Follow us on
Sunday, March 29, 2020
BREAKING NEWS
Punjab

कोरोना वायरस से रोजी-रोटी पर संकट / पंजाब कैडर के आईएएस देंगे एक दिन की सैलरी

March 24, 2020 08:25 AM

चंडीगढ़ - कोरोना के चलते कमजोर लोगों की आर्थिक मदद करने पंजाब कैडर के सभी आईएएस अधिकारी मुख्यमंत्री  राहत कोष में अपने एक दिन के वेतन का योगदान देंगे. राज्य में स्थिति बिगड़ती देख पंजाब सरकार ने 5 जिलों (जालंधर, पटियाला, नवांशहर, होशियारपुर और संगरूर) में लॉकडाउन कर दिया है. यह लॉकडाउन 31 मार्च तक रहेगा.

कोरोना के पंजाब में अब तक 21 पुष्ट मामले सामने आ चुके हैं जबकि 1 कोरोना मरीज की मौत भी हो चुकी है. इसी के साथ पंजाब के कैबिनेट मंत्री तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा ने कोरोना के कारण वर्तमान स्थिति में लोगों की मदद के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में अपना एक महीने का वेतन दान करने का फैसला किया है. एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना की मौजूदा हालात को देखते हुए लोगों को 31 मार्च तक घरों में रहने के लिए कहा गया है. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन की वजह से प्रदेश के कई लोगों की आजीविका पर गहरा असर पड़ेगा.

खासकर गरीब और मजदूर तबका इससे सबसे ज्यादा प्रभावित होगा. उनकी रोजी-रोटी का भी संकट पैदा हो सकता है. कैबिनेट मंत्री तृप्त बाजवा ने कहा, ऐसी स्थिति में औद्योगिक घरानों, सामाजिक और धार्मिक गुरुओं को बढ़चढ़ कर आगे आना चाहिए और संकट की इस स्थिति में लोगों की मदद करनी चाहिए. बाजवा ने लोगों से भी अपील की कि वे संक्रमितों को बचाने के लिए सरकार द्वारा उठाए गए हर कदम पर पूरा सहयोग करें.

उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी किए गए सभी निर्देशों का सावधानीपूर्वक पालन करने की जरूरत है, न कि किसी प्रकार का डर फैलाने की. पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को ज्ञापन सौंपकर एक व्यापक आर्थिक पैकेज की मांग की, ताकि राज्य में गरीब दैनिक वेतन श्रमिकों के अलावा सबसे कमजोर लोगों और अन्य प्रतिष्ठानों में कोविड-19 से उत्पन्न कठिनाई को कम किया जा सके.

Have something to say? Post your comment
 
More Punjab News
सांसद परनीत कौर का बड़ा एलान, सीएम राहत कोष में 50 लाख और प्रशासन को 20 लाख देंगी
विधायक पिंकी ने तैयार करवाए राशन के 8 हजार पैकेट, जरूरतमंद लोगों में बांटा लंगर
कोविड -19 महामारी के बढ़ते प्रकोप कारण जेलों में से 6000 कैदियों को छोड़ा जायेगा-सुखजिन्दर सिंह रंधावा
सड़कों पर दूसरे दिन भी पसरा रहा सन्नाटा
मुख्यमंत्री ने कोविड-19 से कमज़ोर वर्गों को पेश मुश्किलें घटाने के लिए केंद्र से वित्तीय पैकेज की मांग
पंजाब में कर्फ्यू लागू
पंजाब में 31 मार्च तक बंद
पंजाब से महाराष्ट्र तक दिख रहा जनता कर्फ्यू का असर
अरोड़ा ने उद्योग को कोविड-19 के फैलाव को रोकने के लिए सरकार के यत्नों में शामिल होने के लिए कहा
मुख्यमंत्री द्वारा कोविड-19 के बाद बड़ी आर्थिक मंदी आने की चेतावनी