Follow us on
Saturday, March 28, 2020
Punjab

अरोड़ा ने उद्योग को कोविड-19 के फैलाव को रोकने के लिए सरकार के यत्नों में शामिल होने के लिए कहा

March 21, 2020 07:59 AM

चंडीगढ़ - कोविड-19 के खतरे को दूर करने के लिए सरकार की सक्रिय कोशिशों के मद्देनजऱ, राज्य के उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा ने आज राज्य की उद्योग के प्रमुखों को अपने सभी कर्मचारियों के लिए सावधानी वाले स्वास्थ्य उपायों को यकीनी बनाने के लिए कहा जिससे इस वायरस के फैलाव को पूरी तरह काबू करने के लिए राज्य सरकार की कोशिशों को पूरा किया जाये।

अरोड़ा ने कहा कि सभी औद्योगिक इकाईयों में कर्मचारियों के लिए साफ़-सफ़ाई सम्बन्धी सावधानियां लाजि़मी तौर पर उपलब्ध करवाई जाएँ। उन्होंने उद्योग को अपने कर्मचारियों की नज़दीकी डिसपैंसरियों में जांच करवाने के लिए भी कहा जिससे लक्षण सामने आने पर उचित समय पर इलाज को यकीनी बनाया जाये।

कोरोनावायरस के ख़तरे से पैदा हुई स्थिति का जायज़ा लेने के लिए विभाग के सीनियर अधिकारियों और हिस्सेदार बोर्डों और कॉर्पोरेशनों की मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए अरोड़ा ने कोरोनावायरस के फैलाव को रोकने के लिए राज्य की सभी औद्योगिक इकाईयों को अपनी, फ़ैक्ट्रियों के बाहर सफ़ाई सम्बन्धी सावधानियां दिखाने वाले साईन बोर्ड लगाने के लिए कहा। उन्होंने सभी कर्मचारियों के लिए हंैड सैनीटाईजर की उपलब्धता को यकीनी बनाने के लिए भी कहा।

उद्योग को पूर्ण सहायता का भरोसा देते हुए मंत्री ने कहा कि राज्य किसी भी चुनौती का मुकाबला करने के लिए पूरी तरह तैयार है। उन्होंने आगे कहा कि इस घातक वायरस को रोकने की जंग में निजी और भाईचारक स्तर पर सक्रिय भागीदारी अहम भूमिका रखती है।

इसके अलावा, उन्होंने फ़ैक्ट्रियों में दाखि़ल होने वाले कामगारों के लिए मुफ़्त साबुन और पानी उपलब्ध करवाने के लिए कहा और स्टाफ व वर्करों द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली आम सुविधाओं को नियमित तौर पर साफ़-सुथरा बनाने के लिए भी कहा। इन सहूलतों में कर्मचारियों द्वारा इस्तेमाल की जाने वानी बसें/आम ट्रांसपोर्ट वाहन शामिल हैं।

Have something to say? Post your comment
 
More Punjab News
विधायक पिंकी ने तैयार करवाए राशन के 8 हजार पैकेट, जरूरतमंद लोगों में बांटा लंगर
कोविड -19 महामारी के बढ़ते प्रकोप कारण जेलों में से 6000 कैदियों को छोड़ा जायेगा-सुखजिन्दर सिंह रंधावा
सड़कों पर दूसरे दिन भी पसरा रहा सन्नाटा
मुख्यमंत्री ने कोविड-19 से कमज़ोर वर्गों को पेश मुश्किलें घटाने के लिए केंद्र से वित्तीय पैकेज की मांग
कोरोना वायरस से रोजी-रोटी पर संकट / पंजाब कैडर के आईएएस देंगे एक दिन की सैलरी
पंजाब में कर्फ्यू लागू
पंजाब में 31 मार्च तक बंद
पंजाब से महाराष्ट्र तक दिख रहा जनता कर्फ्यू का असर
मुख्यमंत्री द्वारा कोविड-19 के बाद बड़ी आर्थिक मंदी आने की चेतावनी
अकाली अपना आधार गवा बैठे हैं, आप स्वयं में उलझी हुई है और कांग्रेस की सत्ता में वापसी निश्चित - कैप्टन