Follow us on
Tuesday, February 18, 2020
Business

आटो एक्सपो संपन्न, 70 नए वाहन पेश किए गए, छह लाख से अधिक दर्शक पहुंचे

February 13, 2020 10:27 AM

ग्रेटर नोएडा (भाषा) - देश की प्रमुख वाहन प्रदर्शनी आटो एक्सपो बुधवार को यहां संपन्न हुई। आठ दिन तक चले इस वाहन मेले में कंपनियों ने 70 से अधिक नए उत्पाद पेश किये। वाहन प्रदर्शनी को देखने के लिये कुल 6.08 लाख लोग पहुंचे।

वाहन विनिर्माताओं के संगठन सियाम ने बयान में कहा है कि आटो एक्सपो के इस संस्करण में 108 प्रदर्शकों ने कुल 352 नये भविष्य के वाहन प्रदर्शित किए। इसमें आठ वैश्विक प्रदर्शक भी रहे। एक्सपो के दौरान 70 नए उत्पादों को पेश किया गया अथवा उनका अनावरण किया गया।

पर्यावरणनुकूल वाहन इन दिनों काफी चर्चा में हैं। इसी रुख के अनुरूप एक्सपो के दौरान 35 बिजलीचालित (ईवी) वाहन पेश किए गए। वहीं 15 इलेक्ट्रिक वाहनों का ‘कान्सेप्ट’ दिखाया गया। इस बार आटो एक्सपो में कई नयी कंपनियों ने भागीदारी की। इनमें चीन की कंपनियां ग्रेट वॉल मोटर्स और हाइमा आटोमोबाइल के साथ ओलेक्ट्रा शामिल हैं।

हालांकि, इस बार आटो एक्सपो में टोयोटा, होंडा, बीएमडब्ल्यू, आडी और दोपहिया कंपनियों हीरो मोटोकॉर्प, बजाज आटो और टीवीएस मोटर ने भाग नहीं लिया। दो साल में एक बार आयोजित किए जाने वाले आटो एक्सपो का आयोजन यहां इंडिया एक्सपो मार्ट में 5 से 12 फरवरी तक किया गया। आयोजन ऐसे समय हुआ जबकि चीन जानलेवा कोरोना वायरस संक्रमण से जूझ रहा है। चीन की भागीदार कंपनियों के अधिकारी उस दिन पवेलियनों में मौजूद नहीं थे जब चीन की ग्रेट वॉल मोटर ने भारतीय वाहन बाजार में एक अरब डॉलर के निवेश की घोषणा की।

सियाम के अध्यक्ष राजन वढेरा ने कहा कि वैश्विक स्तर पर आटो एक्सपो प्रदर्शनी मात्र से अब समाज के सभी वर्गों को विशिष्ट अनुभव उपलब्ध कराने वाले हो गए हैं। आटो एक्सपो- द मोटर शो 2020 को अच्छी प्रतिक्रिया मिली। इसमें 6.08 लाख लोग आए।

Have something to say? Post your comment
 
More Business News
बजट में नहीं हुआ है एफआरबीएम कानून का उल्लंघन - सीतारमण
दूरसंचार क्षेत्र पर न्यायालय के आदेश से कोई मुद्दा उठा तो आंतरिक स्तर पर चर्चा होगी - आरबीआई गवर्नर
एयरसेल-मैक्सिस मामला: ईडी, सीबीआई ने दाखिल की जांच की स्थिति रिपोर्ट
कोरोना वायरस से निकट अवधि में कारोबार पर पड़ेगा असर- स्टर्लिंग एंड विल्सन सोलर
जनवरी में स्वर्ण ईटीएफ में 200 करोड़ रुपये का निवेश, सात साल में सबसे अधिक
राज्यों को जल्द जीएसटी मुआवजे का 35,000 करोड़ रुपये जारी करेगी केंद्र सरकार
वित्त मंत्रालय एफआरडीआई विधेयक पर काम कर रहा है, संसद में कब पेश होगा तय नहीं - सीतारमण
वित्त मंत्रालय एफआरडीआई विधेयक पर काम कर रहा है, संसद में कब पेश होगा तय नहीं - सीतारमण
आधार के जरिये तत्काल ऑनलाइन पैन जारी करने की सुविधा इसी महीने होगी शुरू - राजस्व सचिव
रिजर्व बैंक के दायरे में होंगे देश के सभी सहकारी बैंक