Follow us on
Saturday, March 28, 2020
Chandigarh

चंडीगढ़ में लगा कर्फ्यू, जरूरी सामान खरीदने के लिए मिलेगी ढील

March 24, 2020 08:20 AM

चंडीगढ़ - पंजाब की ओर से कर्फ्यू लगाए जाने के बाद चंडीगढ़ प्रशासन ने भी चंडीगढ़ में सोमवार मध्यरात्रि से कर्फ्यू लगाने का फैसला ले लिया। यूटी के प्रशासक वीपी सिंह बदनौर की अध्यक्षता में हुई बैठक में सोमवार मध्यरात्रि से अगले आदेशों तक कर्फ्यू रहेगा। कर्फ्यू के दौरान सभी निवासियों को अपने घरों के अंदर ही रहना होगा। डीजीसी को सख्त हिदायतें दी गई हैं कि कर्फ्यू के दौरान किसी तरह की छूट न दी जाए।

यूटी के प्रशासक के सलाहकार मनोज परीडा ने कहा कि जरूरी सेवाओं जैसे पुलिस, मेडिकल आदि को पास जारी किए जाएंगे। पंजाब, हरियाणा और केंद्र सरकार के कर्मचारियों को संबंधित मुख्य सचिवों के माध्यम से पास जारी किए जाएंगे। पास जारी करने के बारे में फैसला चंडीगढ़ के उपायुक्त की ओर से लिया जाएगा। शहर के लोगों को जरूरी सामान खरीदने के लिए कर्फ्यू में ढील दी जाएगी।

प्रशासक के सलाहकार मनोज परीडा ने बताया कि जरूरी चीजों की सप्लाई के लिए प्रशासन ने पंजाब और हरियाणा के साथ टाईअप किया है। सूद धर्मशाला को आईसोलेटेड वार्ड बनाया जाएगा। पीजीआई में अलग से कोविड प्लेस बनाया जाएगा। अखबार के विक्रेताओं को भी हाईजीन के उचित स्तर मेंटेन करने की हिदायत दी गई है। प्रशासन की ओर से कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है जो कि 24 घंटे चलेगा। इस कंट्रोल रूम का नंबर 112 होगा। प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी राउंड द क्लाक काम करेंगे। पंजीकृत कंस्ट्रक्शन वर्कर्स को पीडीएस सिस्टम के तहत दो माह का एडवांस दिया जाएगा। कंट्रोल रूम में सोमवार पांच बजे तक कपल 100 कॉल्स रिसीव हुई हैं।

ध्यान रहे कि यूटी प्रशासन की ओर से शहर को 31 मार्च तक लॉकडाउन करने के आदेश के बाद भी सोमवार को शहर में इसका ज्यादा असर नहीं दिखा। सड़कों पर ट्रैफिक रोज के मुकाबले कम जरूर था, लेकिन लॉकडाउन में जैजी स्थिति की उम्मीद थी वैसी नहीं थी। बाजारों में जरूरी चीजों की ही दुकानें खुली थीं, लेकिन, इसके बाद भी बाजारों में भीड़ बहुत थी।

यूटी प्रशासन ने अपनी मंडियों को भी बंद करने का फैसला लिया था। लेकिन, इसके बाद भी सेक्टर-45 में सुबह अपनी मंडी लगी। सुबह ही मंडी में सब्जी खरीदने वालों की बहुत भीड़ लग गई। आलम यह था कि कुछ ही देर में पुलिस की मौजूदगी में लंबी कतारें लग गईं। बाद में जब मामला प्रशासन के अधिकारियों के संज्ञान में लाया गया तो प्रशासन ने हरतक में आते हुए मंडी को बंद करवाया।

लोगों को राहत देते हुए प्रशासन की ओर से कम्युनिटी सेंटर्स से सब्जियां और फल खरीदने की व्यवस्था की गई है जो कि सोमवार से शुरू हुई।  सेक्टरों और कालोनियों में बने कम्युनिटी सेंटर्स पर लोगों ने सुबह 10 बजे से शाम 7 बजे तक सब्जियां खरीदीं। निगम कमिश्नर केके यादव ने अपील की है कि लोग अपनी जरूरत के हिसाब से ही सब्जियां और फल खरीदें और भीड़ में जाने से बचें।

Have something to say? Post your comment
 
More Chandigarh News
चंडीगढ़ में एक और मरीज कोरोना पॉजिटिव, दुबई से लौटने के बाद नहीं हुआ था होम क्वारंटाइन
चंडीगढ़ में कर्फ्यू पास बना ‘स्टेटस सिंबल’, नेताओं से लेकर अधिकारियों में होड़
ट्राईसिटी में राहत बरकरार, पॉजिटिव केस में बढ़ोतरी नहीं
हर सेक्टर के लिए एसआरटी गठित, लोगों की समस्याएं सुन होगा समाधान
दुकान पर राशन लेने गए तो होगी कानूनी कार्रवाई, फोन करें और घर पर मंगवाएं सामान
ट्राईसिटी में राहत, पॉजिटिव केस नहीं बढ़ा, नौ संदिग्ध मरीजों की रिपोर्ट नेगेटिव
राहत : ट्राईसिटी में कोरोना का पॉजिटिव केस नहीं, संदिग्ध मरीजों की रिपोर्ट नेगेटिव
चंडीगढ़ में अब तक 6 पॉजिटिव मरीज
ट्राईसिटी में पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 10 हो गई
चंडीगढ़ के 185 लोग होम कवारेंटीन