Follow us on
Saturday, March 28, 2020
Haryana

नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) को हम सबको मिलकर रोकना है - मुख्यमंत्री

March 22, 2020 08:34 AM

चंडीगढ़ - हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने राज्य के लोगों से अपील करते हुए कहा कि नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) को हम सबको मिलकर रोकना है और यहीं से वापस भगाना है लेकिन इसके लिए हम सबको कल होने वाले जनता कफर्यू को सफल बनाना होगा और अपने-अपने घरों में रहना होगा।

मुख्यमंत्री आज यहां प्रदेशवासियों के नाम नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) को लेकर संदेश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि इस वायरस का दूसरे से तीसरा चरण और चौथा चरण बहुत खतरनाक चरण है इसलिए हमको चुनौती के रूप में इसका मुकाबला करना होगा और इस लड़ाई को लडऩे के लिए हम लोग सामूहिक रूप से इसका मुकाबला करेंगे। उन्होंने कहा कि  इतिहास में भी ऐसी बहुत सी चुनौतियां हमारे सामने आई हैं जिस समय हमने सामूहिक रूप से लड़ा है और अब भी सामूहिक रूप से हमें लडऩा है लेकिन एक बड़ा अंतर यह है कि पहले हम इक_े होकर एक समूह बनाकर यह सामूहिक लड़ाई लड़ते थे लेकिन अब यह बहुत एक अलग प्रकार की लड़ाई है कि सामूहिक रूप से नहीं रहना है बल्कि इसमें तो अकेले अकेले रहकर अपने आपको अलग करक,े जिसको सोशल डिस्टेंसिंग कहा गया है, इस लडाई को जीतना है।

मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि इस प्रकार से अपना व्यवहार दिखाकर हम एक दूसरे से संपर्क किए बिना अलग अलग रहकर भी सामूहिकता दिखा सकते है और इस लड़ाई को लड़ सकते हैं। उन्होंने बताया कि जैसा हम सभी को मालूम है देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 19 मार्च, 2020 को ही देशवासियों से आहहान किया था कि 22 मार्च, 2020 यानि रविवार को जनता कर्फ्यू लगाना है अत: हमें अपने घर से बाहर नहीं निकलना है और घर में रहकर ही सारे काम करने हैं, केवल आवश्यक सेवाओं जैसे मैडीकल स्टाफ और स्वास्थ्य सेवाओं से जुडे हुए, मीडिया कर्मी, पुलिस कर्मी व सफाई कार्य में कार्यरत लोगों को ही निकलना चाहिए। उन्होंने कहा कि आवश्यकता अनुसार ही वाहन व्यवस्था चलेगी।

उन्होंने कोरोनावायरस के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इसकी लाइफ कुल मिलाकर 8 से 12 घंटे तक होती है लेकिन यदि हमने जनता कफर्यू प्रयोग सफल किया तो   यह चक्र टूट सकता है। उन्होंने कहा कि अगर हम यह चक्र तोड़ देंगे तो हमारा सुरक्षा चक्र मजबूत हो जाएगा इसलिए हमें इस प्रयोग को सफल प्रयोग करना है। उन्होंने बताया कि  यह एक ऐसा रोग है जिसके संवाहक हम खुद हैं और हम अगर चाहेंगे तो इसे लेकर अपने घर पहुंच जाएंगे और हम अगर नहीं चाहेंगे तो इसको अभी भी आगे बढऩे से रोक सकते हैं। उन्होंने बताया कि व्यक्ति-व्यक्ति का संपर्क ना बने इसलिए हमें दूरी बनाई रखनी होगी।

मुख्यमंत्री ने लोगों से कहा कि सरकार हमें समय-समय पर जो निर्देश दे रही है उन निर्देशों का हमको भरपूर पालन करना है चाहे वह प्रदेश सरकार के हो और चाहे केंद्र सरकार की ओर से हो। उन्होंने आग्रह किया कि हमें अपने घर से काम करना चाहिए  ताकि जो आवश्यक काम हो उसका निपटारा हम कर सकें। उन्होंने कहा कि सरकारी कर्मचारियों के नाते भी हमने आह्वान किया है कि जो 50 वर्ष से ऊपर हैं वह निश्चित रूप से अपने घर से काम करें।

उन्होंने कहा कि अगर हम ट्रेवल भी करते हैं तो ट्रैवलिंग के समय भी एक सीट छोड़ कर के बैठे इन सब निर्देश का पालन करेंगे कि एक दूसरे से हमारा संपर्क ना बने इसका जरूर ध्यान रखें।  सोशल डिस्टेंसिंग का अर्थ है हम खुद को एक दूसरे से अलग रखें सिर्फ 10 या 15 दिन की बात है और 10 से 15 दिन इन बातों का हमें पालन करना होगा। उन्होंने कहा कि यदि किसी भी व्यक्ति का कोई सुझाव है तो हमने इसके लिए प्रदेश स्तर पर एक हेल्पलाइन नंबर 8558893911  भी बनाई है ताकि कोई भी मामला हल करने के लिए अथवा कोई बात अपने कहने के या पहुंचाने के लिए हम इस हेल्पलाइन का उपयोग कर सकते हैं इस प्रकार जिला स्तर पर भी एक हेल्प लाइन बनाई गई है उसका नंबर 108 है।

उन्होंने बताया कि शाम को 5.00 बजे शहरों में सायरन की व्यवस्था की गई है और गांव में भी व्यवस्था होगी और सभी लोग अपनी थाली बजाकर, ताली बजाकर जरूरी सेवा में लगे लोगों की प्रति अपनी कृतज्ञता व्यक्त करें।  उन्होंने कहा कि ‘‘मैं विश्वास दिलाता हूं कि इन चीजों की कमी नहीं आने दी जाएगी इसकी सप्लाई पूरी सरकार की सभी व्यवस्थाएं बाजार की सभी व्यवस्थाएं सतर्क है इस काम के लिए आप संग्रह ना करें बल्कि यथार्थ समय आपको यह चीजें उपलब्ध कराई जाएंगी ऐसा आपको आश्वासन भी देता हूं कोई इसका संग्रह ना करें’’।

उन्होंने कहा कि लड़ाई लडऩे की यह भी तरीका हैं जो लोग इस लड़ाई लडऩे में आगे बढ़ गए हैं ऐसे देशों को इसका लाभ हुआ है चीन में यह बीमारी बहुत भयंकर रूप से छाई लेकिन वहां के लोगों ने बहुत से ऐसे कार्यक्रम करके अब लगातार उसमें सुधार कर रहे हैं प्रतिदिन होने वाले ऐसे केस में कमी आ रही है। उन्होंने कहा कि  ‘‘मैं विश्वास कर सकता हूं कि हम इस लड़ाई के अंदर जीतेंगे इस लड़ाई में मानव जाति इसकी जीत होगी हम सब मिलकर इसका मुकाबला करेंगे और विशेष तौर पर कल के जनता कफर्यू को हम सफल बनाएंगे यही निवेदन करने के लिए आप लोगों के सामने में आया हूं’’।

Have something to say? Post your comment
 
More Haryana News
कोरोना से निपटने के लिए सरकारी एवं गैर-सरकारी संस्थाओं, सामाजिक व धार्मिक संगठनों का सहयोग लें - राष्ट्रपति
15 अप्रैल से पहले नहीं शुरु कराएंगे फसल खरीद - हरियाणा सरकार
हरियाणा सरकार ने कैदियों की चार सप्ताह की विशेष पैरोल बढ़ाई
कोरोना वायरस: पूरे हरियाणा में लॉकडाउन लागू
कोरोना वायरस: पूरे हरियाणा में बंद लागू
मुख्यमंत्री ने कोरोना वायरस से लडने के लिए लगभग 1200 करोड़ रूपए प्रति माह की वित्तीय पैकेज की घोषणा की
7 जिलों में 31 मार्च तक लॉकडाउन
सरकार ने 2400 आइसोलेशन बैड, लगभग 6000 बैड कोरंटाइन के लिए तैयार करवाएं हैं - विज
हरियाणा में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए पूरे राज्य में धारा-144
सोनीपत, जींद और करनाल में ड्रोन्स से किए जा रहे मानचित्रण के कार्य के दायरे का विस्तार