Follow us on
Wednesday, August 12, 2020
BREAKING NEWS
केंद्र का पश्चिम बंगाल सरकार से अनुरोध, बांग्लादेश में फंसे निवासियों को प्रवेश की अनुमति देंविधायकों को विधानसभा में भी एकजुटता दिखानी है - गहलोतप्रणब मुखर्जी के मस्तिष्क की सर्जरी हुईभारत में कोविड-19 के 62,064 नए मामले सामने आए, 1,007 और लोगों की मौतयूजीसी ने कोविड-19 के दौरान महाराष्ट्र और दिल्ली में परीक्षायें रद्द करने पर न्यायालय में उठाये सवालपाकिस्तान में बम विस्फोट में पांच व्यक्तियों की मौत, 10 अन्य घायलभारतीय हॉकी खिलाड़ी मनदीप सिंह कोरोना वायरस पॉजिटिवमोदी ने अंडमान निकोबार तक ब्रॉडबैंड सेवायें पहुचाने वाली पहली समुद्री केबल परियोजना का उद्घाटन किया
Punjab

मानव संसाधन के क्षेत्र में युवाओं का भविष्य सुरक्षित - सुज़ैन रयान

February 13, 2020 10:50 AM

चंडीगढ़ - मानव संसाधन के क्षेत्र में जहां नौकरियों की भरमार है वहीं भारत में रहकर कनाडा की मांग के अनुसार प्रशिक्षण हासिल करने वाले मानव संसाधन की विदेशों में बेहद मांग है। 21वीं सदी के विश्व की जरूरत के अनुसार मानव संसाधन बनाना सबसे बड़ी चुनौती है।

उक्त विचार चार्टर्ड प्रोफैशनल इन हयूमन रिसोर्स (सीपीएचआर) की चेयरपर्सन सुज़ैन रयान व सीईओ एंथोनी अरिगनेल्लो व पूर्व सीओओ बी.एस. गिल ने आज मोहाली स्थित श्रीबाला जी मैनेजमैंट कंसल्टेंट (एसबीएमसी) द्वारा आयोजित कार्यक्रम के दौरान विद्यार्थियों को प्रमाण पत्र वितरित करने के बाद उन्हें संबोधित करते हुए व्यक्त किए। आज आयोजित कार्यक्रम के दौरान सीपीएचआर द्वारा उन विद्यार्थियों को प्रमाण पत्र दिए गए जिन्होंने एसबीएमसी में रहकर कनाडा के मनादंडों के अनुरूप मानव संसाधन के क्षेत्र में प्रशिक्षण हासिल किया है।

इस अवसर पर बोलते हुए सुज़ैन रयान ने कहा कि वर्तमान में कनाडा में एक लाख 30 हजार मानव संसाधन (एच.आर. प्रोफैशनल) काम कर रहे हैं। चालू वर्ष के दौरान कनाडा में एच.आर.क्षेत्र में करीब चार हजार नए एचआर की जरूरत है। युवा वर्ग को इस क्षेत्र में अपना भविष्य बनाने का परामर्श देते हुए उन्होंने कहा कि अन्य क्षेत्रों के मुकाबले यहां औसतन वेतन 63,400 डॉलर मासिक है। बहुराष्ट्रीय कंपनियां अंतरराष्ट्रीय प्रमाणिकता के साथ भारतीयों पर भरोसा करती है। ऐसे में अगर पंजाब के युवाओं को कनेडियन कपंनियों की मांग के अनुसार एच.आर. के क्षेत्र में प्रशिक्षण दिया तो वह विदेश में जाकर स्थिरता मिलेगी।

इस अवसर पर बोलते हुए बाला मैनेजमेंट कंसलटेंट के सीईओ राहुल वैंकटेश सिंगला ने बताया कि पंजाब से हर साल भारी संख्या में युवा विदेशों में जाते हैं लेकिन कौशल विकास के अभाव में उन्हें कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। एसबीएमसी द्वारा अब तक करीब साढे तीन हजार युवाओं को प्रशिक्षण प्रदान किए जाने का दावा करते हुए राहुल ने बताया कि अगर चंडीगढ़ या मोहाली में कनाडा की मांग के अनुसार एच.आर. प्रोफैशनल को तैयार किया जाएगा तो पंजाब से विदेश जाने वाले युवाओं को अपना भविष्य संवारने में कोई परेशानी नहीं आएगी।

Have something to say? Post your comment
 
More Punjab News
कोविड-19 टेस्टिंग के लिए मोहाली की पंजाब बायोटैक्रोलॉजी इनक्युबेटर वायरल डायग्नोस्टिक लैबोरेट्री का उद्घाटन देश की राजधानी में सही कोविड प्रबंधों के लिए आम आदमी पार्टी द्वारा अपनी पीठ थपथपाना हास्यप्रद लगता है - सिद्धू पंजाब सरकार अन्य राज्यों के मुकाबले कोरोना का सार्वजनिक फैलाव रोकने में कहीं बेहतर - बलबीर सिद्धू पंजाब में निवेश को बढ़ावा देने के लिए बड़ी पहल; वन विभाग की मंज़ूरियां मिलेंगी ऑनलाईन स्वास्थ्य विभाग में 2984 पदों के लिए 31 अगस्त तक आवेदन लिये जाएंगे - बलबीर सिंह सिद्धू पंजाब कैबिनेट द्वारा छह और विभागों के लिए चार वर्षीय रणनीतिक कार्य योजना को हरी झंडी नकली शराब के मामले में कोई भी राजनीतिज्ञ या सरकारी कर्मचारी बख्शा नहीं जायेगा-कैप्टन पंजाब जहरीली शराब कांड: 5 माफिया सहित 37 की गिरफ्तारी सुखबीर बादल मगरमच्छ के आंसू बहाना बंद करे, अपने गिरेबान में झांके - बलबीर सिंह सिद्धू पंजाब जहरीली शराब त्रासदी : केजरीवाल ने सीबीआई जांच की मांग की