Follow us on
Sunday, March 29, 2020
BREAKING NEWS
India

राहुल गांधी ने दिल्ली में हिंसा की निंदा की

February 25, 2020 06:44 AM

नयी दिल्ली (भाषा) - कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को दिल्ली में हुई हिंसा की निंदा की। उन्होंने लोगों से उत्तेजना के बजाय संयम, करुणा और समझदारी दिखाने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन किया जाना एक स्वस्थ लोकतंत्र की पहचान है लेकिन हिंसा को कभी भी न्यायोचित नहीं ठहराया जा सकता है।

गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘दिल्ली में आज हुई हिंसा परेशान करने वाली है और इसकी निंदा की जानी चाहिए। शांतिपूर्ण प्रदर्शन एक स्वस्थ लोकतंत्र की पहचान है, लेकिन हिंसा को कभी भी उचित नहीं ठहराया जा सकता। मैं दिल्ली के नागरिकों से उत्तेजना के बजाय संयम, करुणा और समझदारी दिखाने का अनुरोध करता हूं।’’

दिल्ली के जाफराबाद और मौजपुर में सोमवार को संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) का समर्थन करने वाले और विरोध करने वाले समूहों के बीच संघर्ष हो गया और प्रदर्शनकारियों ने कई घरों, दुकानों तथा वाहनों में आग लगा दी और एक-दूसरे पर पथराव किया।

हिंसा में दिल्ली पुलिस का एक हेड कांस्टेबल मारा गया और एक पुलिस उपायुक्त घायल हो गया। राजधानी के चांदबाग और भजनपुरा में भी संघर्ष होने की खबरें है। दिल्ली में संघर्ष का यह दूसरा दिन है जहां अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सोमवार की शाम पहुंचे है।

Have something to say? Post your comment
 
More India News
भारत में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 873 हुए, 19 लोगों की मौत
प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस से मुकाबला के लिये आपात राहत कोष के गठन की घोषणा की
पलायन बना सरकार के लिए बड़ी चुनौती, लाखों की तादात दिल्ली के बस अड्डे पर जमा है लोग
एक हफ्ते में तीन गुना बढ़े कोरोना के मरीज, लॉकडाउन में भी नहीं थम रही रफ्तार
भारत में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 724 हुए, 17 लोगों की मौत
रेपो दर में कटौती का स्वागत, ईएमआई का फैसला अस्पष्ट - चिदंबरम
टीवी के सामने बैठने के लिए हो जाएं तैयार, 'रामायण' और 'महाभारत' का आज से होगा प्रसारण
रिजर्व बैंक ने रेपो दर 0.75 % घटायी, मासिक किस्त भरने वालों को मिल सकती है तीन माह की मोहलत
जी-20 शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री मोदी ने नये संकट प्रबंधन दिशानिर्देश की वकालत की
कोरोना वायरस संक्रमण जिस दर से बढ़ रहा है वह अपेक्षाकृत स्थिर प्रवृत्ति है - स्वास्थ्य मंत्रालय