
चंडीगढ़ में नाइट क्लबों और डिस्कोथेक का समय बढ़ाने की तैयारी
पिंजौर के निकट स्कूल बस में 4 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म