Follow us on
Sunday, March 29, 2020
BREAKING NEWS
Himachal

21 मार्च मध्यरात्रि से एचआरटीसी व निजी बसों के संचालन में की जाएगी 50 प्रतिशत की कमी

March 21, 2020 07:57 AM

प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने आज कोरोना वायरस के संक्रमण के संदर्भ में देश के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से बातचीत की। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने इसके उपरान्त प्रदेश के उपायुक्तों के साथ वीडियो काॅन्फ्रेंस करते हुए उन्हें प्रधानमन्त्री के आह्वान पर 22 मार्च को जनता कफ्र्यू को सफल बनाना सुनिश्चित करने को कहा। उन्होंने कहा कि यह प्रयास किए जाएं कि लोगों को इस दिन घरों के अन्दर रहने के लिए प्रेरित किया जाए।

जय राम ठाकुर ने कहा कि स्थिति की निगरानी के लिए राज्य एवं जिला स्तर पर नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं तथा काॅल सेंटर 104 भी आरम्भ किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी राजकीय मेडिकल काॅलेजों सहित 18 स्वास्थ्य संस्थानों में आईसोलेशन वार्ड चिन्हित किए गए हैं।

उन्होंने कहा कि आईजीएमसी शिमला और टांडा मेडिकल काॅलेज में क्लीनिशियन प्रभारी नियुक्त किए गए हैं और दोनो मेडिकल काॅलेजों के माईक्रोबायोलाॅजी विभागों में सेेंपल एकत्र करने की सुविधा भी उपलब्ध करवाई गई है। उन्होंने कहा कि सभी जिला अस्पतालों और मेडिकल काॅलेजों में एन-95 मास्क सहित निजी हिफाज़ती उपकरण (पीपीई) की सुविधा प्रदान की गई है, जिनमें 102 बिस्तरों की क्षमता है। 

जय राम ठाकुर ने कहा कि होटल व्यवसायियों से आग्रह किया गया है कि वे आगंतुकों को प्रेरित करें कि यदि वे पिछले 14 दिनों की अवधि में चीन या कोविड-19 प्रभावित देशों की यात्रा पर गए हैं तो स्वयं इसकी जानकारी प्रदान करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिला स्तर पर जिला परिषद, खण्ड समितियों और ग्राम सभाओं के साथ बैठकें कर स्वास्थ्य विभाग जनता और पंचायती राज संस्थानों को इस बारे में जागरूक कर रहा है। 8 मार्च, 2020 को महिला ग्राम सभाओं के माध्यम से प्रदेश में विशेष जागरूकता अभियान आयोजित किया गया था। हेल्पलाईन 104 काॅल सेंटर के रूप में चैबीसों घण्टे कार्य कर रही है। संदिग्ध मामले सामने आने की स्थिति में लोगों को परिवहन की सुविधा प्रदान करने के लिए तीन 108 एंबुलेंस पीपीई किट के साथ तैयार रखी गई हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांगड़ा जिला में कोरोना वायरस के दो संदिग्ध मामले सामने आए हैं, जिनके सैंपल आगामी जांच के लिए पूना भेजे गए हैं। उन्होंने कहा कि मुनाफाखोरी और जमाखोरी के मामलों में प्रदेश सरकार सख्त कार्रवाई करेगी। सरकार ने बिजली और पानी जैसी विभिन्न सार्वजनिक उपयोगिताओं के बिलों के भुगतान की तिथि स्थगित कर दी है और इनके भुगतान पर अतिरिक्त राशि नहीं देनी होगी।

जय राम ठाकुर ने कहा कि 22 मार्च, 2020 को जनता कफ्र्यू के दृष्टिगत प्रदेश में सभी प्रकार की बस सेवाएं बन्द रहेंगी। आगामी आदेशों तक 21 मार्च, 2020 मध्यरात्रि से अंतर्राज्यीय कांट्रेक्ट कैरिएज को भी बंद कर दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि आपातकालीन परिस्थितियों के मद्देनजर राज्य पथ परिवहन निगम अपनी अन्तर्राज्यीय बस सेवाओं के रूट को घटाकर 10 प्रतिशत से कम पर लाएगा  और केवल दिल्ली, हरिद्वार और चण्डीगढ़ के लिए ही निगम की बस सेवाएं संचालित होंगी। इसके अतिरिक्त 21 मार्च, 2020 मध्यरात्रि से आगामी आदेशों तक प्रदेश के भीतर एचआरटीसी एवं निजी बसों के संचालन में 50 प्रतिशत कमी की जाएगी और किसी भी बस में क्षमता के 70 प्रतिशत से अधिक सवारियां नहीं बिठाई जाएंगी।

सभी उपायुक्तों ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए की गई तैयारियों के बारे में मुख्यमंत्री को जानकारी दी। मुख्य सचिव अनिल खाची, मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार त्रिलोक जमवाल, अतिरिक्त मुख्य सचिव आरडी धीमान, प्रधान सचिव के.के पंत एवं संजय कुंडू, पुलिस महानिदेशक एसआर मरडी सहित प्रदेश सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे।

Have something to say? Post your comment
 
More Himachal News
प्रदेश में 300 पौध संरक्षण केंद्र खुले रहेंगे - मुख्यमंत्री
निजी स्कूलों में फीस जमा कराने की अन्तिम तिथि 30 अपै्रल तक बढ़ाई गई
कफ्र्यू में रोजाना प्रातः 7.00 बजे से दोपहर 1.00 बजे तक मिलेगी छूट - मुख्यमंत्री
आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिए प्रभावी कदम उठाए जा रहे हैं – मुख्यमंत्री
हिमाचल प्रदेश में कफ्र्यू लागू
राज्य सरकार ने पूरे प्रदेश के लिए जारी की लाकडाउन की अधिसूचना
मुख्यमंत्री ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए राजनीतिक दलों से सहयोग का किया आग्रह
हिमाचल में घरेलू व विदेशी पर्यटकों के प्रवेश पर प्रतिबन्ध
केंद्र सरकार ने हिमाचल के लिए एनडीआरएफ की एक बटालियन स्वीकृत की
एचआरटीसी चालकों का बढ़ेगा वेतन, पेंशनधारकों को मिलेगी अंतरिम राहत